केन्द्र ने जारी की नई गाईड लाईन

      नई दिल्ली। कई मंत्रालयों और विभागों में कोरोना वायरस के मामले सामने आने के बाद केंद्र सरकार ने मंगलवार को अपने दफ्तरों के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। सरकार ने अधिकारियों और कर्मचारियों से कहा है कि वह आमने-सामने बैठकें न करें।


      कार्मिक लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय ने सर्कुलर जारी करके कहा है कि वे ही कर्मचारी दफ्तर में आएं, जिन्हें कोरोना वायरस से संबंधित कोई लक्षण नहीं हैं। जिन्हें हल्का बुखार, गले में खराश आदि हो, वे सभी घर पर ही रहें और ऑफिस न आएं।


      सरकार ने कंटेनमेंट जोन में रहने वाले कर्मचारियों को घर से ही काम करने के लिए कहा है। एक दिन में 20 से अधिक अधिकारियों और कर्मचारियों को कार्यालय में नहीं उपस्थित होना है। इसके अनुसार, विभागों से ड्यूटी चार्ट बनाने के लिए कहा गया है।


      गाइडलाइन में कहा गया है कि एक ही केबिन में काम करने वाले कर्मचारी अलग-अलग दिन दफ्तर आएं। वहीं, जहां तक संभव हो, खिड़कियों को खोल कर ही बैठें। दफ्तर में काम करते समय चेहरे पर मास्क और फेस शील्ड लगी होनी चाहिए। यदि ऐसा नहीं होता है तो फिर कर्मचारी के खिलाफ कार्रवाई की जाए।


      फेस-टू-फेस मीटिंग, बैठकें और चर्चाएं जहां तक संभव हों, वहां तक न ही की जाएं। इन सभी के लिए इंटरकॉम, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग का सहारा लिया जाए। गाइडलाइन के अनुसार, कर्मचारियों को हर आधे घंटे में अपने हाथों को धोना होगा। वहीं, हैंड सैनिटाइजर भी लगे होने चाहिए।



'महाकाल की आवाज' वेब न्यूज़ पोर्टल पर


समाचार एवं आकर्षक विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें


9993094563, mahakalkiawaz@gmail.com