सर्वश्रेष्ठ एंटरटेनमेंट प्लेटफॉर्म्स की कतार में सबसे आगे ट्रूपल डॉट कॉम

इंदौर।
नोवेल कोरोनावायरस महामारी गतवर्षों में लोगों के हाथों से बहुत कुछ छीनकर ले गई है। संपूर्ण एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री को लॉकडाउन के दौरान कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। समाधान के रूप में ऑनलाइन एन्वायर्नमेंट की ओर ध्यान देना समय की आवश्यकता थी। इस आवश्यकता का अवसर के रूप में सदुपयोग करते हुए देश के अग्रणी इलेक्ट्रॉनिक चैनल और न्यूज़ प्लेटफॉर्म, ट्रूपल डॉट कॉम (Troopel.com) ने लोगों को अपनी प्रतिभा देश के सामने लाने के लिए एक विस्तृत मंच प्रदान किया। कोविड काल के दौरान दर्शकों की पहली पसंद के रूप में निखरे इस प्लेटफॉर्म के अंतर्गत कई अहम् प्रतियोगिताओं, जैसे जूनियर जगजीत सिंह, ओपन माइक, बुंदेली शेफ, बुंदेली बावरा, बुंदेली मेस्ट्रो और हाल ही में इंडियाज़ रीजनल पीआर अवॉर्ड्स (आईआरपीआरए) का आयोजन किया गया। इसके अंतर्गत देश के अलग-अलग कोनों से प्रतिभाओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया और पूरे देश में अपना हुनर दिखाकर अलग पहचान बनाई।
ट्रूपल के वीडियो प्रोडक्शन मैनेजर, आसिफ पटेल कहते हैं, "लॉकडाउन के तहत समाज से भावनात्मक रूप से जुड़े रहने का एकमात्र माध्यम डिजिटल ही बचा था। हमें विश्वास था कि यही वह समय है, जब डिजिटल परिप्रेक्ष्य की नींव रखी जा सकती है, और यह सच भी साबित हुआ। इन प्रतियोगिताओं का आयोजन न केवल एंटरटेनमेंट के उद्देश्य से, बल्कि लोगों को कोविड के समय में अवसाद, चिंता और निराशा से लड़ने में मदद करने के लिए किया गया था, और यही धारणा आगामी प्रतियोगिताओं में भी शामिल रहेगी, क्योंकि हमारे शोज़ अपने दर्शकों को आत्मविश्वास और प्रतिस्पर्धी भाव से मजबूत करने के लिए प्रतबद्ध हैं।"
उपरोक्त कथित कुछ ऐसे वर्चुअल इवेंट्स हैं, जो ट्रूपल कोविड के समय से आयोजित कर रहा है। बुंदेली शेफ एक ऑनलाइन कुकिंग प्रतियोगिता थी, जबकि जूनियर जगजीत सिंह का उद्देश्य देश के छिपे हुए गज़ल गायकों को सामने लाना था। बुंदेली बावरा शो ने बुंदेली लोक गायकों को मान्यता दी, और वहीं बुंदेली मेस्ट्रो ने बुंदेलखंड की अभिनय के प्रति अपनी प्रतिभा देश के सामने लाने के लिए एक बड़ा मंच दिया। इसके अलावा, ट्रूपल रीजनल कम्युनिकेशन इंडस्ट्री में उनके निरंतर प्रयासों के लिए रीजनल पीआर प्रैक्टिशनर्स को पहचानने और उनकी सराहना करने के लिए हाल ही में इंडियाज़ रीजनल पीआर अवॉर्ड्स (आईआरपीआरए) का भी हिस्सा बना। ट्रूपल हमेशा से ही अपने शोज़ के माध्यम से उन लोगों के लिए मील का पत्थर साबित होता आया है, जो अपने जुनून या शौक को खोजना या पुनः जीवंत करना चाहते हैं। इस प्रकार अभूतपूर्व समय में ट्रूपल डॉट कॉम एंटरटेनमेंट के नए चेहरे के रूप में उभरकर सामने आया है।
Comments
Popular posts
काश! मैं भी बॉस होता के सपने को साकार करता है पीआर 24x7
Image
पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का चमकौर साहिब से न्यूज़18 इंडिया के मैनेजिंग एडिटर किशोर अजवानी के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत
Image
ज़ी बॉलीवुड पर होगा जश्न का धमाल क्योंकि 24 जनवरी को शानदार फिल्म ‘विश्वात्मा’ पूरे कर रही है 30 साल
Image
एसबीआई जनरल इंश्योरेंस ने सड़क सुरक्षा पर शुरू किया एक विशिष्ट और अनूठा जागरूकता अभियान
Image
इंतजार की घड़ियाँ खत्म; भूषण कुमार का 'वफा ना रास आई' हुआ रिलीज, जुबिन नौटियाल द्वारा गाए गए इस सॉन्ग में हिमांश कोहली और आरुषि निशंक ने किया है अभिनय
Image