दिव्यांगों के नवीन प्रमाण-पत्र बनाने के लिये जनपदवार शिविर आयोजित करने के निर्देश

कलेक्टर ने स्थानीय स्तर की समिति की बैठक में दिये निर्देश

उज्जैन। कलेक्टर श्री आशीष सिंह ने आज सामाजिक न्याय विभाग के अन्तर्गत संचालित दिव्यांगों के लिये विभिन्न कार्यक्रमों की समीक्षा की एवं दिशा-निर्देश दिये। कलेक्टर ने संयुक्त संचालक सामाजिक न्याय को कहा है कि स्पर्श पोर्टल के अनुसार पेंशन के लिये 2344 दिव्यांग हितग्राहियों को नवीन दिव्यांग प्रमाण-पत्र बनाने के लिये जनपद पंचायत स्तर पर शिविर का आयोजन किया जाये। कलेक्टर ने कहा है कि जिले के सभी क्षेत्रों को विभिन्न क्लस्टरों में बांटकर अलग-अलग तिथियों में शिविर आयोजित किये जायें। बैठक में संयुक्त संचालक सामाजिक न्याय श्री सीएल पंथारी, जिला स्तरीय समिति के सदस्य स्नेह संस्था नागदा के श्री पंकज मारू, श्री विक्रम चंद्रवंशी, श्री संजय सक्सेना, श्री दिलीपसिंह सिरोहिया सहित विभिन्न अधिकारी मौजूद थे।

बैठक में निर्णय लिया गया कि निराश्रित निधि की ब्याज की राशि से प्रत्येक जनपद पंचायत स्तर पर 25-25 ट्रायसिकल, बैसाखी, व्हील चेयर एवं श्रवण यंत्र क्रय करके भेजे जायें, जिससे दिव्यांगों को जनपद स्तर पर ही उक्त सामग्री वितरित की जा सके। कलेक्टर ने सामग्री क्रय करने के लिये केन्द्र सरकार के ई-जेम पोर्टल के माध्यम से क्रय की प्रक्रिया करने के लिये कहा है। बैठक में बताया गया कि मानसिक रूप से अविकसित एवं 18 वर्ष से अधिक आयु के दिव्यांगों के कुल 21 प्रकरण लीगल गार्जियनशिप के लिये तैयार हो चुके हैं। कलेक्टर ने इस सम्बन्ध में आगामी कार्यवाही करने के निर्देश दिये हैं। बैठक में बताया गया कि दिव्यांगों को स्कील डेवलपमेंट प्रशिक्षण कार्यक्रम के अन्तर्गत वर्तमान में खाचरौद जनपद में प्रशिक्षण दिया जा रहा है। शेष जनपदों में भी प्रशिक्षण देने के प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान की गई।