मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा वीसी के माध्यम से "मैं कोरोना वॉलेंटियर" अभियान के तहत वॉलेंटियर्स से चर्चा की गई


उज्जैन। मुख्यमंत्री और मध्य प्रदेश जनअभियान परिषद के अध्यक्ष श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से "मैं कोरोना वॉलेंटियर" अभियान के अन्तर्गत वॉलेंटियर्स से चर्चा की गई। इसमें सर्वप्रथम जनअभियान परिषद के उपाध्यक्ष श्री विभाष उपाध्याय द्वारा प्रदेश में चल रहे कोरोना महामारी में जनअभियान परिषद को दी गई जिम्मेदारियों के लिये आभार व्यक्त करते हुए प्रदेश में 92800 पंजीकृत वॉलेंटियर्स और प्रदेश के जिलों में किये गये उल्लेखनीय कार्यों के बारे में बताया गया तथा ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में मास्क स्वयंसेवक, वेक्सीन स्वयंसेवक, चिकित्सा स्वयंसेवक और मोहल्ला टोली स्वयंसेवक के माध्यम से जन-जागरूकता कार्यक्रम किया जा रहा है।

वीसी में मुख्यमंत्री द्वारा सीधे वॉलेंटियर्स से चर्चा करते हुए उज्जैन से देवी अवन्तिका जनकल्याण समिति की सदस्य श्रीमती रजनी नरवरिया द्वारा बताया गया कि वार्ड में संयोजक एवं सह-संयोजक के माध्यम से डोर टू डोर जाकर जन-जागरण कार्य किया जा रहा है और होम क्वारेंटाईन लोगों को आवश्यक सामग्री उपलब्ध कराई जा रही है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा इस अभियान को जनता का अभियान बनाये जाने की वॉलेंटियर्स से अपील की गई और जनता स्वयं जनता कर्फ्यू लगाये। ऐसे लोगों को प्रेरित करते हुए जनअभियान परिषद के वॉलेंटियर्स से आग्रह किया। जनअभियान परिषद द्वारा स्लोगन दिया गया है कि "हम स्वस्थ तो उज्जैन स्वस्थ"। वीसी में जिला जनअभियान परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष श्री राजीव पाहवा, श्री मोहन खंडेलवाल, श्री विजय शर्मा, श्री रूपेश परमार, सुश्री रचना शर्मा, श्री राजेन्द्र सोनी, श्री नरेन्द्र कछवाय, श्रीमती मीना त्रिवेदी, श्री अरूण व्यास एवं जिला समन्वयक श्री सचिन शिंपी मौजूद थे।