गृह मंत्रालय को संभालने वाली प्रेस सूचना ब्यूरो (पीआईबी) इकाई ने Koo App पर खोला खाता


गृह मंत्रालय की सूचनाओं को संभालने वाली प्रेस सूचना ब्यूरो (पीआईबी) की इकाई ने मेड-इन-इंडिया सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म कू ऐप पर अपना आधिकारिक खाता खोला है।

गृह मंत्रालय, भारत सरकार के सबसे महत्वपूर्ण मंत्रालयों में से एक है। गृह मंत्रालय (एमएचए) को संभालने वाली पीआईबी की इकाई, बहुभाषी माइक्रो-ब्लॉगिंग मंच कू ऐप का इस्तेमाल समय-समय पर इस मंत्रालय से संबंधित सार्वजनिक महत्व के विकास पर जानकारी प्रदान करने में करेगी।

पीआईबी के एमएचए कू अकाउंट ने अपनी पहली पोस्ट में आतंकवाद के प्रति भारत सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति के संबंध में 2 फरवरी को राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान मंत्रालय द्वारा दिए गए उत्तर से संबंधित जानकारी प्रदान की।

मंच पर गृह मंत्रालय को संभालने वाली पीआईबी इकाई का स्वागत करते हुए कू के प्रवक्ता ने कहा, “हमें कू पर गृह मंत्रालय को संभालने वाली पीआईबी की इकाई की मेजबानी करने का विशेष मौका प्राप्त हुआ है। हम गृह मंत्रालय को संभालने वाली पीआईबी की इकाई को गृह मंत्रालय द्वारा की गई पहलों और गतिविधियों के बारे में जानकारी साझा करने में सक्षम बनाएंगे।”

कू के बारे में :- 

कू एक मेड-इन-इंडिया सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म है जो लोगों को अपनी स्थानीय भाषा में व्यक्त करने और दूसरों के साथ जुड़ने में सक्षम बनाता है। कू 10 भारतीय भाषाओं में उपलब्ध है। कू के 2 करोड़ डाउनलोड हो चुके हैं और यह भारतीय भाषाओं में सबसे बड़ा माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म है। सार्वजनिक क्षेत्र, सरकार, मनोरंजन, क्रिकेट और खेल जगत की कई शीर्ष हस्तियों का कू पर खाता है।

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय, रेल मंत्रालय, वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय, संचार मंत्रालय, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय, महिला एवं बाल विकास मंत्रालय और जनजातीय मामलों के मंत्रालय सहित अधिकांश केंद्रीय मंत्री और मंत्रालय पहले से ही कू पर मौजूद हैं।

Comments
Popular posts
राजाधिराज भगवान श्री महाकाल महाराज निकले राजसी ठाठ बाट से; देखें शाही सवारी लाइव
Image
हड़ताल को लेकर सीएम यादव ने दिए निर्देश
Image
अवंतिकानाथ राजाधिराज भगवान महाकाल राजसी ठाट-बाट के साथ नगर भ्रमण पर निकले; भगवान महाकाल ने भक्तों को चारों रूप में दिये दर्शन
Image
मोक्षदायिनी माँ क्षिप्रा....जानें, कैसे प्रसिद्ध हुआ मोक्षदायिनी नदी का नाम क्षिप्रा ?
Image
श्री महाकालेश्वर मन्दिर की दान पेटियों से आय की गणना एवं कलेक्शन हेतु मंदिर प्रबंध समिति द्वारा तीन बैंक है अधिकृत
Image