समाज और पारिवारिक उलझनों के बीच घिरा भीमराव


ण्डटीवी के 'एक महानायक- डाॅ. बी. आर. आम्बेडकर' के आगामी एपिसोड में दर्शक भीमराव की जिंदगी को दोराहे पर खड़ा देखेंगे। उन्हें हर तरफ से ही मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। सर्वज्ञ महाराज का मास्टर प्लान भीम की कम्युनिटी में फूट डालने में कामयाब हो गया है। अंत में भीमराव और बाला के बीच भी मतभेद होने लगते हैं। बाला का साथ ना मिलने पर भीम काफी दुखी है। वहीं दूसरी तरफ, अपनी बुआ को मजबूरी में विधवा नियमों को निभाते हुए देखकर आज वह असहाय महसूस कर रहा है। जिसके खिलाफ उसने आवाज उठाई, आज उसे चुपचाप होते हुए देखना पड़ रहा है। ये सारी चीजें एक क्रांति की तरफ ले जाती हैं और चीजें कहीं ज्यादा भयावह रूप ले लेती हैं। इन चीजों के हाथ से फिसलते रहने पर भीमराव कैसे इस स्थिति से लड़ पाएगा? मौजूदा ट्रैक के बारे में बताते हुए, रामजी सकपाल की भूमिका निभा रहे, जगन्नाथ निवांगुने कहते हैं, "बेहद अकल्पनीय परिस्थिति में फंसकर भीमराव बहुत ही लाचार और दुखी नजर आ रहा है। अपने आस-पास की समस्याओं का हल ना मिलने पर उसे और भी तकलीफ होती है। क्या इस बार महाराज भीम को अपनी कम्युनिटी और परिवार से दूर करने में सफल हो पाएंगे। और अधिक जानने के लिए देखिए, एण्डटीवी का शो 'एक महानायक- डाॅ. बी. आर. आम्बेडकर' हर सोमवार से शुक्रवार, रात 8:30 बजे।"