प्रदेश के समस्त बिजली कर्मियों ने सम्पूर्ण कार्य बहिष्कार कर किया विरोध प्रदर्शन
  • प्रदेशभर के 25 हजार नियमित, 6 हजार संविदा व 35 हजार आउटसोर्स कर्मियों द्वारा एक साथ पूरे दिन कार्य बहिष्कार
उज्जैन/भोपाल।
म.प्र.यूनाइटेड फोरम के नेतृत्व में मध्यप्रदेश के सभी बिजली कर्मी आज एक दिवसीय संपूर्ण कार्य बहिष्कार के साथ–साथ मोबाईल फोन बंद कर इस आंदोलन में सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं। प्रदेश भर के 25 हजार नियमित, 6 हजार संविदा व 35 हजार आउटसोर्स कर्मियों ने मंगलवार दिनांक 10.08.2021 को पूरे दिन का सम्पूर्ण कार्य बहिष्कार कर विरोध प्रदर्शन किया साथ ही अधिकारियों ने अपने अपने मोबाईल फोन भी बंद कर दिए। 
विरोध प्रदर्शन में ट्रांसमिशन कंपनी के अधीक्षण यंत्री सर, अति.अधी.यंत्री एस.एन.वर्मा, इंजी. खरे, राहुल मालवीय, सादिक शेख, रोहित गेहलोत, निलेश मालवीय, मो. रउफ, देवेन्द्र एवम् समस्त नियमित, संविदा और आउटसोर्स कर्मी उपस्थित थे।
म.प्र. स्‍तर की अन्‍य मांगों में ट्रासमिशन कंपनी में लाई जा रही टी.बी.सी.बी. को रद्द करने, संविदा को नियमि‍त करने, आऊटसोर्स का संविलियन करने, सभी अधि‍कारी कर्मचारियों को मुख्‍यमंत्री कोविड-19 कल्‍याण योजना में शामिल करने, बिना शर्त अनुकंपा नियुक्‍त‍ि, पेंशन की व्‍यवस्‍था, सभी वर्गो की पदोन्‍नतियां, सभी प्रकार के वेतन विसंगतियां दूर करने, सेवा निवृत उपरांत सभी प्रकार की राशि का समय से भुगतान करने, 28% डी.ए. प्रदान करने, पदोन्‍नति में लगी रोक हटाकर पदोन्‍नति करते हुये रिक्‍त पदों पर नियुक्‍त‍ियां करने, ग्रह जिलें मे पदस्‍थापना करने, सभी वर्गों को 50% विद्युत छुट देने, अधोसंरचना अनुसार संगठनात्‍मक संरचना निर्धारित करने, सभी कंपन‍ियों में आदेशों में एकरूपता लाने एवं अन्‍य मांगों के संबंध में माननीय मुख्‍यमंत्री एवं ऊर्जा मंत्री को 20 जुलाई 2021 को मांग पत्र सौंपा जा चुका था, जिसमें मांगों पर विचार न होने की स्‍थ‍ित‍ि में चरण बद्ध आंदोलन की रूपरेखा भी दी गई थी।
Comments
Popular posts
जल्दी करें; वॉइस ऑफ सीनियर्स के रजिस्ट्रेशन्स की लिंक कल तक ही खुली है
Image
कैटरीना कैफ ने के ब्यूटी की पहली किस प्रूफ मैट लिक्विड लिपस्टिक लॉन्च की
Image
परिवहन विभाग एवं भारतीय वन सेवा के अधिकारियों के थोकबंद तबादले
Image
नायका द्वारा पेश है जेंटलमैन्स क्रू हाई क्वालिटी वाले ग्रूमिंग और पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स की हॉलिस्टिक रेंज
Image
अदाणी पोर्ट्स ने 2,800 करोड़ रुपये में विश्वसमुद्र होल्डिंग्स की 25% हिस्सेदारी के अधिग्रहण से कृष्णापत्तनम पोर्ट में अपना स्वामित्व 75% से बढ़ाकर 100% किया
Image