कोरोना का इलाज कर रहे निजी अस्पताल, बेड के लिए ना करें इनकार - केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय


नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को कोरोना का इलाज कर रहे निजी अस्पतालों से यह सुनिश्चित करने अनुरोध किया कि संक्रमित मरीजों को बेड से इन्कार नहीं किया जाए और उन्हें तत्काल देखभाल मिले।


फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) और दिल्ली स्थित एम्स के सहयोग से कोरोना का इलाज कर रहे निजी अस्पतालों के साथ आयोजित कांक्लेव में मंत्रालय ने जोर देकर कहा कि सामूहिक प्रयास यह होना चाहिए कि स्वास्थ्य प्रणाली सभी के लिए उपलब्ध हो, सस्ती हो और पहुंच में हो। इस दौरान अन्य बीमारियों से पीडि़त कोरोना संक्रमितों के समय पर इलाज की अहमियत पर जोर दिया गया ताकि मृत्युदर एक फीसद से कम की जा सके।


इस वर्चुअल कांक्लेव का उद्घाटन केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने किया। इसमें अस्पतालों को संक्रमण रोकथाम की सभी एहतियातों का पालन करते हुए स्वास्थ्य कर्मियों की सुरक्षा के लिए प्रोत्साहित किया गया। मंत्रालय के मुताबिक, कोरोना ने देश की स्वास्थ्य प्रणाली के सामने अभूतपूर्व चुनौती पेश की, लेकिन सरकार और निजी उद्योग ने भी सक्रियता से कदम उठाए। स्वास्थ्य मंत्रालय ने अस्पताल प्रतिनिधियों को कोरोना से निपटने में उनके यहां आ रहीं प्रमुख चिंताओं और चुनौतियों को साझा करने के लिए भी प्रोत्साहित किया।


Comments
Popular posts
अवंतिकानाथ राजाधिराज भगवान महाकाल राजसी ठाट-बाट के साथ नगर भ्रमण पर निकले; भगवान महाकाल ने भक्तों को चारों रूप में दिये दर्शन
Image
मोक्षदायिनी माँ क्षिप्रा....जानें, कैसे प्रसिद्ध हुआ मोक्षदायिनी नदी का नाम क्षिप्रा ?
Image
वार्षिक विवरणी ऑनलाइन दाखिल करने के लिए पंजीकरण अनिवार्य
Image
कुक्कू ओटीटी ऐप ने अपने एस्टीम्ड सब्सक्राइबर्स के लिए नए साल में एंटरटेनिंग वेब सीरीज की कतार लगाई
Image
श्री महाकालेश्वर मंदिर में संध्या आरती पश्चात होलिका का दहन हुआ संपन्‍न
Image