अभिनेत्री पायल रोहतगी ने मोतीलाल नेहरू पर बनाया विवादित वीडियो


      अहमदाबाद। अभिनेत्री पायल रोहतगी को रविवार को राजस्थान पुलिस ने गुजरात के अहमदाबाद से गिरफ्तार किया है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष रहे दिवंगत मोतीलाल नेहरू पर एक वीडियो बनाया था। यह वीडियो सोशल मीडिया पर आने के बाद राजस्थान के बूंदी जिले में एक कांग्रेस कार्यकर्ता ने पायल के खिलाफ 10 अक्टूबर को पुलिस थाने में आईटी एक्ट व अन्य धाराओं में एफआईआर दर्ज कराई थी। राजस्थान पुलिस मामले को लेकर दोपहर में प्रेस क्रॉफ्रेंस करेगी।
      ट्विटर पर दी गिरफ्तार होने की सूचना :-



      पायल ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर खुद के गिरफ्तार होने की भी सूचना दी। इसमें उन्होंने कहा, "राजस्थान पुलिस ने मोतीलाल नेहरू पर वीडियो बनाने के मामले में गिरफ्तार किया। ये वीडियो मैंने गूगल से मिली जानकारी के आधार पर बनाया था। अभिव्यक्ति की स्वंतत्रता मजाक बन गया है।" पायल ने इस ट्वीट को गृहमंत्रालय और प्रधानमंत्री कार्यालय को भी टैग किया है।
      जानकारी के मुताबिक, बूंदी के सदर थाना प्रभारी लोकेंद्र पालीवाल के नेतृत्व में एक टीम शुक्रवार को अहमदाबाद पहुंची थी। टीम तीन दिन से वहां डेरा डाले हुए थी। रविवार को उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।
      अग्रिम जमानत याचिका दाखिल की थी : पायल ने अपने खिलाफ दर्ज एफआईआर को लेकर बूंदी के स्थानीय कोर्ट में अग्रिम जमानत की याचिका दाखिल की थी।इस पर शुक्रवार को सुनवाई होनी थी। हालांकि, कुछ कारणों के चलते शुक्रवार को सुनवाई नहीं हो पाई। अब सोमवार को इस याचिका पर सुनवाई होगी।
      पुलिस ने नोटिस दे कर मांगा था जवाब : एफआईआर दर्ज होने के बाद जांच के लिए बूंदी पुलिस पायल रोहतगी के मुंबई निवास पर गई थी। वहां से पुलिस को उनके अहमदाबाद में होने का पता चला। इसके बाद पुलिस पायल के अहमदाबाद निवास पर पहुंची। पायल को नोटिस देकर जवाब मांगा था। पुलिस उनके जवाब का इंतजार कर रही थी। इधर, अभिनेत्री ने कोर्ट में अग्रिम जमानत की याचिका दायर कर दी थी।
      सोशल साइट्स पर वीडियो अपलोड किया : पायल ने अपने फेसबुक और ट्विटर अकाउंट से स्वतंत्रता सेनानी पं. मोतीलाल नेहरू, पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी को लेकर अभद्र टिप्पणी की थी।