गुरुनानक देव के प्रकाश पर्व पर निकली प्रभातफेरी


भगवानपुरा। वाहे गुरु वाहे गुरु बोल मणा , तू वाहे गुरु वाहे गुरु बोल मणा। बंधले सगले मणा ,पूंजी राम नाम की । वाहेगुरु वाहेगुरु सतनाम वाहेगुरु आदि भजन कीर्तनों से सुबह वातावरण भक्तिमय हुआ मंगलवार को नगर में सिकलीगर समाज द्वारा सिक्ख धर्म के प्रथम गुरु श्री गुरुनानक देव के 550 वे प्रकाश वर्ष पर प्रभातफेरी निकाली गई जो नगर के विभिन्न मार्गों से होते हुए पुनः गुरुद्वारा सतीपुरा पहँची इस दौरान नगर में प्रभातफेरी का स्वागत भी किया गया हनुमान मंदिर पर अघोरी ग्रुप ने फेरी का पुष्पहारों से स्वागत कर फल वितरित किये व्यवस्था की वही बस स्टैंड पर खांडेराव पाटील व श्रीराम पाटीदार ने पोहे व चाय समाजजनों के लिए व्यवस्था रखी दोपहर में गुरुद्वारे पर लंगर का आयोजन हुआ जिसमें बड़ी संख्या में नगरवासी सहित संगत ने प्रसादी ग्रहण की । इससे पूर्व गुरुद्वारे में ज्ञानी प्रतिमसिंह व ज्ञानी गोविंदसिंह के द्वारा अखण्ड पाठ गुरुवाणी व सबद कीर्तन किया गया । इस दौरान गोपालसिंह भोंड ज्ञानी प्रीतमसिंह ज्ञानी गोविंदसिंह बलजीतसिंह भाटिया होशियारसिंह जालमसिंह बलदेवसिंह राजसिंह सहित बड़ी संख्या में धुलकोट के समाजजन शामिल हुए।