अदाकारी को नया आयाम दे रही क्षेत्र की पहली ऑनलाइन एक्टिंग प्रतियोगिता 'बुंदेली मेस्ट्रो'

भोपाल।
 कला और संस्कृति से परिपूर्ण हमारे देश में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है। कमी है तो इन प्रतिभारूपी हीरों को तराशने और दुनिया के सामने लाने की। बुंदेलखंड क्षेत्र के ऐसे ही हुनरमंद, काबिल और प्रतिभावान युवक-युवतियों को एक प्रभावशाली मंच उपलब्ध करा रहा, क्षेत्र का लोकप्रिय डिजिटल प्लेटफार्म 'ट्रूपल बुंदेलखंड', अब अदाकारी के नए सितारों की तलाश में जुट गया है। 15 जुलाई से शुरू हुए 'बुंदेली मेस्ट्रो' प्रतियोगिता के जरिये, क्षेत्रीय कलाकारों को, उनके भीतर छिपी प्रतिभाओं को जग जाहिर करने का मौका मिल रहा है। इस प्रतियोगिता को जज करने के लिए फिल्म और टीवी जगत की मशहूर हस्तियां जुड़ी हैं, जिनमें एक्टर-प्रोड्यूसर राम बुन्देला, एक्टर - डायरेक्टर महेंद्र लोधी ,एक्टर गुलशन पांडे और एक्टर रितेश रघुवंशी मुख्य जज की भूमिका निभा रहे हैं। चैनल के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स (फेसबुक, यूट्यूब) पर हर गुरुवार, दोपहर 3 बजे प्रसारित होने वाली इस प्रतियोगिता में 14 से 50 आयु वर्ग के युवक-युवती हिस्सा ले सकते हैं। प्रतियोगिता के विजेता को 50 हजार रुपये तक के आकर्षण उपहार तथा ऑनलाइन ब्रांडिंग का तोहफा दिया जाएगा। रजिस्ट्रशन के लिए दी गई लिंक पर क्लिक करें https://taplink.troopel.com/p/66bed6/।
इस प्रतियोगिता के बारे में अधिक जानकारी देते हुए, इवेंट कॉर्डिनेटर ऐश्वर्या फेंडर ने बताया कि, "यह अपने आप में क्षेत्र की ऐसी पहली ऑनलाइन एक्टिंग प्रतियोगिता है जो अभिनय की दुनिया में अपना भविष्य तलाश रहे कलाकारों को एक सशक्त मंच प्रदान करती है। यदि आप अपना टैलेंट अब तक देश और दुनिया के सामने नहीं दिखा पाएं हैं, तो बुंदेली मेस्ट्रो आगे बढ़कर आपको यह मौका देता है।"
देश की पहली बुंदेली शेफ प्रतियोगिता में रनरअप रहीं सोनल जैन शो होस्ट के रूप में प्रतिभागियों से रूबरू हो रही हैं। पीआर 24x7, हेल्थ24x7, भड़ास कैफ़े व बीएसीसीपीए के सहयोग से संचालित यह प्रतियोगिता 15 जुलाई से 16 सितम्बर के बीच, पूरे दो माह चलने वाली है। इस दौरान प्रतियोगिता के अंतर्गत दो चरणों में 6 ऑडिशन राउंड होंगे। इस बीच 2 क्वालीफायर, सेमीफइनल व फाइनल मुकाबले के साथ 16 सितम्बर को क्षेत्र का पहला बुंदेली मेस्ट्रो चुना जायेगा।
गौरतलब है कि चैनल द्वारा हाल ही में बुंदेली शेफ नामक देश की पहली ऑनलाइन शेफ प्रतियोगिता का सफल आयोजन इंदौर में किया गया। जिसमें देशभर से शामिल हुई बुंदेली महिलाओं ने आकर्षक पकवानों से सब का दिल जीत लिया। इसके अतिरिक्त चैनल द्वारा संचालित लोकगीत कलाकारों के लिए 'बुंदेली बावरा' नामक प्रतियोगी कार्यक्रम को भी काफी लोकप्रियता मिली, जो मुख्य तौर पर क्षेत्र की लोक संस्कृति व सभ्यता को संरक्षित रखने के मकसद से शुरू किया गया अपने आप में एक अनोखा कार्यक्रम है।
Comments
Popular posts
अवंतिकानाथ राजाधिराज भगवान महाकाल राजसी ठाट-बाट के साथ नगर भ्रमण पर निकले; भगवान महाकाल ने भक्तों को चारों रूप में दिये दर्शन
Image
मोक्षदायिनी माँ क्षिप्रा....जानें, कैसे प्रसिद्ध हुआ मोक्षदायिनी नदी का नाम क्षिप्रा ?
Image
वार्षिक विवरणी ऑनलाइन दाखिल करने के लिए पंजीकरण अनिवार्य
Image
कुक्कू ओटीटी ऐप ने अपने एस्टीम्ड सब्सक्राइबर्स के लिए नए साल में एंटरटेनिंग वेब सीरीज की कतार लगाई
Image
श्री महाकालेश्वर मंदिर में संध्या आरती पश्चात होलिका का दहन हुआ संपन्‍न
Image