अदाणी ग्रुप भारत के ओलंपिक दल का पार्टनर बना

अमित पंघल, दीपक पुनिया और रानी रामपाल टोक्यो ओलंपिक के 7 शीर्ष एथलीटों में शामिल हैं, जिनको अदाणी ग्रुप के दीर्घकालिक स्पोर्ट्स इनक्यूबेशन प्रोग्राम के हिस्से के रूप में, ग्रुप के ‘गर्व है’ इनिशिएटिव द्वारा समर्थन दिया गया है।

सार-संक्षेप
‘गर्व है’ भारत की अगली पीढ़ी के खेल चैंपियनों को तैयार करने के लिए अदाणी ग्रुप का दीर्घकालिक इनक्यूबेशन प्रोग्राम है।
29 राज्यों के 100 शहरों से प्राप्त 5000 से अधिक प्रविष्टियों में से मजबूत संभावना वाले 19 एथलीटों को चुना गया था, इनमें से 7 एथलीट टोक्यो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे।
सूची में भारतीय बॉक्सिंग स्टार वर्ल्ड नंबर 1 अमित पंघल, वर्ल्ड नंबर 2 फ्रीस्टाइल पहलवान दीपक पुनिया और भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल जैसे आइकन शामिल हैं।


अहमदाबाद, 23 जुलाई 2021: अदाणी ग्रुप 23 जुलाई, 2021 को शुरू होने टोक्यो ओलंपिक में भारतीय ओलंपिक दल का आधिकारिक पार्टनर बन गया है। टोक्यो में भाग ले रहे भारतीय दल में 119 एथलीट शामिल हैं, जो ओलंपिक खेलों में भारत की अब तक की सबसे बड़ी संख्या है।

अदाणी ग्रुप का विश्वास है कि देश में खेलकूद का वातावरण बनाने में दिया गया कॉरपोरेट समर्थन खेलकूद के बेहतर और मजबूत भविष्य का निर्माण करेगा। ओलंपिक के लिए की गई साझेदारी ग्रुप के विश्वास के अनुरूप है। 

‘गर्व है’ के बारे में

‘गर्व है’ भारत के भविष्य के चैंपियन खिलाड़ियों की पहचान करने और उनको तैयार करने के लिए अदाणी ग्रुप का दीर्घकालिक इनक्यूबेशन प्रोग्राम है। यह प्रोग्राम 2015 में रियो ओलंपिक से पहले शुरू किए गए चार साल के पायलट प्रोजेक्ट पूरा करने के बाद 2019 में शुरू किया गया था।

‘गर्व है’ प्रोग्राम के लिए शानदार संभावना वाले खिलाड़ियों का चयन किया गया। अतीत में, अदाणी ग्रुप द्वारा समर्थित चैंपियनों की शानदार सूची में मुक्केबाज शिवा थापा, मंदीप जांगड़ा और पिंकी रानी, ​​शॉट पुटर इंद्रजीत सिंह, रेस वॉकर खुशबीर कौर, लंबी दूरी की धावक संजीवनी जाधव और निशानेबाज मलाइका गोयल शामिल रह चुकी हैं।

‘गर्व है’ इनिशिएटिव के अंतर्गत दस जूनियर और नौ सीनियर एथलीटों को तैयार किया गया था, जिनमें से सात ने टोक्यो 2020 के लिए क्वालीफाई किया। ‘गर्व है’ के इन सात एथलीटों में से हर एक एथलीट चुनौतियों, असफलताओं और कठिनाइयों पर जीत हासिल करने के लिए प्रतिभा, दृढ़ संकल्प और प्रयास की एक महान कहानी है।

श्री प्रणव अदाणी, एमडी - एग्रो, ऑयल एंड गैस, ने कहा कि "मुझे इन एथलीटों पर गर्व है जो दुनिया में खेलकूद के सबसे महान मंच पर हमारे देश का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। उत्कृष्टता की इस ऊंचाई तक पहुंचने के लिए उन्होंने जो साहस, प्रतिबद्धता और दृढ़ विश्वास दिखाया है, वह उन्हें पहले ही विजेता बना देता है। उनकी वीरतापूर्ण यात्रा हमें एक राष्ट्र के रूप में प्रेरित करती है। मैं उन्हें शुभकामनाएं देता हूं, और नतीजे जो भी आएं, हम, एक राष्ट्र के रूप में, हमेशा उन पर गर्व करेंगे।”

ग्रुप ने भारतीय ओलंपिक संघ का आधिकारिक पार्टनर और टोक्यो ओलंपिक गेम्स 2020 के लिए भारतीय दल का आधिकारिक पार्टनर बनकर देश की खेल प्रतिभा के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को और अधिक मजबूती प्रदान की है।

प्रोग्राम के बारे में अधिक जानकारी यहां उपलब्ध है: https://adanisportsline.com/Garv-Hai

‘गर्व है’ इनिशिएटिव के ओलंपियनों के बारे में

गुजरात की अंकिता रैना पांच साल की उम्र से ही टेनिस के प्रति आकर्षित रहीं। आज वह भारत की शीर्ष रैंकिंग वाली टेनिस खिलाड़ी हैं। वे 2016 में अदाणी ग्रुप से जुड़ी थीं।

हरियाणा के शाहबाद की रानी रामपाल भारत की महिला हॉकी टीम का नेतृत्व करेंगी। अपने दृढ़ निश्चय से रानी ने उन सभी बाधाओं को तोड़ दिया है, जो खेलकूद की दुनिया में महिलाओं को आने से रोकती हैं।

अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित मुक्केबाज अमित पंघल का परिवार दिवंगत प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के 'जय जवान, जय किसान' के आह्वान का प्रतीक है। उनके बड़े भाई भारतीय सेना में हैं और उनके पिता खेती से जुड़े हैं, जबकि अमित पंघल देश की मुक्केबाजी का प्रतिनिधित्व करते हैं। अमित का वजन 52 किलोग्राम है। उन्होंने वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप 2019 में रजत पदक, एशियन चैंपियनशिप 2019 में स्वर्ण पदक और एशियन चैंपियनशिप 2021 में रजत पदक जीता है।

रेस वॉकिंग में प्रसिद्धि पाने वाले केरल निवासी के. टी. इरफान ने टोक्यो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए क्वालीफाई किया। के. टी. इरफान ने एशियन रेस वॉकिंग चैंपियनशिप 2017 में कांस्य पदक जीता है।

भारतीय सेना में नायब सूबेदार, दीपक पुनिया प्रसिद्ध फ्रीस्टाइल पहलवान हैं। उनका वजन 86 किलोग्राम है। उन्होंने वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप 2019 में रजत पदक और वर्ल्ड जूनियर रेसलिंग चैंपियनशिप 2019 में स्वर्ण पदक जीता है।

भारत के शीर्ष भाला फेंक खिलाड़ी शिवपाल सिंह टोक्यो ओलंपिक में अपनी संभावनाओं को लेकर आश्वस्त हैं। उन्होंने वर्ल्ड मिलिट्री गेम्स 2019 में स्वर्ण पदक और एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप 2019 में रजत पदक जीता है।

फ्रीस्टाइल पहलवान रवि कुमार दहिया वर्तमान में 57 किलोग्राम भार वर्ग में दुनिया में तीसरे स्थान पर हैं। उन्होंने विश्व चैम्पियनशिप 2019 में कांस्य पदक और 2019 और 2021 में एशियाई चैम्पियनशिप में दो स्वर्ण पदक जीता है। 

अदाणी ग्रुप के बारे में

अदाणी ग्रुप एक वैविध्यपूर्ण भारतीय इंफ्रास्ट्रक्चर समूह है, जिसका बाजार पूंजीकरण 89 बिलियन अमेरिकी डॉलर (21 जुलाई 2021 तक) से अधिक है, और जिसमें छह सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली कंपनियां शामिल हैं। इसने अखिल भारतीय उपस्थिति के साथ एक विश्व स्तरीय इंफ्रास्ट्रक्चर पोर्टफोलियो बनाया है। अदाणी ग्रुप का मुख्यालय भारत के गुजरात राज्य के अहमदाबाद में है। पिछले कुछ वर्षों में, अदाणी ग्रुप वैश्विक मानकों के लिए बेंचमार्क किए गए ओ एंड एम प्रथाओं के साथ बड़े पैमाने पर इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में मार्केट लीडर बन गया है। चार आईजी रेटेड व्यवसायों के साथ, यह भारत में एकमात्र इन्फ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट ग्रेड इश्यूअर है।
अदाणी ग्रुप अपनी सफलता और नेतृत्वकारी भूमिका का श्रेय ‘राष्ट्र निर्माण’ के मूल दर्शन को देता है, जो ‘ग्रोथ विथ गुडनेस’ के विचार द्वारा संचालित है। यह विचार सस्टेनेबल विकास के लिए मार्गदर्शक सिद्धांत है। अदाणी ग्रुप सस्टेनेबिलिटी, विविधता और साझा मूल्यों के सिद्धांतों के आधार पर अपने सीएसआर प्रोग्राम के जरिये जलवायु संरक्षण पर जोर देने और सामुदायिक पहुंच बढ़ाने के साथ अपने व्यवसायों को जोड़ते हुए अपने ईएसजी लक्ष्यों के लिए प्रतिबद्ध है।
इस विज्ञप्ति के बारे में अधिक जानकारी के लिए, कृपया रॉय पॉल से media@adani.com पर संपर्क करें।
Comments
Popular posts
जल्दी करें; वॉइस ऑफ सीनियर्स के रजिस्ट्रेशन्स की लिंक कल तक ही खुली है
Image
कैटरीना कैफ ने के ब्यूटी की पहली किस प्रूफ मैट लिक्विड लिपस्टिक लॉन्च की
Image
परिवहन विभाग एवं भारतीय वन सेवा के अधिकारियों के थोकबंद तबादले
Image
नायका द्वारा पेश है जेंटलमैन्स क्रू हाई क्वालिटी वाले ग्रूमिंग और पर्सनल केयर प्रोडक्ट्स की हॉलिस्टिक रेंज
Image
अदाणी पोर्ट्स ने 2,800 करोड़ रुपये में विश्वसमुद्र होल्डिंग्स की 25% हिस्सेदारी के अधिग्रहण से कृष्णापत्तनम पोर्ट में अपना स्वामित्व 75% से बढ़ाकर 100% किया
Image