कोरोना को चुनौती देती डॉ.एम.डी.सिंह की कविता


समय कुटिल साधना होगा
जीवन को बांधना होगा

युद्ध मृत्यु से हो चाहे
कठोर अनित्य से हो चाहे
मनुज हारा नहीं अभी तक
संघर्ष अभित्य से हो चाहे

उसे अवश्य हारना होगा
जीवन को बांधना होगा

कोरोना कौन है आखिर 
कहां है पूंछ किधर है सिर
कहां छुपी जान है उसकी
कैसे जी उठ रहा फिर फिर

हमको यह जानना होगा
जीवन को बांधना होगा

अजर है जो जर नहीं सके
अमर है जो मर नहीं सके
हाल अश्वत्थामा सा करें 
रहे कुछ भी कर नहीं सके

कलंक माथ साटना होगा
जीवन को बांधना होगा

रावण को भी पड़ा जाना
हिरणकश्यप भी नहीं माना
महिषासुर भी मरा आखिर 
हुआ व्यर्थ उसे अभय पाना 

कुछ भी बन मारना होगा
जीवन को बांधना होगा



 -डॉ.एम.डी.सिंह 
 महाराजगंज गाजीपुर उत्तर प्रदेश
Comments
Popular posts
मुंबई में 2008 में हुए आतंकी हमले की आज 13वीं बरसी, सोशल मीडिया पर लोग दे रहे श्रद्धांजलि
Image
पार्षद प्रत्याशियों की अधिकृत सूची जारी, सूची में देखें किस वार्ड से कौन है भाजपा का प्रत्याशी
Image
लोगों की बुनियादी समस्याएं हमारी प्राथमिकता - अपना दल (एस) समर्थित निर्दलीय महापौर प्रत्यासी कैलाश गावंडे
Image
महापौर एवं पार्षद पद उम्मीदवारों की सूची; देखें कौन–कौन उम्मीदवार है, जिन्होंने नामांकन वापिस नहीं लिया
Image
सेंट-गोबेन इंडिया ने रायपुर में अपने एक्‍सक्‍लूसिव ‘माय होम’ स्‍टोर का अनावरण किया
Image