आज की बात आपके साथ - विजय निगम

            ॐ गं गणपतये नमः।।

ॐनम:भगवतेवासुदेवायआदित्यायसुर्याय नम:

 "" या देवी सर्व भुतेशू शक्तिरूपेण सांस्थिता 

     नमस्तस्ये नमस्तस्ये नमस्तस्ये नमो नम:

ॐयमाय धर्मराजाय श्री चित्रगुप्ताय नमो नमः.  

🌻💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐💐🌻..

प्रिय साथियो। 

🌹राम-राम🌹 

🌻 नमस्ते।🌻

आज की बात आपके साथ मे आप सभी साथीयों का दिनांक दिनाँक 20 दिसंबर 2020.रविवार की प्रातः की बेला में हार्दिक वंदन है अभिनन्दन है।

🌻💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐💐🌻

आज की बात आपके साथ  अंक मे है 

 A कुछ रोचक समाचार

B.आज केदिनजन्मे प्रसिद्ध राजनीतिज्ञ न्यायविद,गोकरननाथ मिश्र का जीवन परिचय लेख। 

C आज के दिन   की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ

D आज के दिन जन्म लिए महत्त्वपूर्ण    

    व्यक्तित्व

E आज के दिन निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व।

F आज का दिवस का नाम ।

🌻💐🌲🌸🌲🌹💐💐🌻

  (A) कुछ रोचक समाचार(संक्षिप्त)

💥(A/1)प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एसोचैम के स्थापना सप्ताह का शुभारंभ करेंगे।💥

🏵️(A/2)आकाश में उड़ाने तेज हुई लेकिन लॉक डाउन के बाद से नियमित उड़ान में 51% यात्रियों की कमी🏵️

🏵️(A/3)PM मोदी बोले-हरशंका दूर करने को तैयार, 25 को करेंगे किसानों से बात🏵️

🏵️(A/4) मनोरंजन: हेमामालिनी से एक्टर संजीव कुमार से बेपनाह मोहब्बत करते थे

उनके इनकार के बाद ताउम्र रहे कुंवारे।🏵️

🏵️(A/4-A)KBC 12: अमिताभ बच्चन ने पहली बार शो के बीच में कर दी ये गलती, मांगी माफी🙏🏵️

🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐(A)कुछ रोचक समाचार(विस्तृत)

💥(A/1)प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एसोचैम के स्थापना सप्ताह का शुभारंभ करेंगे।💥

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एसोचैम के स्थापना सप्ताह का शुभारंभ करेंगे। इस अवसर पर वह उद्योग जगत से जुड़े लोगों को संबोधित भी करेंगे। पीएमओ से मिली जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी रतन टाटा को एसोचैम एंटरप्राइज ऑफ दी सेंचुरी अवॉर्ड से भी सम्मानित करेंगे। रतन टाटा यह अवॉर्ड टाटा समूह की ओर से स्वीकार करेंगे।

एसोचैम की स्थापना देश के सभी क्षेत्रों के प्रवर्तक चैंबरों ने 100 साल पहले की थी। एसोचैम के तहत 400 से अधिक चैंबर और व्यापार संघ जुड़े हैं। देशभर में इन चैंबरों के सदस्यों की संख्या 4.5 लाख से अधिक है।

शुक्रवार को पीएम मोदी ने किसान महासम्मेलन को संबोधित किया था। इस मौके पर उन्होंने कहा था कि देश के किसानों की समृद्धि को बढ़ावा देना केंद्र सरकार का मकसद है। उन्होंने कहा पिछले छह साल के दौरान केंद्र सरकार ने कई स्तरों पर खेती और किसानी को मजबूती देने के लिए कदम उठाए हैं। कृषि सुधार कानून भी उसी दिशा में उठाया गया एक प्रभावी कदम है।

🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻🏵️(A/2)आकाश में उड़ाने तेज हुई लेकिन लॉक डाउन के बाद से नियमित उड़ान में 51% यात्रियों की कमी🏵️

नई दिल्ली। लॉकडाउन  में ग्राउंडेड हुए एयरक्राफ्ट अब हवा में हैं, ज्यादा से ज्यादा यात्रियों को साथ लेकर देश के भीतर सफर कराने की कोशिश हो रही है। बावजूद इसके अभी हवाई जहाज ( Airoplane ) खाली जा रहे हैं। पिछले साल की तुलना में अगर बात करें तो नवंबर महीने में देश के भीतर 51 फीसदी कम यात्रियों ( Air Traveller ) ने उड़ान भरी।

सबसे ज्यादा पैसेंजर लोड स्पाइसजेट ने उठाया, लेकिन वह मार्केट में 13.2 फीसदी के साथ दूसरे नंबर पर ही रही। जबकि 53.9 फीसदी बाजार इंडिगो के हाथ में रहा और सबसे ज्यादा यात्रियों को साथ लेकर उड़ने में कामयाब रही।

दरअसल, सरकार की कोशिशें अब ज्यादा से ज्यादा हवाई कंपनियों को यात्री मुहैया कराने की हो रही हैं। यही वजह है कि सितंबर में कंपनियों को एयरक्राफ्ट की क्षमता के 70 फीसदी तक टिकट बुक करने की छूट मिली थी, जबकि दिसंबर में यह बढ़ाकर 80 फीसदी कर दी गई।

बावजूद इसके नेशनल कैरियर एयर इंडिया सबसे ज्यादा बेकार हालत में रही। उसे सिर्फ साढ़े छह लाख यात्री ही मिले। जबकि उसका पैसेजेंर लोड 69.6 ही रहा। पैसेंजर लोड का मतलब अपनी क्षमता के हिसाब से या त्री उपलब्ध हो पाना।

🏵️अक्टूबर से 123 फीसदी ज्यादा यात्री मिले नवंबर में🏵️

एयरलाइसं कंपनियों को अक्टूबर की तुलना में 123 फीसदी पैसेंजर मिले। अक्टूबर में कुल यात्रियों की संख्या 52.7 लाख थी, जबकि नवंबर में उड़ने वाले यात्रियों की संख्या 63 लाख को पार कर गई। हालांकि दिसंबर में भी कंपनियों को कुछ तेजी आने का अनुमान है।

         🏵️आंकड़ों पर एक नजर🏵️

- 63.5 लाख यात्री उड़े नवंबर में

- 52.7 लाख यात्री उड़े अक्टूबर में

- 80 फीसदी सीटें एयरक्राफ्ट की बेचने की छूट मिली दिसंबर शुरुआत में

- 53.9 फीसदी मार्केट के साथ पहले नंबर पर रही इंडिगो, 74 फीसदी रहा पैसेंजर लोड, 34.2 लाख यात्रियों ने भरी उड़ान

- 13.2 फीसदी मार्केट के साथ दूसरे नंबर पर रही स्पाइसजेट, 77 फीसदी रहा पैसेंजर लोड, 8.4 लाख यात्रियों ने भरी उड़ान

- 10.3 फीसदी मार्केट के साथ तीसरे नंबर पर रही एयर इंडिया, 69.6 फीसदी रहा पैसेंजर लोड, 6.6 लाख यात्रियों ने भरी उड़ान

- 9.1 फीसदी मार्केट ले पाई गो-एयर, 70.8 फीसदी रहा पैसेंजर लोड, 5.8 लाख लोगों ने भरी उड़ान

- 6.3 फीसदी मार्केट ही हासिल कर पाई टाटा समूह और सिंगापुर एयरलाइंस की कंपनी विस्तारा, 70.8 फीसदी रहा पैसेंजर लोड, 4 लाख यात्रियों ने भरी उड़ान

- 4.2 लाख यात्रियों को पसंद आई एयर एशिया, भरी उड़ान

- 2.37 फीसदी निरस्त रहीं एयर इंडिया की फ्लाइट, सबसे ज्यादा फ्लाइट कैंसिल करने वाली एयरलाइंस

- 1.27 फीसदी औसत यात्री फ्लाइट हुईं निरस्त

🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻🏵️(A/3)PM मोदी बोले-हरशंका दूर करने को तैयार, 25 को करेंगे किसानों से बात🏵️

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को मध्य प्रदेश के किसानों के साथ संवाद किया. इस दौरान पीएम मोदी ने विपक्ष पर जमकर हमला बोला और किसानों को गुमराह करने का आरोप लगाया.

किसानों संग पीएम मोदी का संवाद (PTI)

हाइलाइट्स

किसानों संग पीएम मोदी का संवाद

झूठे आंसू बहा रहा है विपक्ष: PM मोदी

विपक्ष ने स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू नहीं की: PM

किसानों को गुमराह कर रही पार्टियां: PM

     🏵️किसानों को पीएम का संदेश🏵️

पीएम मोदी ने कहा कि अगर अब भी किसी को आशंका है, तो हम सिर झुकाकर-हाथ जोड़कर हर मुद्दे पर बात करने के लिए तैयार हैं. देश का किसान, किसानों का हित हमारे लिए सर्वोच्च है. पीएम मोदी ने कहा कि 25 दिसंबर को एक बार फिर मैं देश के किसानों से बात करूंगा. ।

🏵️विपक्ष ने किसान कर्ज के नाम पर किसानों को लूटा: मोदी🏵️

PM मोदी ने बताया कि जितना ये वादा करते हैं उतना कभी कर्ज माफ नहीं करते थे,इसका

 फायदा कांग्रेस के करीबियों और रिश्तेदारों को मिलता था. ये सिर्फ बड़े किसानों का कर्ज माफकरते थेऔर समझते थे अपना काम पूरा हो गया. PM मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने 10 साल में एक बार 50 हजार करोड़ रुपये की कर्ज माफी की बात कही, लेकिन हमारी सरकार किसान सम्मान योजना में हर साल 75 हजार करोड़ दिया जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अगर पुरानी सरकारों को चिंता होती तो देश में 100 सिंचाई प्रोजेक्ट नहीं लटकते. हमारी सरकार करोड़ों रुपये खर्च कर इन योजनाओं को मिशन मोड में पूरा कर रही है. सरकार किसानों की लागत कम करने में लगी है, सस्ते में सोलर पंप दिए जा रहे हैं. पीएम मोदी ने कहा कि यूपीए सरकार में यूरिया की दिक्कतें होती थी, लेकिन आज वो परेशानी खत्म हो गई हैं. इन लोगों के वक्त में सब्सिडी किसान के नाम पर चढ़ती थी, लेकिन लाभ किसी और को मिलता था. हमारी सरकार ने भ्रष्टाचार खत्म कर सीधे किसानों के खाते में पैसा दिया.

  🏵️कांग्रेस पर पीएम मोदी का हमला🏵️

पीएम मोदी ने कहा कि मुझे क्रेडिट मत दो, आपके पुराने घोषणापत्रों को क्रेडिट देता हूं. मैं किसानों को भला चाहता हूं, आप किसानों को भ्रमित करना छोड़ दें. ये कानून लागू हुए 6 महीने से अधिक वक्त हो गया, लेकिन अचा

नक विपक्ष ऐसे मुद्दे को उठा रहा है. किसानों के कंधे पर बंदूक रखी जा रही है. 

पीएम ने कहा कि जिनकी राजनीतिक जमीन खिसक गई है, आज वो किसानों को डरा रहे हैं कि उनकी जमीन चली जाएगी. पीएम मोदी बोले कि जो लोग आज आंसू बहा रहे हैं, उन्होंने आठ साल तक स्वामीनाथन रिपोर्ट को दबाए रखा. इन्होंने किसानों पर खर्च नहीं किया.  पीएम मोदी बोले कि हमने किसानों को डेढ़ गुना MSP दिया. कांग्रेस द्वारा की गई कर्जमाफी सबसे बड़ा धोखा है, MP में भी चुनाव के वक्त 10 दिन में कर्ज माफ करने की बात कही, लेकिन नहीं किया. राजस्थान में भी ऐसा ही हुआ. पीएम मोदी ने कहा कि कर्जमाफी की बात करते हैं, लेकिन छोटे किसानों के बारे में नहीं सोचते हैं.  

      🏵️विपक्ष पर बरसे पीएम मोदी🏵️

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि जो काम 25 साल पहले होने थे, वो आज करने पड़ रहे हैं. पीएम मोदी ने कहा कि किसानों की उन मांगों को पूरा कर दिया गया है, जिन्हें बरसों से रोका गया था. किसानों के लिए जो नए कानून बने हैं, ये रात-ओ-रात नहीं आए हैं. पिछले दो दशक से केंद्र, राज्य सरकार और संगठन इसपर मंथन कर रहे थे.  पीएम मोदी ने कहा कि जो अपने घोषणापत्र में इन सुधारों की वकालत करते थे, लेकिन कभी लागू नहीं किया. पीएम मोदी ने कहा कि अगर पार्टियों के पुराने घोषणापत्र, कृषि क्षेत्र संभालने वाले लोगों की चिट्ठी देखी जाए तो वहीं बातें नए कृषि सुधारों में की गई हैं. आज विरोधियों को इस बात की तकलीफ है कि मोदी ने ऐसा कैसे कर दिया.   

🏵️किसानों से मोदी का संवाद शुरू🏵️

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्राकृतिक आपदाओं के कारण MP के किसानों को नुकसान हुआ, आज 35 लाख किसानों के खातों में 1600 करोड़ रुपये ट्रांसफर हो रहे हैं. ऐसे में कोई बिचौलिया नहीं है, सीधे सरकार से किसानों को मदद की जा रही है. पीएम मोदी ने कहा कि आज किसान क्रेडिट हर किसी को मिल रहा है, इससे किसानों को कर्ज के मामले में कुछ आसानी हुई है.  

  🏵️किसानों को पीएम मोदी की सौगात🏵️

पीएम मोदी अब से कुछ देर में किसानों को संबोधित किया. इस दौरान करीब 1660 करोड़ रुपये 35 लाख किसानों के खाते में ट्रांसफर किए जाएंगे. किसानों की फसलों को विभिन्न वजहों से जो नुकसान हुआ, राज्य सरकार की ओर से उसकी भरपाई की जा रही है.

कृषि मंत्री ने लिखी थी किसानों को चिट्ठीकृषि 

कानूनोंकेविरोध में किसानोंकाप्रदर्शनलगातार

23 दिनों से जारी है. वहीं केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमरनेकिसानों के नामआठपन्नोंका

एक खुलापत्र लिखाहै.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीने 

सभी देशवासियों से कृषिमंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के किसानों के नाम लिखे गए पत्र को पढ़ने की अपील की है. 

क्या हैं कृषि मंत्री के वे 8 आश्वासन जिसके लिए PM मोदी ने कहा- सभी किसान पढ़ें  

 🏵️किसानों से पीएम मोदी का संवाद🏵️

कृषि कानूनों पर जारी विरोध के बीच सरकार की ओर से किसानों से संवाद साधने की कोशिश हो रही है. इसी कड़ी में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मध्य प्रदेश के किसानों को संबोधित करेंगे. शिवराज सरकार किसान सम्मेलन का आयोजन कर रही है, जिसके जरिए पीएम मोदी करीब 23 हजार पंचायतों के किसानों को संबोधित करेंगे. कृषि कानून पर जारी घमासान को लेकर पीएम मोदी सीधे किसानों से सरकार का पक्ष रख सकते हैं. पीएम मोदी का संबोधन करीब दोपहर दो बजे होगा. 

🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻🏵️(A/4) मनोरंजन: हेमामालिनी से एक्टर संजीव कुमार से बेपनाह मोहब्बत करते थे

उनके इनकार के बाद ताउम्र रहे कुंवारे।🏵️ 

इंडस्ट्री में अपनी एक्टिंग के झंडे गाड़ चुके संजीव कुमार की लाइफ में एक ऐसा पल भी आया था जिसने उन्हें दिल ही दिल में गहरी चोट पहुंचाई थी. दरअसल, एक्टर संजीव कुमार एक्ट्रेस हेमा मालिनी से बेपनाह प्यार करते थे.

अपनी निराली एक्टिंग स्किल्स से लोगों को दीवाना बनाने वाले एक्टर संजीव कुमार आज इस दुनिया में नहीं है लेकिन उनसे जुड़े किस्से आज भी इंडस्ट्री में सुने और सुनाए जाते हैं. संजीव कुमार का असली नाम हरिहर जेठालाल जरीवाला था और उनका जन्म गुजरात में हुआ था. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो संजीव कुमार को बचपन से ही एक्टिंग का शौक था।.

संजीव कुमार को एक्टिंग में एक्सपेरिमेंट करने के लिए भी जाना जाता है. ख़बरों की मानें तो संजीव जब महज 22 साल के थे तब उन्होंने 60 साल के एक आदमी का किरदार निभाया था. बहरहाल, इंडस्ट्री में अपनी एक्टिंग के झंडे गाड़ चुके संजीव की लाइफ में एक ऐसा पल भी आया था जिसने उन्हें दिल ही दिल में गहरी चोट पहुंचाई थी.

  🏵️ हेमा मालिनी से बेपनाह मोहब्बत करते थे संजीव कुमार, उनके इनकार के बाद ताउम्र रहे कुंवारे🏵️

दरअसल, एक्टर संजीव कुमार एक्ट्रेस हेमा मालिनी से बेपनाह प्यार करते थे. संजीव ने अपने दिल की बात हेमा को बताई भी लेकिन बात कुछ जमी नहीं, असल में उस वक़्त तक हेमा अपना दिल बॉलीवुड के हीमैन धर्मेन्द्र को दे चुकी थीं. हेमा के ना कहने का नतीजा यह हुआ कि एक्टर संजीव कुमार ताउम्र कुंवारे ही बने रहे. ख़बरों की मानें तो संजीव कुमार को उस दौर में एक्ट्रेस सुलक्षणा पंडित बहुत चाहती थी. हालांकि, जब संजीव ने यह ठान लिया कि वह अब शादी नहीं करेंगे तो एक्ट्रेस सुलक्षणा पंडित भी जीवन भर कुंवारी रहीं. बताते चलें कि एक्टर संजीव कुमार की महज 47 साल की उम्र में दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी।

🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐 💐

🏵️(A/4-A)KBC 12: अमिताभ बच्चन ने पहली बार शो के बीच में कर दी ये गलती, मांगी माफी🙏🏵️

लेटेस्ट एपिसोड में होस्ट अमिताभ बच्चन ने एक ऐसी गलती कर दी जिसके कारण उन्हें शो में दर्शकों से माफी मंगनी पड़ी.

KBC 12: अमिताभ बच्चन ने पहली बार शो के बीच में कर दी ये गलती, मांगी माफी

KBC 12: रियलिटी क्विज शो कौन बनेगा करोड़पति 12 हर दिन एक से एक दिलचस्प एपिसोड लेकर आ रहा है. ऐसे में लेटेस्ट एपिसोड में होस्ट अमिताभ बच्चन ने एक ऐसी गलती कर दी जिसके कारण उन्हें शो में दर्शकों से माफी मंगनी पड़ी. दरअसल, केबीसी स्टूडेंट स्पेशल वीक में जो बच्चे कंटेस्टेंट के तौर पर आ रहे हैं. उन्हें पैसों की जगह प्लवाइंट्स दिए जा रहे हैं. अमिताभ बच्चन को भी इन्हें पैसे नहीं प्वाइंट्स ही कहना है.

वहीं गेम के दौरन कई बार वो इन प्वाइंट्स को पैसे कह गए, जिसके कारण उन्होंने माफी मांगी और बताया कि जब ये नन्हें कटेस्टेंट्स 18 साल के पूरे हो जाएंगे तो उनके ये प्वाइंट्स, पैसों में बदल जाएंगे.

केबीसी 12 का लेटेस्ट एपिसोड रोल ओवर कंटेस्टेंट दीक्षा कुमारी से शुरु हुआ. बिहार के मधुबनी से आईं कंटेस्टेंट दीक्षा ने बताया कि वो पढ़ाई पूरी करने के बाद अपने गांव के लोगों को शिक्षा के लिए प्रेरित करना चाहती हैं. इसके अलावा को केबीसी से जीती रकम को भी गांव में स्कूल बनवाने और बने हुए स्कूलों को बेहरत बनाने में लगाना चाहती हैं.

बता दें कि दीक्षा ने काफी अच्छा गेम खेला इसके साथ ही फैंस अमिताभ बच्चन के इस अंदाज को भी काफी पसंद कर रहे है।

🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐 💐

🏵️(B)आज केदिनजन्मे प्रसिद्ध राजनीतिज्ञ न्यायविद,गोकरननाथ मिश्र का जीवन परिचय लेख।🏵️                    

          🏵️ गोकरननाथ मिश्र🏵️

           जीवन परिचय  लेख. 

पूरा नाम:- गोकरननाथ मिश्र 

जन्म:- 20 दिसम्बर, 1871

जन्मभूमि :-उत्तर प्रदेश 

मृत्यु :-जुलाई,1929 

कर्मभूमि :-भारत 

कर्म:--क्षेत्र राजनीतिज्ञ, न्यायविद

शिक्षा:- एम.एस.सी. (स्नातकोत्तर) विद्यालय लखनऊ विश्वविद्यालय

विशेष:- योगदान वर्ष 1915 से 1913 तक वे उत्तर प्रदेश में कौंसिल के सदस्य रहे। नागरिकता:-भारतीय 

             गोकरननाथ मिश्र 

सदा किसानों और निर्बल वर्गों का पक्ष लेते थे। समस्त विरोधों के बाद भी अपनी विधवा पुत्री का विवाह करके उन्होंने तत्कालीन रूढ़ि

वादसेजकड़ेसमाज केसमक्ष एकउच्चउदाहरण

प्रस्तुत किया था। गोकरननाथ मिश्र (अंग्रेज़ी: Gokrannath Mishra 

जन्म:- 20 दिसम्बर, 1871,

उत्तर प्रदेश;

मृत्यु- जुलाई, 1929

प्रसिद्ध:- राजनीतिज्ञ, नेता और न्यायविद

वर्ष 1898 ई. की लखनऊ कांग्रेस में उन्होंने पहली बार भाग लिया था। इसके बाद उन्होंने वर्ष 1920 तक कांग्रेस के होने वाले हर एक अधिवेशन में भाग लिया। गोकरननाथ मिश्र नरम विचारों वाले व्यक्ति थे, यही कारण था कि जब महात्मा गाँधी ने 'असहयोग आन्दोलन' प्रारम्भ किया, तब वे कांग्रेस से अलग हो गये। उन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में भी बहुत योगदान दिया था। जन्म तथा शिक्षा       

           गोकरननाथ मिश्र 

जन्म:- 20 दिसम्बर, 1871 ई. में उत्तर प्रदेश के हरदोई ज़िले में हुआ था। वे एक सनातनी ब्राह्मण परिवार से सम्बन्ध रखते थे। गोकरननाथ जी प्रारम्भ से ही प्रखर बुद्धि के प्रतिभाशाली छात्र रहे थे। उन्होंने अपनी स्नातक की परीक्षा बहुत ही अच्छे अंकों के साथ उत्तीर्ण की थी, इसीलिए उन्हें इंग्लैंण्ड जाकर आगे का अध्ययन करने के लिये नियमित छात्रवृत्ति भी मिलनी थी। किंतु प्राचीन रूढ़ीवादी विचारों वाले उनके दादा-दादी ने गोकरननाथ के विदेश जाने का बहुत विरोध किया, जिसके फलस्वरूप गोकरननाथ मिश्र आगे की उच्च शिक्षा के लिए इंग्लैंण्ड नहीं जा सके। बाद में उन्होंने 'लखनऊ विश्वविद्यालय' में प्रवेश ले लिया और यहाँ से एम.एस.सी. की परीक्षा उत्तीर्ण की और फिर यहीं से ही क़ानून की डिग्री भी प्राप्त की।व्यावसायिक जीवन की शुरुआत 'लखनऊ विश्वविद्यालय' से क़ानून की डिग्री प्राप्त करने के बाद गोकरननाथ मिश्र जी ने वकालत शुरू करने के साथ ही व्यावसायिक जीवन में कदम रखा। शीघ्र हीअपनी वकालत

 से उनकी प्रसिद्धि प्रदेश के प्रमुख वकीलों में होने लगी। इसके साथ ही अब वे कांग्रेस के कार्यों मे भी भाग लेने लगे। 

कांग्रेस का साथ वर्ष 1898 की लखनऊ कांग्रेस में उन्होंने पहली बार भाग लिया। अब उनका सम्बन्ध गंगाप्रसाद वर्मा, मदन मोहन मालवीय,मोतीलाल नेहरूऔर विशन नारायण दर जैसे तत्कालीन महान् नेताओं से हो गया। 1920 तक वे नियमित रूप से कांग्रेस के अधिवेशनों में जाते रहे और लोकहित के प्रश्न उठाते रहे। वर्ष 1915 से 1913 तक वे उत्तर प्रदेश में कौंसिल के सदस्य भी रहे। गोकरननाथ मिश्र नरम राजनीतिक विचारों के नेता थे। इसलिये राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के 'असहयोग आन्दोलन' आरंभ करने पर वे कांग्रेस से अलग हो गये। योगदान 1925 में उन्हें 'अवध चीफ़ कोर्ट' का न्यायाधीश नियुक्त किया गया। गोकरननाथ मिश्र सदा किसानों औरनिर्बल वर्गों का पक्ष लेते थे।समस्तविरोधों 

केबाद भीअपनी विधवा पुत्री काविवाह करके

उन्होंने तत्कालीन रूढ़िवाद से जकड़े समाज के समक्षएक उच्च उदाहरण प्रस्तुत किया था। शिक्षाके क्षेत्र में लखनऊ का महिला विद्यालय उनकेयोगदानका स्मारक है।बोर्डऑफ़इण्डिया

मेडिसिन' के अध्यक्ष उत्तर प्रदेश सरकार ने आयुर्वेदतथा यूनानीतिब्बी चिकित्सा पद्धतियों के विकास की व्यवस्था करने तथा उनके व्यवसाय को विनियमित करने, सुव्यवस्थित करने तथा संगठित करने हेतु सन 1925 में जस्टिस गोकरननाथ मिश्र की अध्यक्षता मे एक समिति गठित की थी, जिसकी संस्तुति के आधार पर 1926 में 'बोर्ड ऑफ़ इण्डिया मेडिसिन' की स्थापना कर भारतीय चिकित्सा प्रणालियों के विकास के लिए उपाय तथा साधन प्रस्तुत करने, वैद्यों तथा हकीमों का पंजीकरण करने,आयुर्वेद/यूनानी चिकित्सा

लयों तथा विद्यालयों को अनुदान देने,भारतीय 

चिकित्सा प्रणालियों के अध्ययन व अभ्यास के सम्बंध में नियंत्रण करने का कार्यभारसौपा गया।इस बोर्ड के प्रथम अध्यक्ष पंडित गोकरन

नाथमिश्र एवंसन 1929 में जस्टिस सर सैय्यद वजीर हसन हुए थे, जो सन 1946 तक इस पद पर कार्यरत रहे। निधन ग़रीबों औरनिर्बलों

के मददगार तथा राजनीति में प्रसिद्धि प्राप्त कर चुके गोकरननाथ मिश्र जी का निधन जुलाई, 1929 में हुआ।

🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻

(C) आज के दिन की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ💐

1923- बेगर फैटरनिटि (संयुक्तराज्यअमेरिका के जेसु

इट कॉलेज में स्थापित पहली सामाजिक बिरादरी) की 9 लोगों ने स्थापना की जो पोप से ऐसा करने की अनुमति हासिल कर चुके थे।

1951 - ओमान और ब्रिटेन के बीच समझौते के बाद ओमान स्वतंत्र हुआ।

1955 - भारतीय गोल्फ संघ का गठन।

1956 - अमेरिका में सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि बसों में होने वाले रंगभेद पर रोक लगाई जानी चाहिए।

1959 - भारतीय गेंदबाज जासू पटेल ने कानपुर में आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ 69 रन देकर नौ विकेट लिए।

1963 - जर्मनी में बर्लिन की दीवार को पहली बार पश्चिमी बर्लिनवासियों के लिए खोला गया।

1971 - जरनल याह्या ख़ाँ द्वारा पाकिस्तान के राष्ट्रपति पद से त्यागपत्र, जुल्फिकार अली भुट्टो राष्ट्रपति बने।

1971 - भारत और पाकिस्‍तान युध्‍द के दौरान ले. अरविंद दीक्षित शहीद हुए।

1973 - यूरोपीय देश स्पेन के तत्कालीन प्रधानमंत्री एडमिरल लुईस करेरो ब्लांको की मैड्रिड में एक कार बम हमले में मौत।

1976 - इजरायल के तत्कालीन प्रधानमंत्री यित्जाक राबिन ने अपने पद से इस्तीफा दिया।

🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐

(D)आज के दिन जन्म लिए महत्त्वपूर्ण व्यक्तित्व

1871 - गोकरननाथ मिश्र, भारत के प्रसिद्ध रसिद्ध राजनीतिज्ञ, नेता और न्यायविद।

1922- चैरिटा बोअर, अमेरिकी अभिनेत्री /सोप ओपेरा सितारा 

1936 - रॉबिन शॉ, प्रसिद्ध साहित्यकार।

1949 - कैलाश शर्मा - एकऐसे हिन्दी ब्लॉगर हैं, जिनका संसार बच्चों का संसार है।

1952 - राजकुमार सिंह - भारतीय जनता पार्टी के राजनीतिज्ञ हैं।

1960 - त्रिवेंद्र सिंह रावत - उत्तराखंड के आठवें मुख्यमंत्री।

🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻

(E)आज के दिन निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व।

1968 सोहन सिंह भकना समाजिक कार्यकर्ता

2010 - नलिनी जयवंत - भारतीय सिनेमा की सुन्दर व प्रसिद्ध अभिनेत्रियों में से एक।

🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻

(F) आज का दिन/दिवस का नाम

1.20दिसंबर मानव अन्तर्राष्ट्रीय एकता

2.गोकरननाथ मिश्र, भारत के प्रसिद्ध रसिद्ध राजनीतिज्ञ, नेता और न्यायविद। थे उनका आज जयंती दिवस है।

3. चैरिटा बोअर, अमेरिकी अभिनेत्री /सोप ओपेरा सितारा थे उनका आज जयंती दिवस है।

4. रॉबिन शॉ, प्रसिद्ध साहित्यकार थे उनका आज जयंती दिवस है।

5. - कैलाश शर्मा - एकऐसे हिन्दी ब्लॉगर हैं, जिनका संसार बच्चों का संसार है  उनका आज जन्म दिवस है।

6. सोहन सिंह भकना समाजिक कार्यकर्ता

उनका आज पुन्यतिथि दिवस है 

7.नलिनी जयवंत - भारतीय सिनेमा की सुन्दर व प्रसिद्ध अभिनेत्रियों में से एक थी उनका आज पुन्यतिथि दिवस है

🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐   

आज की बात -आपके साथ" मे आज इतना ही।कल पुन:मुलाकात होगी तब तक के लिये इजाजत दिजीये।

      आज जन्म लिये  सभी  व्यक्तियोंको आज के दिन की बधाई। आज जिनका परिणय दिवस हो उनको भी हार्दिक बधाई।  बाबा महाकाल से निवेदन है की बाबा आप सभी को स्वस्थ्य,व्यस्त मस्त रखे।

💐।जय चित्रांश।💐

💐जय महाकाल,बोले सो निहाल💐

💐।जय हिंद जय भारत💐

💐  निवेदक;-💐

💐 चित्रांश ;-विजय निगम।💐

Popular posts
महाकाल दर्शन हेतु महाकाल एप्प की लिंक एवं वेब साइट
Image
ऑटो पार्ट रिटेलर्स और वर्कशाप की दिक्कतें अब दूर हुईं; ऑटोमोबाइल सर्विस प्रोवाइडर गोमैकेनिक ने वापी में नया स्पेयर पार्ट्स फ्रैंचाइज़ी आउटलेट शुरू किया
Image
पियाजियो व्ही।कल्सऔ ने जयपुर में राजस्था न के अपनी तरह के पहले इलेक्ट्रिक व्हीजकल (ईवी) एक्सेपीरियेंस सेंटर का उद्घघाटन किया
Image
देश की एम्प्लॉयी फ्रेंडली कंपनी में शुमार हुआ पीआर 24x7; फीमेल स्टाफ के मासिक धर्म के लिए उठाया सार्थक कदम
Image
‘‘एक महिला को एक महिला से बेहतर कोई और नहीं समझ सकता’’, यह कहना है एण्डटीवी के ‘संतोषी मां सुनाएं व्रत कथाएं’ की तन्वी डोगरा का
Image