खरीदी केन्द्र पर अव्यवस्था पर दो समिति प्रबंधको का एक-एक दिन का वेतन काटने के निर्देश


उज्जैन।
जिला आपूर्ति नियंत्रक श्री एमएल मारू ने जानकारी दी कि रबी वर्ष 2021-22 में खरीदी केन्द्रों का सतत् एवं सघन निरीक्षण किया जा रहा है। विगत दिनों अपर कलेक्टर एवं नाोडल जिला उपार्जन श्री अवि प्रसाद, जिला आपूर्ति नियत्रंक श्री एम.एल.मारू, उपायुक्त सहकारिता श्री ओ.पी गुप्ता द्वारा खरीदी केन्द्र इंगोरिया का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण में मौके पर किसानों से तौल करना पाया गया एवं अधिक ट्रालियां तौल हेतु लम्बित रहने पर तौलकांटे बढाकर किसानों से उनकी उपज समय पर तौल हेतु समिति प्रबंधक को निर्देशित किया गया।

साथ ही दल द्वारा खरीदी केन्द्र चिकली का औचक निरीक्षण किया गया, जिसमें खरीदी केन्द्र पर विगत 11 अप्रैल को इंगोरिया कैंप के सर्वेयर द्वारा गेहूं का ट्रक रिजेक्ट करना पाया गया एवं अच्छा गेहूं होने के बावजूद रिजेक्ट किया गया। एफसीआई द्वारा उसी गेहूं को रेक में एफएक्यू होने पर परिदान में प्राप्त किया गया। प्रकरण में इंगोरिया कैंप के सर्वेयर एवं ब्रांच मैनेजर वेयर हाउस द्वारा बरती गई लापरवाही पर अपर कलेक्टर द्वारा जिला स्तरीय जांच के आदेश दिये गये एवं सेम्पल भी प्राप्त किया।

दल द्वारा खरीदी केन्द्र घडसिंगा, लिम्बोदा, रातडिया एवं एपीओ कढाई के निरीक्षण में पाया गया कि खरीदी केन्द्र पर संस्था प्रबंधक द्वारा तिरपाल की उचित व्यवस्था नहीं की गई है एवं बिना तिरपाल के उपार्जित स्कंध के स्टेक लगाये गये हैं। इस पर अपर कलेक्टर द्वारा अप्रसन्नता व्यक्त कर संस्था प्रबंधक श्री अर्जुन जोशी तथा संस्था रातडिया के संस्था प्रबंधक श्री देवदत बरवे का तत्काल एक-एक दिन का वेतन काटने के निर्देश उपायुक्त सहकारिता को दिये गये। कृषि उत्पादक संगठन कढाई द्वारा तिरपाल नहीं लगाने पर संस्था प्रबंधक को कारण बताओ सूचना पत्र जारी कर स्पष्टीकरण लेने हेतु जिला आपूर्ति नियंत्रक को निर्देशित किया गया।

दल के निरीक्षण में यह भी पाया गया कि परिवहनकर्ता सेक्टर बड़नगर द्वारा परिवहन में अपेक्षित प्रगति नहीं होने, तत्काल वाहन संख्या बढाने एवं तीन दिवस में समस्त परिवहन करने की सख्त चेतावनी दी गई एवं लम्बित स्कंध एवं 72 घण्टे में उपार्जित स्कंध नहीं उठाने पर जिला प्रबंधक नागरिक आपूर्ति निगम को तत्काल पैनल्टी लगाने निर्देश दिये गये। शासन द्वारा उपार्जन नीति एवं निर्देश अनुसार गत 14 अप्रैल को भी एसएमएस दिनांक के किसानों से सभी संस्थाओं को खरीदी हेतु निर्देश जारी किये गये हैं। निरीक्षण दल में उपायुक्त सहकारिता के साथ कनिष्ट आपूर्ति अधिकारी नारायण सिंह मुवेल भी सम्मिलित थे।