एसबीआई जनरल ने किसानों की मदद के लिए घर तक फसल बीमा पॉलिसी का वितरण करने वाली मेगा पहल “मेरी पॉलिसी मेरे हाथ” को लागू किया


मुंबई।
 भारत की प्रमुख जनरल इंश्योमरेंस कंपनियों में से एक एसबीआई जनरल ने पीएमएफबीवाय (प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना) पॉलिसी वितरण की मेगा पहल ‘मेरी पॉलिसी मेरे हाथ’ को लागू किया है। ‘मेरी पॉलिसी मेरे हाथ’ पहल की शुरुआत किसानों की मदद करने के लिए ‘आजादी का अमृत महोत्सिव’ अभियान के अंतर्गत कृषि एवं कृषक कल्याणण मंत्रालय द्वारा की गई है। 

इस अभियान का मुख्य उद्देश्य भारत के दूरदराज गांवों तक पहुंचना और किसानों को फसल बीमा के फायदों के बारे में शिक्षित करना है। इस पॉलिसी में उन्हें प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल का नुकसान होने या उसे क्षति पहुंचने की स्थिति में वित्ती्य सहायता मुहैया कराई जाएगी। किसानों के दरवाजे तक पॉलिसी का वितरण करना एक अनूठी पहल है जिसमें फसल बीमा पॉलिसी की फिजिकल कॉपी उन किसानों को बांटी जाएंगी जिनका नामांकन ग्राम पंचायत या ग्राम स्तलर पर विशेष शिविरों के माध्यटम से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाय) में हुआ है। पॉलिसी की प्रति के अलावा, एसबीआई जनरल पीएमएफबीवाय के बारे में एफएक्यूम की भी प्रति वितरित करेगा ताकि किसानों को योजना को बेहतर ढंग से समझने में मदद मिले। पॉलिसी की प्रति में टॉल-फ्री नंबर और वेबसाइट की जानकारी भी दी जाएगी ताकि किसान किसी भी आपदा के घटने पर अपने दावों का संकेत दे सकें।

श्री पीसी कांडपाल, एमडी एवं सीईओ, एसबीआई जनरल इंश्योीरेंस ने कहा, “एसबीआई जनरल में हम हमेशा भारत और इंडिया दोनों पर बराबर ध्या न देने की कोशिश करते हैं। भारत की बात करें तो हमारी जड़ें देश के कोने-कोने से जुड़ी हुई हैं, इस तरह हम सुनिश्चित करते हैं कि ग्रामीण समुदायों के लिए सही बीमा कवर प्रदान कर सकें। इसी दृष्टिकोण के अनुरूप, एसबीआई जनरल पिछले 6 सालों से पीएमएफबीवाय के साथ जुड़ा हुआ है। हमें खुशी है कि हमने ‘मेरी पॉलिसी मेरे हाथ’ पहल को आगे बढ़ाकर और किसानों को सशक्तस बनाने में सरकार को सहयोग देकर इस प्रतिबद्धता को और मजबूत किया है।”

एसबीआई जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड के विषय में : 

एसबीआई जनरल सबसे तेज वृद्धि करने वाली निजी सामान्यक बीमा कंपनियों में से एक है। इसे भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) का सुदृढ़ संरक्षण प्राप्त है। एसबीआई जनरल इंश्योरेंस में हम भरोसे और सुरक्षा की परम्परा को आगे बढ़ाने के प्रति वचनबद्ध है; यह बदलते भारत के लिए सर्वाधिक भरोसेमंद सामान्ये बीमा कंपनी बनने की दूरदृष्टि रखती है।

हमारी स्थापना वर्ष 2009 में हुई थी और वर्ष 2011 में हमारी 17 शाखाएं थीं। आज हम 137 से अधिक शाखाओं के साथ पूरे भारत में मौजूद हैं। अभी तक हमारे ग्राहकों की संख्या 8.7 करोड़ पर पहुँच चुकी है। 

हम एक मजबूत बहु-वितरण मॉडल का अनुसरण करते हैं जिसमें बैंकाश्योरेंस, एजेंसी, ब्रोकिंग और रिटेल डायरेक्ट चैनल सम्मिलित हैं। वितरण नेटवर्क के मोर्चे पर एसबीआई के 22000 से अधिक शाखाओं का नेटवर्क, एजेंट्स और अन्य वित्तीय, ओईएम एवं डिजिटल पार्टनर्स के साथ हमारे पास सुदृढ़ वितरण सहयोगी हैं जो भारत के कोने-कोने में हमारी पहुँच बढ़ाते हैं। 

हम फिलहाल तीन मुख्य ग्राहक वर्गों को सेवा प्रदान कर रहे हैं। ये वर्ग हैं रिटेल सेगमेंट (व्यक्तियों और परिवारों के लिए); कॉर्पोरेट सेगमेंट (मझोले से लेकर बृहत् आकार की कंपनियों के लिए) और एसएमई सेगमेंट। हम भारतीयों की बढ़ती ज़रूरतों के अनुकूल सेवा के लिए किफायती कीमतों पर अत्याधुनिक पद्धतियों और सेवाओं के साथ भविष्य-तत्पर हैं।

एसबीआई जनरल इंश्योरेंस ने वित्त वर्ष 2020-21 में 22% वृद्धि के साथ 8312 करोड़ रुपये का सकल लिखित प्रीमियम (GWP) प्राप्त किया था। इसके शुद्ध लाभ में 32% तक वृद्धि हुई थी। कंपनी ने पिछले 4 वर्षों से लगातार वृद्धि दर्ज की है और बीमांकन (अंडरराइटिंग) का सकारात्मक ट्रैक रिकॉर्ड बहाल रखा है।

Comments
Popular posts
अवंतिकानाथ राजाधिराज भगवान महाकाल राजसी ठाट-बाट के साथ नगर भ्रमण पर निकले; भगवान महाकाल ने भक्तों को चारों रूप में दिये दर्शन
Image
मोक्षदायिनी माँ क्षिप्रा....जानें, कैसे प्रसिद्ध हुआ मोक्षदायिनी नदी का नाम क्षिप्रा ?
Image
आदित्य अनमोल ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर पर लिखी किताब और कहा उनका जीवन युवाओं के लिए मार्गदर्शक हो सकता है
Image
राजाधिराज भगवान श्री महाकाल महाराज निकले राजसी ठाठ बाट से; देखें शाही सवारी लाइव
Image
सोयाबीन प्लांट उज्जैन के कर्मचारियों का प्रतिनिधि मंडल मुख्यमंत्री से मिला
Image