कलेक्टर ने पोषण अभियान के तहत जिला अभिसरण की बैठक ली

      उज्जैन। कलेक्टर श्री शशांक मिश्र ने सिंहस्थ मेला कार्यालय के सभाकक्ष में महिला एवं बाल विकास विभाग में पोषण अभियान के अन्तर्गत जिला अभिसरण की बैठक लेकर महिला एवं बाल विकास तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि गर्भवती माताओं के पंजीयन कार्य में दोनों विभागों के आंकड़ों में अन्तर न हो, यह सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने परियोजना अधिकारियों को निर्देश दिये कि अपने-अपने क्षेत्र के एसडीएम से चर्चा कर बैठक आयोजित कर प्रगति लाई जाये। कलेक्टर ने निर्देश दिये कि गर्भवती माताओं की जानकारी की रिपोर्ट 15 दिन के अन्दर सम्बन्धित ब्लॉक मेडिकल आफिसरों को अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराई जाये।


      कलेक्टर ने बैठक में निर्देश दिये कि आंगनवाड़ी भवनों के निर्माण कार्य को समय पर पूर्ण कराया जाये। बैठक में बच्चों, गर्भवती, धात्री माताओं को पूरक पोषण आहार के सम्बन्ध में भी चर्चा कर इस बारे में आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। बैठक में बताया गया कि जिले में 15 हजार 334 गर्भवती माताओं तथा 16 हजार 278 धात्री माताओं को लाभान्वित किया गया है। पोषण स्तर का वर्गीकरण के तुलनात्मक जानकारी की समीक्षा की। बैठक में बताया कि जिले में एक लाख 66 हजार 774 बच्चों का वजन लिया गया। इनमें एक लाख 41 हजार 531 बच्चे सामान्य पाये गये और 22 हजार 936 बच्चे कम वजन के पाये गये। बैठक में महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी, सीएमएचओ, जिले के समस्त परियोजना अधिकारी, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी तथा सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।