कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने महाकालेश्वर सवारी मार्ग का निरीक्षण किया


उज्जैन।
कलेक्टर श्री आशीष सिंह एवं पुलिस अधीक्षक श्री सत्येन्द्र कुमार शुक्ल ने आज प्रशासनिक अमले के साथ श्रावण एवं भादौ माह की निकलने वाली भगवान महाकालेश्वर की सवारी के पारम्परिक मार्ग का निरीक्षण किया। उन्होंने श्री महाकालेश्वर मन्दिर के बाहर शहनाई द्वार से लगे क्षेत्र में चल रहे निर्माण कार्यों को देखा एवं उज्जैन विकास प्राधिकरण को निर्देश दिये कि वे शहनाई द्वार से सवारी को बाहर लाने के लिये व्यवस्थित रैम्प बनायें। रैम्प निर्माण का कार्य आगामी एक सप्ताह में पूर्ण करें। आसपास के गड्ढों की फिलिंग की जाये एवं टीन की चद्दरों से असुरक्षित क्षेत्र को ढंका जाये, जिससे श्रद्धालुओं को किसी तरह की हानि न हो। कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने पैदल ही सम्पूर्ण सवारी मार्ग का निरीक्षण किया एवं एक-एक स्थान पर जाकर व्यवस्थाओं के बारे में दिशा-निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान नगर निगम आयुक्त श्री अंशुल गुप्ता, एडीएम श्री संतोष टैगोर, एएसपी श्री इंद्रजीत बाकलवार, सीएसपी श्री विनोद मीणा एवं अन्य अधिकारी मौजूद थे।

कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने महाकाल मन्दिर परिसर से निरीक्षण प्रारम्भ किया और गुदरी चौराहा, पानदरीबा, रामानुजकोट, रामघाट एवं इसके बाद रामघाट से ढाबा रोड होते हुए गोपाल मन्दिर व पटनी बाजार होकर गुदरी चौराहे पर निरीक्षण समाप्त किया। कलेक्टर ने गुदरी, हरसिद्धि की पाल, रामघाट, गोपाल मन्दिर आदि स्थानों पर व्यवस्थित बैरिकेटिंग करने एवं समस्त सवारी मार्ग में बेरिकेटिंग की व्यवस्था करने के निर्देश दिये। उन्होंने सवारी मार्ग में कच्चे मकानों पर दर्शनार्थियों को न चढ़ने देने के लिये कहा है। कलेक्टर ने सवारी मार्ग पर पड़ने वाले सभी बिजली के खंबों को शीट से कवर करने के निर्देश दिये हैं, जिससे कि श्रद्धालुओं को करंट आदि लगने का भय न हो। उन्होंने विद्युत विभाग को मार्ग में क्रॉस हो रहे विद्युत के अनावश्यक तारों को हटाने के लिये भी कहा है। कलेक्टर ने सवारी के दौरान सवारी निकलने के एक दिन पूर्व व सवारी वाले दिन सम्पूर्ण मार्ग की साफ-सफाई, गर्मी होने पर मार्ग में जल का छिड़काव करने व मार्ग को क्लियर करने के लिये नगर निगम को निर्देशित किया है।

भगवान श्री महाकालेश्वर की पहली सवारी 18 जुलाई को श्रावण एवं भादौ मास में निकलने वाली भगवान श्री महाकालेश्वर की सवारी के क्रम में प्रथम सवारी 18 जुलाई को निकाली जायेगी। द्वितीय सवारी 25 जुलाई को, तृतीय सवारी एक अगस्त को, चतुर्थ सवारी 8 अगस्त को, 15 अगस्त को पांचवी सवारी और 22 अगस्त को शाही सवारी निकाली जायेगी। नागपंचमी पर्व 2 अगस्त को आयोजित होगा।

Comments
Popular posts
वार्षिक विवरणी ऑनलाइन दाखिल करने के लिए पंजीकरण अनिवार्य
Image
अवंतिकानाथ राजाधिराज भगवान महाकाल राजसी ठाट-बाट के साथ नगर भ्रमण पर निकले; भगवान महाकाल ने भक्तों को चारों रूप में दिये दर्शन
Image
मोक्षदायिनी माँ क्षिप्रा....जानें, कैसे प्रसिद्ध हुआ मोक्षदायिनी नदी का नाम क्षिप्रा ?
Image
श्री महाकालेश्वर मंदिर में संध्या आरती पश्चात होलिका का दहन हुआ संपन्‍न
Image
कुक्कू ओटीटी ऐप ने अपने एस्टीम्ड सब्सक्राइबर्स के लिए नए साल में एंटरटेनिंग वेब सीरीज की कतार लगाई
Image