2 अक्टूबर से शुरू होगा चरक भवन में कोविड केयर हॉस्पिटल

  • कलेक्टर ने की जा रही व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया



उज्जैन। चरक भवन की पांचवी मंजिल पर स्थापित किये जा रहे 100 बेडेड कोविड केयर हॉस्पिटल का शुभारम्भ 2 अक्टूबर से होगा। कलेक्टर ने आज कोविड वार्ड में की जा रही विभिन्न तैयारियों का निरीक्षण किया एवं समय-सीमा में सभी कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिये हैं। उल्लेखनीय है कि चरक भवन की पांचवी मंजिल पर कोविड केयर हॉस्पिटल की स्थापना की जा रही है, जिसमें प्रत्येक बेड पर ऑक्सीजन की सुविधा एवं आवश्यकता अनुसार बाइपेप मशीन लगाई जा रही है। कलेक्टर ने इस सम्बन्ध में उक्त कोविड वार्ड को चरक भवन के अन्य वार्डों से आइसोलेट रखने के निर्देश दिये हैं। कोविड पॉजीटिव मरीजों को लाने-ले जाने के लिये डेडिकेटेड लिफ्ट की व्यवस्था व अस्पताल से पृथक्कीकरण करने के लिये कहा है। उन्होंने मौके पर लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री को बुलाकर चरक भवन के सेकंड गेट (नेताजी सुभाषचंद्र बोस प्रतिमा की साईड) को चरक भवन से पृथक करने के लिये आवश्यक पार्टीशन करने के निर्देश दिये हैं। कलेक्टर ने कोविड वार्ड में जाने के लिये निर्धारित की गई लिफ्ट के पास से गुजर रहे रैम्प पर भी आवागमन बन्द करने के निर्देश दिये हैं। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर के साथ नगर निगम आयुक्त श्री क्षितिज सिंघल, जिला पंचायत सीईओ श्री अंकित अस्थाना, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.महावीर खंडेलवाल, डॉ.एएस तोमर, डॉ.जीएस धवन, लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री रघुवंशी मौजूद थे।



कलेक्टर श्री आशीष सिंह ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया है कि वे 2 अक्टूबर के पूर्व सभी आवश्यक प्रबंध सुनिश्चित करें। साथ ही डॉक्टर्स, नर्सेस, वार्डबाय आदि की ड्यूटी लगाने के लिये भी कहा गया है। कलेक्टर ने पांचवी मंजिल पर स्थापित किये जा रहे कोविड अस्पताल के तीन वार्ड में प्रत्येक वार्ड में तीन-तीन नर्स की ड्यूटी लगाने व चौबीस घंटे प्रत्येक वार्ड में एक डॉक्टर की तैनाती करने के लिये कहा है। साथ ही कलेक्टर ने प्रत्येक वार्ड में दो-दो एलईडी टीवी, पीने के गर्म पानी की व्यवस्था तथा प्रत्येक वार्ड में लेपटॉप की व्यवस्था कर मरीजों के परिजनों से मरीजों की समय-समय पर बातचीत करवाने के लिये निर्देशित किया है।