कलेक्टर ने अधिकारियों के मध्य कार्य विभाजन किया

उज्जैन। कलेक्टर श्री आशीष सिंह ने प्रशासकीय कार्य सुविधा की दृष्टि से कलेक्टर कार्यालय में पदस्थ भाप्रसे एवं राप्रसे के अधिकारियों के मध्य कार्य विभाजन आदेश जारी कर दिया है।


 आदेश के तहत अपर कलेक्टर विकास एवं सीईओ जिला पंचायत श्री अंकित अस्थाना को प्रधानमंत्री जनधन योजना, सुरक्षा बीमा, जीवन ज्योति योजना, आईटीआई, अन्त्योदय मेला/जिला अन्त्योदय समिति, मुख्यमंत्री मजदूर सुरक्षा योजना, प्रधानमंत्री आवास आदि का कार्य सौंपा गया है।


 अपर कलेक्टर श्रीमती बिदिशा मुखर्जी को तहसील घट्टिया, तराना, महिदपुर क्षेत्राधिकार के अन्तर्गत राजस्व प्रकरणों का निराकरण तथा अपील प्रकरण, मप्र भूराजस्व संहिता-1959 के अन्तर्गत कलेक्टर न्यायालय में प्रस्तुत पुनर्विलोकन, अपील, निगरानी आवेदन-पत्रों में से प्रत्येक 10वे आवेदन को छोड़कर निराकरण, नाबालिग सरपरस्ती से सम्बन्धी बैंक लोन में अनापत्ति प्रमाण-पत्र जारी करने सम्बन्धी प्रकरणों का निराकरण (तराना, घट्टिया, महिदपुर) का कार्य सौंपा गया है। साथ ही श्रीमती मुखर्जी को शिकायत एवं सतर्कता शाखा, वरिष्ठ लिपिक, नोडल अधिकारी राजस्व एवं वन भूमि सीमा विवाद, पाणिनी संस्कृत विश्वविद्यालय, मुख्यमंत्री जनअधिकार कार्यक्रम, आरएम शाखा, एसडब्ल्यूबीएम शाखा, राहत शाखा और ऑडिट निरीक्षण आदि का प्रभार सौंपा गया है।


 अपर कलेक्टर डॉ.आरपी तिवारी को एडीएम की हैसियत से विभिन्न अधिनियमों, शासन नियमों के अन्तर्गत न्यायिक, अर्द्धन्यायिक एवं प्रशासनिक कार्य, सीआरपीसी के अन्तर्गत कानून व्यवस्था बनाये रखने एवं शान्ति समिति की बैठक हेतु नोडल अधिकारी, मप्र पुलिस अधिनियम की धारा-25 के अन्तर्गत प्रकरणों का निराकरण, मप्र दुकान एवं स्थापना अधिनियम के अन्तर्गत प्रकरणों का निराकरण, जिला होमगार्ड नगर सुरक्षा से सम्बन्धित कार्य जिला दण्डाधिकारी के अनुमोदन उपरान्त, मप्र राज्य सुरक्षा अधिनियम-1990 के अन्तर्गत प्रस्तुत प्रकरणों का निराकरण, सम्पत्ति विरूपण अधिनियम, कोलाहल नियंत्रण अधिनियम के अन्तर्गत प्रकरणों का निराकरण, कैदियों की अस्थाई छुट्टी, पेरोल सम्बन्धित प्रकरणों का निराकरण, आयुध नियम-1962 के अन्तर्गत स्वीकृत अनुज्ञप्तियों का नवीनीकरण आदि कार्य सौंपे गये हैं।


 इसके अलावा डॉ.तिवारी को स्थापना, वित्त, नजारत, वाहन अधिग्रहण अधिकारी और न्याय लिपिक शाखा आदि का प्रभारी अधिकारी बनाया गया है। अपर कलेक्टर श्री जीएस डाबर को तहसील बड़नगर क्षेत्राधिकार के अन्तर्गत राजस्व प्रकरणों का निराकरण, अपील और स्वप्रेरणा निगरानी प्रकरणों, राजस्व पुस्तक परिपत्र के अधीन प्रस्तुत समस्त प्रकरण (बड़नगर), अन्य लघु नियमों के अन्तर्गत अपर कलेक्टर न्यायालय को प्राप्त अधिकारों के अधीन समस्त प्रकरणों का निराकरण आदि का कार्य सौंपा गया है।


 इसके अलावा श्री डाबर को प्रभारी अधिकारी नजूल की हैसियत से प्रकरणों व नस्तियों का निराकरण, व्यवहारवाद शाखा, संस्कृति, धर्मस्व, धार्मिक स्थान, कॉलोनी सेल, सीलिंग, भूअभिलेख एवं भूप्रबंधन, राजस्व अभिलेखागार, आंग्ल अभिलेखागार आदि का प्रभारी अधिकारी बनाया गया है।


 आदेश के तहत श्री अंकित अस्थाना की लिंक अधिकारी श्रीमती बिदिशा मुखर्जी, श्रीमती मुखर्जी के लिंक अधिकारी श्री जीएस डाबर, श्री डाबर के लिंक अधिकारी श्री आरपी तिवारी और श्री आरपी तिवारी के लिंक अधिकारी श्री डाबर होंगे।