जिले में एक माह का अग्रिम खाद्यान्न आवंटित हुआ

      उज्जैन। उज्जैन उत्तर विधायक पारस जैन के प्रयासों से जिले के अन्त्योदय परिवारों एवं पात्रता पर्चीधारी व्यक्तियों को एक माह का अग्रिम खाद्यान्न का आवंटन प्राप्त हुआ है। विधायक पारस जैन ने बताया कि सांसद अनिल फिरोजिया एवं दक्षिण विधायक डॉ.मोहन यादव एवं उनके प्रयासों से गत माह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से चर्चा कर तीन महीने का अग्रिम खाद्यान्न प्राप्त किया गया था, जिसे पात्रता अनुसार वितरित किया गया। अग्रिम खाद्यान्न समाप्त होने के पश्चात पुन: मुख्यमंत्री से चर्चा कर एक महीने का अग्रिम खाद्यान्न आवंटित कराया गया है। जैन ने बताया कि एक महीने के खाद्यान्न की मंजूरी शासन स्तर से आ गई है। अन्त्योदय परिवार को 30 किलो गेहूं एवं 5 किलो चावल इस प्रकार 35 किलो खाद्यान्न दिया जायेगा। साथ में एक किलो चने की दाल भी प्रदान की जायेगी। जिन व्यक्तियों के पास पात्रता पर्ची है, उन व्यक्तियों को प्रति सदस्य के हिसाब से 4 किलो गेहूं, एक किलो चावल तथा एक किलो दाल की सुविधा प्रदान की जायेगी। अन्त्योदय परिवार एवं पात्रताधारी सदस्य को एक रुपये प्रतिकिलो के मान से चावल एवं गेहूं प्रदान किया जायेगा तथा एक किलो चने की दाल नि:शुल्क रहेगी।
      विधायक जैन ने बताया कि मुख्यमंत्री चौहान ने जिले के लॉकडाउन एवं कोरोना वायरस की स्थिति को देखते हुए यह व्यवस्था की है। श्री जैन ने जिले के अन्त्योदय परिवार एवं पात्रताधारी व्यक्तियों से अनुरोध किया है कि वे एक-दो दिवस में चालू हो रही कंट्रोल की दुकान में जाकर कूपन दिखाकर अपना खाद्यान्न प्राप्त करें। जैन ने सभी से अनुरोध किया कि कंट्रोल की दुकान में लाईनबद्ध होकर और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए खाद्यान्न का उठाव करें और शासन द्वारा मिली सुविधा का लाभ उठायें। उन्होंने अग्रिम खाद्यान्न के आवंटन के लिये मुख्यमंत्री को धन्यवाद ज्ञापित किया है।


Comments
Popular posts
राजाधिराज भगवान श्री महाकाल महाराज निकले राजसी ठाठ बाट से; देखें शाही सवारी लाइव
Image
हड़ताल को लेकर सीएम यादव ने दिए निर्देश
Image
अवंतिकानाथ राजाधिराज भगवान महाकाल राजसी ठाट-बाट के साथ नगर भ्रमण पर निकले; भगवान महाकाल ने भक्तों को चारों रूप में दिये दर्शन
Image
मोक्षदायिनी माँ क्षिप्रा....जानें, कैसे प्रसिद्ध हुआ मोक्षदायिनी नदी का नाम क्षिप्रा ?
Image
श्री महाकालेश्वर मन्दिर की दान पेटियों से आय की गणना एवं कलेक्शन हेतु मंदिर प्रबंध समिति द्वारा तीन बैंक है अधिकृत
Image