आज की बात आपके साथ - विजय निगम

           ।।ॐ गं गणपतये नमः।।
ॐजयंती मंगला काली भद्रकाली कृपालिनी
 दुर्गा क्षमा शिवाधात्री स्वाहा स्वधा नमोस्तुते
 महिषासुर निर्णाशी भक्तानाम सुखदे नम:
 रुपं देही जयं देही यशो देही दिशो जहि।
            श्री चित्रगुप्ताय नमो नमः।।
🌻💐🌹🌲🌱🌸💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐
प्रिय साथियो। 
🌹राम-राम🌹 
🌻 नमस्ते।🌻
   आज की बात आपके साथ मे आज नवरात्रि त्योहार के सप्तमी दिवस जो की काल रात्रि देवी के स्वरुप का दिवस हे आज माताके कालिरात्रि देवी या महाकाली देवी स्वरुपको नमन करते हुवे आज दिनांक 23अक्टूबर 2020 शुक्रवार प्रातः की बेला में हार्दिक वंदन है अभिनन्दन है।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐💐🌻
आज की बात आपके साथ  अंक मे है 
A कुछ रोचक समाचार
B आज के दिन जन्मी भारत के कन्नड राज्य के कित्तूरराज्य की महारानी रानी चेनम्मा का जीवन परिचय
C आज के दिन   की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ
D आज के दिन जन्म लिए महत्त्वपूर्ण    
    व्यक्तित्व
E आज के निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व।
F आज का दिवस का नाम ।
🌻💐🌲🌸🌲🌻💐🌲🌸🌻💐🌲🌸💐
         (A) कुछ रोचक समाचार(संक्षिप्त)
🍁(A/1)अफ़ग़ानिस्तान से पाकिस्तान कावीसा
लेने के लिये वीसा केंद्र पर पहुंचे हजारो लोग :
भगदाड़ होने से हुई 12महिलाओ की मौत🍁
🌺(A/2)बंगाल मे दुर्गा पूजा आध्यात्मिक एकता व  शान्ति का प्रतिक:-बोले पी एम नरेंद्र मोदी।🌺
🍁(A/3)वर्कफ्रॉम होम के हे कुछ साइड इफेक्ट
इन5जगह पर होने वाले दर्द को जानिए व इलाज  किजीये।🍁
🌺(A/4)अमिताभ बच्चन ने किया KBC मे एलान:-अपने पेत्रिक गांव "बाबू पट्टी" मे विकास का करायेंगे काम; अमिताभ ने कई सालों से अपने पैतृक गांव की सुध तक नही ली।🌺
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐
  🕸(A)कुछ रोचक समाचार(विस्तृत)🕸
🍁(A/1)अफ़ग़ानिस्तान से पाकिस्तान कावीसा
लेने के लिये वीसा केंद्र पर पहुंचे हजारो लोग :
भगदाड़ होने से हुई 12महिलाओ की मौत🍁
काबुल। अफगानिस्तान में बीते कई दिनों से एक के बाद एक आतंकी हमले हो रहे हैं,जिसमें अब
तकदर्जनों लोगों की मौत हो चुकी है।वहींकोरोना
महामारी  से पूरी दुनिया जूझ रही है और तमाम देशों में लॉकडाउन या कर्फ्यू लागू होने की वजह से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।पड़ोसी मुल्क अफगानिस्तान में इसी कड़ी में एकबड़ी घटना घटी है।दरअसल,बीते करीब सात महीने बादपाकिस्तान के लिए वीजा आवेदन की प्रक्रिया शुरू की गई। पाकिस्तानी वीजा लेने के लिए हजारों लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। देखते ही देखते वीजा केंद्र पर भगदड़ मच गई और इस घटना में 12 महिलाओं की मौत हो गई, जबकि दर्जनों लोग घायल हो गए।तखार प्रांत में सुरक्षा
कर्मियों पर बड़ा आतंकी हमला, 25 जवानों की मौतअफगानिस्तान के नंगरहार प्रांत में सरकार के एक प्रवक्ता अत्ताउल्लाह खोगयानी के हवाले से टोलोन्यूज नेअपनी रिपोर्ट में बताया है कि यह 
घटनाजलालाबाद शहरस्थित पाकिस्तान केवाणि
ज्य दूतावास के करीब हुई। हजारों की संख्या में लोग पाकिस्तान का वीजा लेने के लिए सामान्य वीजाकेंद्र के बाहर इक्ट्ठा हुए थे।पाकिस्तानी दूता
वासने घटना पर जताया दुखअफगानिस्तान के जलालाबाद शहर स्थित सामान्य वीजा केंद्र के बाहर हजारों लोग इकठ्ठा हुए।इस में भारी संख्या में महिलाएं भी वीजा लेने पहुंची थीं। बढ़ते भीड़ को कंट्रोल करने के लिए अधिकारियों ने लोगों से पास के ही स्पोर्ट्स स्टेडियम में जाने का आदेश दिया।इसके बाद वीजा आवेदकअपने टोकन को सुरक्षितकरने केलिए जोर-आजमाइशकरने लगे। इसीबीच धक्कामुक्की शुरू हो गई और देखते ही देखतेभगदड़ मच गई, जिसमें कुचलकर 12 महि
लाओं की मौत हो गई।इस घटना को लेकर पाकि
-स्तानी दूतावास ने दुख जताया है। दूतावास ने ट्वीटकरतेहुएकहा'पाकिस्तानी वाणिज्यदूतावास
से 5 किलोमीटर दूर जलालाबाद के एकस्टेडियम
 में अफगान के प्रांतीय अधिकारियों द्वारा वीजा आवेदकों के लिए किए गए आयोजन में हताहतों की मिली खबर पर गहरा दुख हुआ है। हम पीड़ित परिवारों के प्रति सहानुभूति रखते हैं।’
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻💐
🌺(A/2)बंगाल मे दुर्गा पूजा आध्यात्मिक एकता व  शान्ति का प्रतिक:-बोले पी एम नरेंद्र मोदी।🌺
 दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पश्चिम बंगाल के कोलकाता दुर्गा पूजा समारोह में शामिल हुए। इस मौके पर पश्चिम बंगाल के लोगों ने पीएम का स्वागत शंख बजाकर किया। पीएम मोदी ने इस बात की जानकारी ट्विट कर दी है।
उन्होंने अपने ट्विट में सभी पश्चिम बंगाल सहित सभी देशवासियों को शुभकामनाएं देते हुए महा अष्टमी पूजा में शामिल होने पर खुशी का इजहार किया है।उन्होंनेलोगों से कहा किमां दुर्गा केआर्शी
वाद से आज आप लोगों से मुझे जुड़ने का मौका मिला है। आज पूरा देश खासकर संपूर्ण पश्चिम बंगाल मां दुर्गा की भक्ति में डूबा है। उन्होंने कहा किदुर्गापूजा देश की एकता का प्रतीक है।बीजेपी 
के चूनावी अभियान का शंखनाद किया पी एम मोदी नेपश्चिमबंगालदूर्गा पूजाहोनेऔर वर्चुअल
वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए रैली में शामिलहोने 
केसाथ ही 2021विधानसभा चुनाव के लिएपार्टी के चुनावी अभिया का शंखनाथ भी कर दिया है।
भारत को आत्मनिर्भर बनाने में महिलाओं की भूमिका अहमवर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 22 करोड़ महिलाओं के बैंक खाते खोलने का काम हो या मुद्रायोजनाके तहत करोड़ों महिलाओंको आसान ऋण देने का मामला, बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान हो या फिर तीन तलाक के खिलाफ कानून,केंद्र सरकार की ओर से महिला सशक्ति
करण का काम लगातार जारी है। उन्होंने कहा कि इस मामले में भारत ने नया संकल्प लिया है। आत्मनिर्भर भारत के जिन अभियान पर हम निकले हैं उसमें भी महिला सशक्तिकरण की बड़ी भूमिका होने वाली है।
    🍁दूर्गा पूजा जागृत चेतना का प्रतीक🍁🌳
ने पश्चिम बंगाल के महान शख्यितों में रामकृष्ण परमहंस, स्वामी विवेकानंद, रवींद्रनाथ टैगोर, बंकिमचंद्र चट्टोपाध्याय, शरद चंद्र चट्टोपाध्याय, ईश्वरचन्द्र विद्यासागर, गुरुचंद ठाकुर, हरिचंद ठाकुर, पंचानन बरमा का नाम लेते कहा कि इन लोगों ने देशभर में नई चेतना पैदा की। इसी तरह नेताजी सुभाष चंद्र बोस, श्यामा प्रसाद मुखर्जी, शहीद खुदीराम बोस, शहीद प्रफुल्ल चाकी, सूर्य सेन, बाघा जतिन जैसे आंदोलनकारियों को जन्म देने के लिए पश्चिम बंगाल की धरती का नमन किया। मोदी ने कहा कि देश को जब भी महान व्यक्तित्वों जरूरत पड़ी बंगाल की भूमि उसे पूरा किया।
पीएम ने कहा कि यहां की दुर्गा पूजा उसी परंपरा और आध्यामिकता का प्रतीक है जो बंगाल की जागृत चेतना का, बंगाल की आध्यात्मिकता का, बंगाल की ऐतिहासिकता का प्रभाव है।
78 हजार बूथों पर कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे हैं
पीएम नरेंद्र मोदी राज्य के 294 निर्वाचन क्षेत्रों के प्रत्येक बूथ पर टेलीकास्ट होने वाले राज्य के लोगों को भी संबोधित कर रहे है। उन्होंने इस अवसर पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की है। पीएम मोदी के वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधन को पश्चिम बंगाल के 78 हजार से ज्यादा बूथों पर प्रसारित किया जा रहा है।
         🍁बुराई पर अच्छाई की जीत🍁
पीएम मोदी ने कहा कि दुर्गा पूजा वह शुभ अवसर है जब बुराई पर अच्छाई की जीत का जश्न मनाया जाता है। हम मां दुर्गा से प्रार्थना करते हैं कि वे हमें शक्ति, खुशी और अच्छे स्वास्थ्य के लिए आशीर्वाद दें।
🌻💐🌹🌲🌱🌸प🌲🌹💐💐🌻💐
🍁(A/3)वर्क फ्रॉम होम  के हे कुछ साइड इफेक्ट।इन 5 जगह पर होने वाले दर्द को जानिए व इलाज किजीये। 🍁
   वर्क फ्रॉम होम  के हे कुछ साइड: कोरोना वायरस से पहले हमारे काम का तरीका अलग होता था।कोविड-19 के कारन रोग से बचाव हेतू      कर्मचारियो को घर से काम करनेके लिये बाध्य किया हे। अधिकारियों ने भी अपने सहयोगी, पेशेवरों के साथ काम करने के तरीके को बदल दिया है। घर से काम करने के अपने फायदे हैं,तो कुछ चुनौतियों भी है। हम करीब 6 महीने से घर से ही काम कर रहे हैं।टेबल,कुर्सी कीजगह अब काउच और बिस्तर ने ले ली है। कुर्सी पर सीधा बैठना, कंप्यूटर स्क्रीन पर घंटों तक काम करना, पीठ दर्द, कंधे का दर्द, कूल्हे का दर्द और जोड़ों के दर्द जैसी सामान्य समस्याएं हो सकती हैं। सर्वे केअनुसार, 213 में से 92 प्रतिशत काइरोप्रैक्टर्स ने बतायाथा कि स्टे एट होम ऑर्डर के बाद गर्दन, कमर दर्द या दूसरे शारीरिक दर्द के मरीज बढ़े हैं।
                 🍁पीठ दर्द🍁
अधिकतर लोग पीठ दर्द से परेशान रहते हैं। लंबे समय तक बैठना या लेटना, असहज स्थिति में सोना, अचानक तनावपूर्ण आंदोलन, असहज कुर्सी पर बैठना या मांसपेशियों में खिंचाव की कारण हो सकते है। पीठ दर्द का इलाज दर्द निवारक, मांसपेशियों को आराम देने वाले, अवसाद रोधी और इंजेक्शन और चिकित्सा के माध्यम से किया जा सकता हे।
                 🍁कंधे का दर्द🍁
हमारे कंधों में गति की एक विस्तृत श्रृंखला है, अगर कुछ भी होता है, तो यह असुविधा का कारण बन सकता है और कभी-कभी बहुत दर्द हो सकता है। आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। उपचार के विकल्प दर्द के कारण और गंभीरता पर निर्भर करेंगे। जबकि कुछ को शारीरिक या व्यावसायिक चिकित्सा की आवश्यकता होती है। अगर आपको बिना किसी चोट के अचानक कंधे में दर्द का अनुभव होता है, तो तुरंत डॉक्टर को बुलाएं। यह दिल के दौरे का संकेत हो सकता है।
                  🌹कूल्हे का दर्द🌹
अधिक समय तक एक ही जगह पर बैठे रहने से कूल्हे का दर्द हो सकता है। हालांकि, सूजन, फ्रैक्चर और अति प्रयोग जैसी चीजें भी दर्द का कारण बन सकती हैं। आम तौर पर, कोई ओवर-द-काउंटर दर्द की दवा या यहां तक कि 15 मिनट तक बर्फ रखने से दर्द से राहत पा सकता है। हालांकि अगर दर्द बना रहता है, तो अपने चिकित्सक से मिलने की सिफारिश की जाती है।
             🍁रीढ़ की हड्डी का दर्द🍁
 कोरोना संक्रमण के दौर में वर्क फ्राम होम (घर से काम) कर रहे लोगों में रीढ़ की हड्डी का दर्द तेजी से बढ़ी है। इससे नए मामले में 50 फीसद से अधिक की वृद्धि हुई है। हालांकि, अगर आपको 2 सप्ताह की देखभाल के बाद भी दर्द दूर नहीं होता है, तो सलाह दी जाती है कि टेस्ट करवाए। इसी तरह, अगर दर्द तीव्र है और आपको अपने दैनिक कार्यों को करने से रोकता है, तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए क्योंकि यह एक गंभीर समस्या का संकेत हो सकता है।
               🍁घुटने का दर्द🍁
घुटने हमारे शरीर के सबसे बड़े और सबसे जटिल जोड़ों में से एक हैं। यह एक आम शिकायत है जो सभी उम्र के लोगों को प्रभावित करती है। कोई भी गतिविधि जहां आप अचानक या गिरते हैं, घुटने पहले प्रभाव से ग्रस्त हैं। अधिकांश घुटने केखुद देखभाल के उपायों से ठीक हो सकते हैं।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻💐
🌺(A/4)अमिताभ बच्चन ने किया KBC मे एलान:-अपने पेत्रिक गांव "बाबू पट्टी" मे विकास का काम करायेंगे ।अमिताभ ने कई सालों से अपने पैतृक गांव की सुध तक नही ली।🌺
नई दिल्ली। टीवी का लोकप्रिय शो कौन बनेगा करोड़पति का नया सीज़न टीवी पर शुरू हो चुका है। सदी के महानायक अमिताभ बच्चन एक बार भी अपनी दमदार आवाज़ के साथ देवियों और सज्जनों का स्वागत करते हुए दिखाई दे रहे हैं। शो में हिस्सा ले रहे कंटेस्टेंट की जिंदगी से जुड़ी कई कहानियां सुनने को मिल रही हैं। जो लोगों की आंखों को नम तो करती है, लेकिन साथ में जिंदगी को जीने की प्रेरणा भी देती है। वहीं बीते एपिसोड में अमिताभ बच्चन ने भी सबके सामाने एक ऐलान कर दिया है। जिसकी चर्चा अब हर जगह हो रही है।
दरअसल, शो के दौरान कंटेस्टेंट अंकिता एक सवाल पर अटक गई थीं। जिसके बाद उन्होंने हेल्पलाइन ‘वीडियो कॉल ए फ्रेंड’ का इस्तेमाल किया था। इस दौरान अंकिता के रिश्तेदार ने अमिताभ बच्चन को उनके गांव की याद दिलाई। जिस पर अमिताभ बच्चन ने कहा कि यह काफी संयोग की बात है कि वह भी कुछ दिन पहले अपने परिवार से कह रहे थे कि उन्हें उनके पैतृक गांव 'बाबू पट्टी' में कुछ काम करवाना है। जिसके बाद उन्होंने ऐलान किया कि वह अपने अपने गांव में कुछ अच्छा काम करवाएंगे। जैसे कि स्कूल बनवाना इत्यादि। आपको बता दें अक्सर अमिताभ बच्चन पर इस बात को लेकर आरोप लगते रहे हैं कि उन्होंने मुंबई जाने के बाद कभी भी अपने पैतृक गांव की सुध नहीं ली है।
कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक अमिताभ बच्चन पर यह आरोप लगता रहा है कि उन्होने अपने पूर्वजों के गांव की कभी सुध नहीं ली। जया बच्चन इस गांव में 14 साल पहले आईं थीं। जबकि बच्चन परिवार का कोई सदस्य अभी तक इस गांव में नहीं आया है। लेकिन अब अमिताभ बच्चन की इस बात को सुन ‘बाबू पट्टी’ के लोगों में खुशी का माहौल है। उन्हें अपने गांव के लिए उम्मीद की किरण मिली है।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐 💐(B)आज के दिन जन्मी भारत के कन्नड राज्य के कित्तूर राज्य की महारानी रानी चेनम्मा का .जीवन परिचय
         💕 🌹 रानी चेनम्मा 🌹💕
         🌻जीवन परिचय  लेख.🌻 
रानी चेनम्मा  (1778 - 1829) भारत के कर्नाटक के कित्तूर राज्य की रानी थीं। सन् 1824में (सन् 1857 के भारत के स्वतंत्रता के प्रथम संग्राम से भी 33 वर्ष पूर्व) उन्होने हड़प नीति (डॉक्ट्रिन ऑफ लेप्स) के विरुद्ध अंग्रेजों से सशस्त्र संघर्ष किया था। संघर्ष में वह वीरगति को प्राप्त हुईं। भारत में उन्हें भारत की स्वतंत्रता के लिये संघर्ष करने वाले सबसे पहले शासकों में उनका नाम लिया जाता है।
               💕रानी चेन्नम्मा💕
      0जन्म नाम:-रानी चेन्नम्मा
जन्म:-चेन्नम्मा
जनम दिनांक:-23 अक्टूबर 1778
काकती, बेलगाँव तहसील, बेलगाँव जिला, मैसूर, ब्रितानी भारत
मृत्यु;-21 फ़रवरी 1829 (उम्र 50)
मृत्यु स्थल:-बैलहोंगल तहसील, बेलगाँव, मैसूर, ब्रितानी भारत
राष्ट्रीयता:-भारतीय
अन्य नाम:-रानी चेन्नम्मा, 
कित्तूर रानी चेन्नमा
प्रसिद्धिकारण:-1824ब्रिटिशईस्टइंडिया
कंपनी के खिलाफ विद्रोह
रानी चेनम्मा के साहस एवं उनकी वीरता के कारण देश के विभिन्न हिस्सों खासकर कर्नाटक में उन्हें विशेष सम्मान हासिल है और उनका नाम आदर के साथ लिया जाता है। झांसी की रानी लक्ष्मीबाई के संघर्ष के पहले ही रानी चेनम्मा ने युद्ध में अंग्रेजों के दांत खट्टे करदिएथे।हालांकि उन्हें युद्धमेंकामयाबीनहीं मिलीऔर उन्हें कैद कर लिया गया।अंग्रेजोंके कैदमें ही रानी चेनम्मा का
निधन हो गया।
                  🌻 जीवनी 🌻
कर्नाटक में बेलगाम के पास एक गांव ककती में 1778 को पैदा हुई चेन्नम्मा के जीवन में प्रकृति ने कई बार क्रूर मजाक किया। पहले पति का निधन हो गया। कुछ साल बाद एकलौते पुत्र का भी निधन हो गया और वह अपनी मां को अंग्रेजों से लड़ने के लिए अकेला छोड़ गया।
बचपन से ही घुड़सवारी, तलवारवाजी, तीरंदाजी में विशेष रुचि रखने वाली रानी चेन्नम्मा की शादी बेलगाम में कित्तूर राजघराने में हुई। राजा मल्ला
सरता की रानी चेनम्मा ने पुत्र की मौत के बाद शिवलिंगप्पा को अपना उत्ताराधिकारी बनाया। अंग्रेजोंनेरानी केइस कदम को स्वीकार नहींकिया
औरशिवलिंगप्पा को पद से हटाने का का आदेश दिया।यहीं से उनका अंग्रेजों से टकराव शुरू हुआ और उन्होंने अंग्रेजों का आदेश स्वीकार करने से इनकारकर दिया।अंग्रेजों की नीति 'डाक्ट्रिनऑफ
लैप्स'के तहत दत्तक पुत्रों को राज करने का अधि
कारनहींथा।ऐसी स्थिति आने पर अंग्रेजउसराज्य
को अपने साम्राज्य में मिला लेते थे।कुमार केअनु
सार रानी चेन्नम्मा और अंग्रेजों के बीच हुए युद्ध में इसनीति की अहम भूमिका थी।1857केआंदो
लन में भी इस नीति की प्रमुख भूमिका थी और अंग्रेजों की इस नीति सहित विभिन्न नीतियों का विरोध करते हुए कई रजवाड़ों ने स्वतंत्रता संग्राम में भाग लिया था।
डाक्ट्रिन ऑफ लैप्स के अलावा रानी चेन्नम्मा का अंग्रेजोंकी कर नीति को लेकरभी विरोध था और
उन्होंने उसे मुखर आवाज दी।रानी चेन्नम्मा पहली महिलाओं में से थीं जिन्होंने अनावश्यक हस्तक्षेप औरकर संग्रहप्रणाली को लेकर अंग्रेजोंका विरोध किया।
अंग्रेजों के खिलाफ युद्ध में रानी चेन्नम्मा ने अपूर्व शौर्यका प्रदर्शनकिया, लेकिन वह लंबे समय तक अंग्रेजी सेना का मुकाबला नहीं कर सकी। उन्हें कैद कर बेलहोंगल किले में रखा गया जहांउनकी 21फरवरी1829 को उनकी मौत हो गई। पुणे-
बेंगलूरु राष्ट्रीय राजमार्ग पर बेलगाम के पास कित्तूर का राजमहल तथा अन्य इमारतें गौरवशाली अतीत की याद दिलाने के लिए मौजूद है
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻(C)      
     आज के दिन की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ💐
 1764 - मीर कासिम बक्सर की लड़ाई में पराजित हुआ।
 1910 - ब्लांश एस स्कॉट अमेरिका में अकेले हवाई जहाज उड़ाने बनाने वाली पहली महिला बनीं।
 1915 - न्यूयार्क में लगभग 25,000 महिलाओं ने मतदान के अधिकार की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। 
1942 - अल अलामीन के युद्ध में मित्र राष्ट्रों ने जर्मन सेना को पराजित किया। 
1943 - नेता जी सुभाष चंद्र बोस ने आजाद हिंद फौज की ‘झांसी की रानी ब्रिगेड़’ की सिंगापुर में स्थापना की। 
1946 - त्रिग्वेली (नार्वे) सं.रा. संघ के प्रथम महासचिव नियुक्त। संयुक्त राष्ट्र महासभा की न्यूयार्क में पहली बार बैठक।
 1958 - रूसी कवि एवं उपन्यासकार बोरिस पास्तरनाक को साहित्य का नोबेल पुरस्कार। 1973 - अमेरिकी राष्ट्रपति रिचर्ड एम निक्सन वाटरगेट मामले में टेप जारी करने पर सहमत हुए। 
1978 - चीन और जापान ने चार दशकों से चले आ रही शत्रुता को औपचारिक रूप से समाप्त किया। 
1980 - लीबिया एवं सीरिया द्वारा एकीकरण की घोषणा।
 1989 - हंगरी ने स्वयं को गणराज्य घोषित किया। हंगरी सोवियत संघ से 33 वर्षों के बाद आजाद होकर एक स्वतंत्र गणराज्य बना।
 1998 - पाकिस्तान ने कश्मीर समस्या का समाधान आत्म निर्णय से करने की मांग दोहरायी। जापान ने द्वितीय विश्व युद्ध के बाद अपने पहले बैंक का राष्ट्रीयकरण किया।
 2000 - अमेरिकन विदेशी मंत्री मेडलिन अल्ब्राइट की उत्तरी कोरिया के राष्ट्रपति किम जोंग ली से ऐतिहासिक मुलाकात।
 2001 - नासा के मार्स ओडिसी अंतरिक्ष यान ने मंगल ग्रह की परिक्रमा शुरू की। एप्पल ने आईपॉड बाज़ार में उतारा 
2003 - 30 से 35 परमाणु बम होने की पुष्टि की। माओवादी हिंसा ने नेपाल के पूर्व मंत्री का आवास बम से उड़ाया। भारत और बुल्गारिया ने प्रत्यर्पण संधि पर हस्ताक्षर किये। अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी को ईरान ने अपनी परमाणु रिपोर्ट सौंपी। विश्व के अकेले सुपरसोनिक विमान कानकोर्ड ने न्यूयार्क से अपनी आख़िरी उड़ान भरी।
 2006 - सूडान सरकार ने संयुक्त राष्ट्र संघ के दूत को देश छोड़ने का आदेश दिया।
 2007 - कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय ने सीबीआई के पूर्व डायरेक्टर आर.के. राघवन को अपने नये सलाहकारी बोर्ड में नियुक्त किया। 
2008 - नया कम्पनी विधेयक 2008 लोकसभा में पेश हुआ।
 2011 - तुर्की के वान प्रांत में 7.2 तीव्रता का भूकंप,582 लोगों की मौत, हजारों घायल।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌱🌱(D)आज के दिन जन्म लिए महत्त्वपूर्ण व्यक्तित्व
1778 - रानी चेन्नम्मा - झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई के समान कर्नाटक की वीरांगना और स्वतंत्रता सेनानी।
1883 - मिर्ज़ा इस्माइल - सन 1908 में मैसूर के महाराजा के सहायक सचिव थे।
1898 - खंडू भाई देसाई, श्रमिक नेता 1923 - भैरोंसिंह शेखावत - राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री व भारत के उपराष्ट्रपति। 
1937 - देवेन वर्मा - हिन्दी सिनेमा के प्रसिद्ध हास्य अभिनेता।
1957 - सुनील मित्तल - एक भारतीय उद्योगपति, समाज सेवी और भारत के सबसे बड़े टेलीकॉम कंपनी एयरटेल के चेयरमैन
1974 - अरविन्द अडिग - प्रसिद्ध भारतीय लेखक हैं, जो अपने उपन्यास अंग्रेज़ी में लिखते हैं। 
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻(E)आज के निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व।
1623 - तुलसीदास प्रसिद्ध कवि।
1962 - सूबेदार जोगिन्दर सिंह- परमवीर चक्र से सम्मानित भारतीय सैनिक।
1973 - नेली सेनगुप्ता - प्रसिद्ध महिला क्रांतिकारी। 
2005 - भोलाशंकर व्यास - 'काशी' (वर्तमान बनारस) के प्रसिद्ध साहित्यकार। 
2012 - सुनील गंगोपाध्याय - सरस्वती सम्मान से सम्मानित प्रसिद्ध बांग्ला साहित्यकार थे। 
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻(F) आज का दिवस का नाम
1. रानी चेन्नम्मा - झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई के समान कर्नाटक की वीरांगना और स्वतंत्रता सेनानी थी उनका जयंती दिवस
2.मिर्ज़ा इस्माइल - सन 1908 में मैसूर के महाराजा के सहायक सचिव थे उनका जयंती दिवस
3. खंडू भाई देसाई, श्रमिक नेता थे उनका जयंती दिवस
4 भैरोंसिंह शेखावत -राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री व भारत के उपराष्ट्रपति थे उनका जयंती दिवस
5 .तुलसीदास प्रसिद्ध कवि थे उनका पुण्यतिथी दिवस
6. सूबेदार जोगिन्दर सिंह- परमवीर चक्र से सम्मानित भारतीय सैनिक थे उनका पुण्यतिथी दिवस
7. नेली सेनगुप्ता - प्रसिद्ध महिला क्रांतिकारी थी  उनका पुण्यतिथी दिवस
🌻💐🌹🌲🌸🌲🌹💐💐   
आज की बात -आपके साथ" मे आज इतना ही।कल पुन:मुलाकात होगी तब तक के लिये इजाजत दिजीये।
 आज जन्म लिये  सभीव्यक्तियोंको
 आज  नवरात्रि के सप्तमी दिवस पर माँ के काल रात्रि स्वरुप को नमन करते हुवे आज  के दिन  की बधाई। आज जिनका परिणय दिवस हो उनको भी हार्दिक बधाई।  बाबा महाकाल से निवेदन है की बाबा आप सभी को स्वस्थ्य,व्यस्त मस्त रखे।
💐।जय चित्रांश।💐
💐जय महाकाल,बोले सो निहाल💐
💐।जय हिंद जय भारत💐
💐  निवेदक;-💐
💐 चित्रांश ;-विजय निगम।💐