दंश को सोनी सब ‘हीरो- गायब मोड ऑन’ में मिली अपनी असली पहचान


सो
नी सब का ‘हीरो-गायब मोड ऑन’ अपने कुछ बेहद ही हैरतअंगेज और रोमांचक ट्विस्टे और टर्न के साथ दर्शकों को रोमांच का अनुभव करा रहा है। वीर (अभिषेक निगम) और शिवाय (सिद्धार्थ निगम) के बीच बेहतरीन दोस्तीर के साथ धमाकेदार सीक्वेंेस ने शो के स्तेर को कई गुना बढ़ा दिया। फैन्सो को आगे और भी दिलचस्पm ट्विस्टा देखने को मिलेंगे। इसके आगामी एपिसोड में नज़र आयेगा कि दंश (मनीष वाधवा) एक ऐसे चौंका देने वाले सच से रूबरू होगा कि उसे उस मामले को अपने हाथ में लेने के लिये मजबूर होना पड़ेगा। वह मामले की पड़ताल करना शुरू कर देता है। 

अब चीजें हैरान कर देने वाली सच्चागई की तरफ आगे बढ़ रही हैं। दर्शक देखेंगे कि दंश को अपनी जिंदगी के 15 साल पहले की धुंधली सी तस्वीुरें और झलक नज़र आती हैं। उसे उस समय की बातें याद हैं जब वह एलियन कम्युहनिटी का हेड बना था और उसके पहले की कोई भी बात उसे याद नहीं। वीनस पर उसके बारे में कोई भी रिकॉर्ड मौजूद नहीं है, जिसकी वजह से उसके मन में कई सारे सवाल उठने लगते हैं। आखिरकार उसे धोखेबाजी की बू आने लगती है और वह खुद ही सारी चीजों की छानबीन करना शुरू कर देता है। उसे पता चलता है कि वह इस ग्रह का है ही नहीं और असलियत में तो वह अमल नंदा है। जोकि धरती का एक जाना-माना वैज्ञानिक है जो कई दशक से गायब है और अपनी जादुई अंगूठी की तलाश में है। 

दंश का अगला कदम क्या होगा? क्या वह इस बारे में गुरु शुक्राचार्य से सवाल पूछेगा?

दंश की भूमिका निभा रहे, मनीष वाधवा कहते हैं, ‘’यह दंश के लिये जिंदगी बदल देने वाला पल है, क्योंाकि उसे पता चतला है कि वह अमल नंदा है और सिर्फ एक खुफिया एजेंडे के लिये उसे इतना बड़ा धोखा दिया गया है। इस नई बात से वह पूरी तरह से हिल जाता है और टूट जाता है। इस सीन को करने के दौरान मेरा मकसद था दर्शकों को चौंकाना और उसके गुरु शुक्राचार्य ने दंश के साथ जो धोखा किया है उसके इमोशन को सही रूप में पेश करना। दर्शकों के लिये यह देखना दिलचस्पग होगा कि आगे क्या होने वाला है। अब दंश क्याक करेगा और किस तरह इसका जवाब देगा। शो में ऐसे ही कई सारे रोचक सीक्वेंिस देखने के लिये बने रहिये हमारे साथ और इसी तरह हमें प्याकर और सपोर्ट देते रहिये।‘’ 

देखते रहिये, ‘हीरो'-गायब मोड ऑन’ सोमवार से शुक्रवार, रात 8 बजे सिर्फ सोनी सब पर

Comments
Popular posts
अवंतिकानाथ राजाधिराज भगवान महाकाल राजसी ठाट-बाट के साथ नगर भ्रमण पर निकले; भगवान महाकाल ने भक्तों को चारों रूप में दिये दर्शन
Image
मोक्षदायिनी माँ क्षिप्रा....जानें, कैसे प्रसिद्ध हुआ मोक्षदायिनी नदी का नाम क्षिप्रा ?
Image
वार्षिक विवरणी ऑनलाइन दाखिल करने के लिए पंजीकरण अनिवार्य
Image
कुक्कू ओटीटी ऐप ने अपने एस्टीम्ड सब्सक्राइबर्स के लिए नए साल में एंटरटेनिंग वेब सीरीज की कतार लगाई
Image
श्री महाकालेश्वर मंदिर में संध्या आरती पश्चात होलिका का दहन हुआ संपन्‍न
Image