आज की बात आपके साथ - विजय निगम

           ।ॐ गं गणपतये नमः।।
   ।। ॐ महाशिवाय सोमाय नम:।।
ॐयमाय धर्मराजाय श्री चित्रगुप्तवे नमो नमः।💐
🌻💐🌹🌲🌸🌲🌹💐💐🌻
प्रिय साथियो। 
🌹राम-राम🌹
🌻 नमस्ते।🌻
आज की बात आपके साथ मे आप सभी साथीयों का दिनांक 23नवम्बर 2020 सोमवार प्रातः की बेला में हार्दिक वंदन है अभिनन्दन है।
🌻💐🌹🌱🌸🌲🌹💐💐🌻
आज की बात आपके साथ  अंक मे है 
 A. कुछ रोचक समाचार
B.आज के दिन जन्मे भारत के प्रसिद्ध
 अत्याधिक प्रभावशाली अध्यात्मिक गुरुओं में से एकसत्य साईं बाबा.उर्फ सत्यनारायण 
राजू 
C. आज के दिन   की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ
D. आज के दिन जन्म लिए महत्त्वपूर्ण    
    व्यक्तित्व
E. आज के दिन निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व।
F. आज का दिवस का नाम ।
🌻💐🌲🌸🌲🌹💐💐🌻
  (A) कुछ रोचक समाचार(संक्षिप्त)
🌺(A/1)उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर और सोनभद्र जिलों में पेयजल आपूर्ति की 23 परियोजनाओं की आधारशिला रखी। पीएम मोदी🌺
🌺(A/2)दिल्ली मे छाई कोहरे की धुंध, तापमान मे आई गिरावट शीत का प्रकोप बडा🌺 ।
🌺(A/3)यहहेल्थपोलिसी रखने वालों का कोरोना वेकसीनेशन होगा फ़्री🌺
❤(A/4)सोनी टीवी के कपिल शर्मा शो की प्रसिद्ध कॉमेडियनभारती सिंह और उनके पतिहर्ष लिम्बाचिया
के मुंबई स्थित घर पर NCB ने छापेमारी कर गांजा जब्त किया❤
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐      (A)कुछ रोचक समाचार(विस्तृत)
🌺(A/1)उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर और सोनभद्र जिलों में पेयजल आपूर्ति की 23 परियोजनाओं की आधारशिला रखी। पीएम मोदी🌺
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर और सोनभद्र जिलों में पेयजल आपूर्ति की 23 परियोजनाओं की आधारशिला रखी। पीएम मोदी ने आज ग्रामीण पेयजल आपूर्ति परियोजना का शिलान्यास किया। इसका मकसद मिर्जापुर और सोनभद्र के सभी घरों को पेयजल मुहैया कराना है।
आजादी के बाद सबसे ज्यादा उपेक्षित क्षेत्र
पेयजल परियोजना का शिलान्यास करने के बाद पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के बाद दशकों तक सबसे ज्यादा यही क्षेत्र उपेक्षित रहा। पीएम मोदी ने कहा कि इन पेयजल परियोजनाओं से 42 लाख लोगों को लाभ मिलेगा। 24 माह में इन परियोजनाओं पर काम पूरा होगा।
बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा जल जीवन मिशन के तहत इन परियोजनाओं पर काम शुरू किया गया है। इन परियोजनाओं को राज्यों के साथ साझेदारी के आधार पर लागू किया जा रहा है। पीएम मोदी ने 15 अगस्त, 2020 को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लाल किले की प्राचीर से इस योजना की घोषणा की थी।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻💐
🌺(A/2)दिल्ली मे छाई कोहरे की धुंध, तापमान मे आई गिरावट शीत का प्रकोप बडा🌺 ।
नई दिल्ली। पिछले कुछ दिनों से वायु प्रदूषण की वजह से परेशान दिल्ली और आसपास के लोगों को आंशिक राहत मिली है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से मिली जानकारी के मुताबिक वायु गुणवत्ता सूचकांक में कमी आई है। हालांकि ये अब भी खराब श्रेणी में है। दूसरी तरफ भारतीय मौसम विभाग ने तापमान की गिरावट दर्ज की है। इससे साफ है कि ठंड की मार को झेलने के लिए दिल्ली वालों अभी से तैयारी शुरू कर देनी चाहिए। सीपीसीबी की रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली के पंजाबी बाग में वायु की गुणवत्ता खराब श्रेणी में बनी हुई है। इस क्षेत्र में एक्यूआई 260 है जो खराब श्रेणी में आता है।
    🌺न्यूनतम तापमान 7 डिग्री रहने का अनुमान🌺
वहीं आईएमडी ने बताया है कि दिल्ली में आज न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम 24 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। आईएमडी ने तापमान में गिरावट की वजह से सुबह के समय कोहरे और धुंध के साथ आंशिक रूप से बादल का अनुमान लगाया है।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐🌺(A/3)यहहेल्थपोलिसी रखने वालों का कोरोना वेकसीनेशन होगा फ़्री🌺
नई दिल्ली। दुनियाभर की चार कंपनियों की ओर से कोरोना वैक्सीन के जल्द लाने की घोषणा कर दी है। फाइजर के साथ बायोएनटेक ने भी अपनी वैक्सीन के 95 फीसदी तक कारगर होने की बात कही है। वहीं दूसरी ओर मॉडर्ना और स्‍पुतनिक वी भी कतार में है। सवाल यह है कि यह तमाम वैक्सीन भारत में कब तक उपलब्ध होंगी? कोरोना वैक्सीनेशन को कराने में कितना खर्चा आने की उम्मीद है? वहीं सबसे बड़ा सवाल यह है क्या इंश्योरेंस कंपनियों ने इसके खर्च को इंबर्स करेंगी? या यूं कहें कि आखिर कौन पॉलिसी के पास इस खर्च को सहन करने की क्षमता है? देश में यह पॉलिसी कितने लोगों पास है?
यह पॉलिसी उठा सकती है वैक्सीनेशन का खर्च
जानकारों की मानें तो मौजूदा समय में एक ही ऐसी पॉलिसी है, जिसके पास कोरोना वैक्सीनेशन के खर्च को उठाने की क्षमता है। उसका नाम है ओउटपेशंट डिपार्टमेंट यानी ओपीडी मेडिकल पॉलिसी। यह वैक्‍सीन के बोझ को उठाने में सक्षम हो सकती है। मीडिया रिपोर्ट में आईसीआईसीआई लोम्‍बार्ड में चीफ (अंडरराइटिंग, रीइंश्‍योरेंस, क्‍लेम्‍स और एक्‍चुरियल) संजय दत्‍ता का कहना है कि ओपीडी कॉस्‍ट कवर करने वाली इंश्‍योरेंस पॉलिसीज ही कोरोना वैक्‍सीन के खर्च को उठाने में सक्षम हो सकती है। यह पॉलिसी देश में काफी कम लोगों के पास है।
🌺मौजूदासमय इन वैक्सीन की सबसेज्यादा चर्चा🌺
मौजूदा समय में तीन वैक्‍सीन सबसे ज्यादा चर्चा में है। फाइजर 95 तो बायोएनटेक भी 95 फीसदी कारगर होने का दावा कर चुकी ळै। रूस की स्‍पुतनिक वी भी अपने आपको 92 फीसदी सक्षम बता चुकी है। जबकि ब्रिटेन की मॉडर्ना ने अपने आपको 95 फीसदी कारगर बताया है। जानकारों की मानें तो इनमें दो वैक्सीन अप्रैल 2021 तक भारत को उपलब्ध हो जाएंगी। जहां सरकार कम आय के लोगों को सब्सिडी मुहैया करा सकती है, वहीं दूसरी ओर देश के सभी लोगों को सब्सिडी देना केंद्र के लिए मुश्किल ही नजर आ रहा है।
  🌺इंश्योरेंय सेक्टर निभा सकता है अहम कदम🌺
जानकारों की माने तो इस मामले में इंश्योरेंस इंडस्ट्री अहम किरदार निभा सकती है। साथ ग्रुप वैक्सीनेशन के लिए कुछ पॉलिसी कवर लांच कर सकती हैं। हॉस्पिटलाइजेशन रेट में कमी आना इंश्योरेंस कंपनियों के अच्छे संकेत हैं। इससे कंपनियों पर बोझ कम हो जाएगा। जीआईसी फ्रेश डाटा के अनुसार कोविड से रिलेटिड 6,836 करोड़ रुपए के करीब 4.45 लाख क्‍लेम आए हैं। जिनमें से 2,914 करोड़ रुपए के 3.02 लाख क्लेम का निपटारा कर दिया गया है।
यह भी पढ़ेंः- पेट्रोल और डीजल हुआ महंगा, जानिए दो महीने के बाद कितना हुआ बदलाव  क्या कहती हैं कंपनियां
वहीं दूसरी ओर इंश्योरेंस कंपनियों का कहना है कि मौजूदा पॉलिसियों के अनुसार वैक्सीन कॉस्ट को कवर करने के लिए जिम्मेदार नहीं है। अगर सरकार वैक्सीनेशन को कंपलसरी भी कर दे तो भी कंपनियों पर किसी तरह का दबाव नहीं डाला जा सकता है, जब तक इरडा की ओर से हरी झंडी नहीं मिल जाती है।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻💐
❤(A/4)सोनी टीवी के कपिल शर्मा शो की प्रसिद्ध कॉमेडियनभारती सिंह और उनके पतिहर्ष लिम्बाचियाके मुंबई स्थित
 घर पर NCB ने छापेमारी कर गांजा जब्त किया❤
नई दिल्ली। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने शनिवार को कॉमेडियन भारती सिंह और उनके पति हर्ष लिम्बाचिया के मुंबई स्थित घर पर छापेमारी कर गांजा जब्त किया है। इसके बाद दोनों को हिरासत में लिया गया है। अंधेरी, लोखंडवाला और वर्सोवा सहित तीन अलग-अलग स्थानों पर जांच एजेंसी द्वारा छापेमारी की गई।एनसीबीके जोनल 
डायरेक्टरसमीरवानखेड़े केअनुसार 
भारती और उनके पति से एनसीबी मादक पदार्थों के सेवन के बारे में पूछताछ की जा रही है। दोनों को आगे की जांच के लिए एनसीबी अपने जोनल कार्यालय लेकर गई है।
रिपोर्ट के अनुसार, एनसीबी की गिरफ्त में आए एक ड्रग पैडलर द्वारा बताई जगह को लेकर भारती सिंह और हर्ष लिम्बाचिया के घर पर छापेमारी की गई। घर में छापेमारी के दौरान संदिग्ध पदार्थ बरामद हुआ है। ये गांजा माना जा रहा है।
गौरतलब हैकि बॉलीवुड अभिनेतासुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद सामने आए ड्रग्स मामले को लेकर एनसीबी लगातार छापेमारी कर रही है। ड्रग्स केस में इससे पहले अर्जुन रामपाल के घर पर छापेमारी की गई थी।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐 💐
🌹(B)आज के दिन जन्मे भारत के प्रसिद्ध
 अत्याधिक प्रभावशाली अध्यात्मिक गुरुओं में से एक.सत्य साईं बाबाउर्फ.सत्यनारायण राजू🌹              
               🌺   जीवन परिचय  लेख.🌺 
सत्य साईं बाबा  (जन्म: 23 नवम्बर 1926 ; मृत्यु: 24 अप्रैल 2011), पिछले लगभग 60 वर्षों से भारत के कुछ अत्याधिक प्रभावशाली अध्यात्मिक गुरुओं में से एक थे। सत्य साईं बाबा का बचपन का नाम सत्यनारायण राजू था। सत्य साईं का जन्म आन्ध्र प्रदेश के पुट्टपर्थी गांव में 23 नवम्बर 1926 को हुआ था। सिर्फ भारत ही नहीं अपितु पूरे विश्व में उनके असंख्य अनुयायी हैं। 24 अप्रैल 2011 को एक लंबी बीमारी के बाद बाबा ने चिरसमाधि ले ली। बाबा को प्रसिद्ध आध्यात्मिक गुरु शिरडी के साईं बाबा का अवतार माना जाता है।
                   सत्य साईं बाबा
जन्म:-सत्यनारायण राजू
जन्म:-23 नवम्बर 1926
जन्मस्थल:-पुट्टपर्थी, आन्ध्र प्रदेश, भारत
मृत्यु:- अप्रैल 2011 (उम्र 84)
                       कथन
सबसे प्यार करो, सबकी सेवा करो
               हिन्दू धर्म प्रवेशद्वार
       सत्य साईं जीवन और प्रसिद्धि 
आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में पुट्टपर्थी गांव में एक सामान्य परिवार में 23 नवम्बर 1926 को जन्मे सत्यनारायण राजू ने 20 अक्टूबर 1940 को 14 साल की उम्र में खुद को शिरडी वाले साईं बाबा का अवतार कहा। जब भी वह शिरडी साईं बाबा की बात करते थे तो उन्हें ‘अपना पूर्व शरीर’ कहते थे।
सत्यनारायण राजू ने शिरडी के साईं बाबा के पुनर्जन्म की धारणा के साथ ही सत्य साईं बाबा के रूप में पूरी दुनिया में ख्याति अर्जित की। सत्य साईं बाबा अपने चमत्कारों के लिए भी प्रसिद्ध रहे और वे हवा में से अनेक चीजें प्रकट कर देते थे और इसके चलते उनके आलोचक उनके खिलाफ प्रचार करते रहे।
प्रारंभिक जीवन में सत्यनारायण राजू को ‘असामान्य प्रतिभा’ वाले परोपकारी बालक की संज्ञा दी गयी। नाटक, संगीत, नृत्य और लेखन प्रतिभा वाले इस बालक ने अनेक कविताएं और नाटक लिखे। गायक के रूप में भी उनकी पहचान बनी और उनके भजनों की अनेक सीडी आईं। सत्य साईं बाबा के अनुयायियों ने 1944 में पुट्टपर्थी में एक छोटा मंदिर बनवाया और 1950 में एक विशाल आश्रम बनाया गया जो ‘प्रशांति निलयम’ के तौर पर उनका स्थाई केंद्र बन गया।
आंध्र प्रदेश में 20 वी सदी के वक्त बहोत बुरा अकाल पड़ा था तब भगवान श्री सत्यसाई बाबाजी ने लगभग 750 गांवो के लिए पानी की व्यवस्था की थी।
आम आदमी से लेकर राष्ट्रपति तक उनके भक्तों में शामिल रहे हैं, लेकिन पुट्टपर्थी के सत्य साईं बाबा के आध्यात्मिक प्रभाव के साथ ही उनसे विवाद भी जुड़े रहे हैं। भारत में अनेक आध्यात्मिक संत हुए और हैं, लेकिन माना जाता है कि सत्य साईं बाबा के नाम और प्रसिद्धि की बराबरी शायद ही कोई कर सके।
सत्य साईं बाबा का असर पूरी दुनिया में फैला हुआ है और भारत के अलावा विदेशों में भी उनके लाखों भक्त हैं। बाबा के नामचीन भक्तों में प्रधानमंत्री, केंद्रीय मंत्री, राज्यपाल, मुख्यमंत्री समेत आला दर्जे के नेता, फिल्मी सितारे, उद्योगपति और खिलाड़ी शामिल रहे हैं। आंध्र प्रदेश का छोटा-सा गाँव पुट्टपर्थी अंतरराष्ट्रीय नक्शे पर छा गया और इसकी वजह है कि बाबा के आध्यात्मिक स्थल प्रशांति निलयम में दिन-रात विदेशी भक्त आते जाते रहे हैं। इस कस्बे में एक विशेष हवाई अड्डे पर दुनिया के अनेक हिस्सों से बाबा के भक्तों के चार्टर्ड विमान उतरते रहे हैं।
बाबा ने आध्यात्मिक उपदेशों के साथ ही सामाजिक क्षेत्र में भी अनेक सेवा कार्य किये। जिनकी शुरुआत पुट्टपर्थी में एक छोटे से अस्पताल के निर्माण के साथ हुई, जो अब 220 बिस्तर वाले सुपर स्पेशलिटी सत्य साई इंस्टीट्यूट ऑफ हायर मेडिकल साइंसेस का रूप ले चुका है।
इसके अलावा बंगलूरु के बाहरी इलाके में 333 बिस्तर वाला एक और सुपर स्पेशलिटी अस्पताल एस.एस.आई.एच.एम.एस. खोला गया। यहाँ बाबा का ग्रीष्मकालीन केंद्र वृंदावन है। सत्य साई सेंट्रल ट्रस्ट इन सभी सामाजिक सेवा गतिविधियों को देखता है और पुट्टपर्थी में सत्य साई विश्वविद्यालय भी संचालित करता है। इसके अलावा यह ट्रस्ट अलग अलग प्रदेशों में अनेक स्कूलों और डिस्पेंसरियों का भी संचालन करता है। सत्य साई सेंट्रल ट्रस्ट ने आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और महाराष्ट्र में बड़ी जल आपूर्ति परियोजनाओं पर भी काम किया है। सत्य साईं सेवा संगठन के स्वयंसेवक आंध्र प्रदेश ही नहीं बल्कि देश के अन्य हिस्सों में प्राकृतिक आपदाओं के वक्त राहत व पुनर्वास कार्यों में भी आगे से आगे सेवाकार्य करते देखे जा सकते हैं।
पुट्टिपर्ती में स्थापित अति विशेषज्ञता चिकित्सालय (सुपर स्पेसिआलिटी अस्पताल)
सत्य साईं बाबा ने भारत में तीन मंदिर भी स्थापित किये, जिनमें मुंबई में धर्मक्षेत्र, हैदराबाद में शिवम और चेन्नई में सुंदरम है। इनके अलावा दुनियाभर के 114 देशों में सत्य साई केंद्र स्थित हैं।
सत्य साईं बाबा ने 1957 में उत्तर भारत के मंदिरों का भ्रमण किया और अपनी एक मात्र विदेश यात्रा पर 1968 में युगांडा गये। सत्य साईं बाबा ने 1963 में चार बार गंभीर हृदयाघात का सामना किया था। वर्ष 2005 से ही बाबा व्हीलचेयर पर थे और खराब स्वास्थ्य के कारण बहुत कम ही सार्वजनिक कार्यक्रमों में आते थे। वर्ष 2006 में बाबा को कूल्हे में फ्रेक्चर हो गया जब लोहे के स्टूल पर खड़े एक विद्यार्थी के फिसलने से वह और स्टूल दोनों ही बाबा पर गिर गये। वह अपने भक्तों को कार से या पोर्ट चेयर से दर्शन देते थे।
                   💖निधन💖 
सत्‍य साईं बाबा का निधन रविवार सुबह 7 बजकर 40 मिनट पर हुआ। पिछले एक माह से अस्‍पताल में भर्ती थे। सुबह के वक्‍त ही उनके परिजन उनके दर्शन के लिए अस्‍पताल पहुँचे। पहले स्‍थानीय टीवी चैनलों ने खबर दी कि सत्‍य साईं का निधन हो चुका है। इसके थोड़ी देर बाद उनके निधन की आधिकारिक पुष्टि कर दी गई
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌸🌲🌹💐💐🌲🌹💐💐   (C) आज के दिन की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ💐
1165 – पोप एलेक्जेंडर तृतीय निर्वासन के बाद रोम वापस लौटे।
1744 – ब्रिटिश प्रधानमंत्री जान कार्टरे ने इस्तीफा दिया।
1890 – इटली में आम चुनाव हुये।
1892 – लोमानी कांगो के युद्ध में बेल्जियम ने अरब को हराया।
1904 – अमेरिका के सेंट लुईस में तीसरे ओलंपिक खेलों का समापन।
1923- जर्मनी की गुस्ताव स्ट्रेसीमैन की गठबंधन सरकार का पतन हो गया।
1946 – वियतनाम के हैफ्योंग शहर में फ्रांसीसी नौसेना के जहाज में लगी भीषण आग, छह हजार लोगों की मौत।
1983 – भारत में पहली बार राष्ट्रमंडल शिखर सम्मेलन का आयोजन हुआ।
1984 – लंदन के व्यस्ततम ऑक्सफोर्ड सर्कस स्टेशन पर आग लगने से क़रीब एक हज़ार लोग फंस गए थे।
1996 – इथियोपिया के एक अपहृत विमान का ईंधन समाप्त होने पर वो हिंद महासागर में जा गिरा. इस विमान में चालक दल सहित कुल 175 लोग सवार थे जिनमें से कम से कम 100 लोग मारे गए।
1997 – साहित्य अकादमी पुरस्कार विजेता निराद सी चौधरी ने अपने जीवन के 100 वर्ष पूरे किये।
2002 – जी-20 की बैठक नई दिल्ली में शुरू।
2002 – नाइजीरिया में प्रस्तावित विश्व सुंदरी प्रतियोगिता को लंदन स्थानांतरित करने का फैसला लिया गया था।
2006 – अमेरिका ने रूस की जेट निर्माण कम्पनी सुखोई से प्रतिबंध हटाया।
2007 – आस्ट्रेलिया में हुए चुनाव में लेबर पार्टी की जीत हुई।
2008 – जम्मू-कश्मीर विधानसभा चुनाव के लिए मतदान के दूसरे चरण में 65% वोट डाले गये।
2009 – फिलीपींन्स में 32 मीडियाकर्मियों की हत्या।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌸🌲🌹💐💐🌲🌹💐💐(D)आज के दिन जन्म लिए महत्त्वपूर्ण व्यक्तित्व
1897 – नीरद चन्द्र चौधरी - भारत में जन्मे प्रसिद्ध बांग्ला तथा अंग्रेज़ी लेखक और विद्वान।
1914 – कृश्न चन्दर - हिन्दी दशक के प्रमुख यशस्वी कथाकार।
1922 – डोनाल्ड टेनंट, अमेरिकी विज्ञापन एजेंसी के कार्यकारी (मृ. 2001)
1926 – सत्य साईं बाबा - आध्यात्मिक गुरु
1930 – गीता दत्त, प्रसिद्ध पा‌र्श्वगायिका
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌸🌸🌲🌹💐💐
(E)आज के निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व।
निधन 
1912 – सखाराम गणेश देउसकर -क्रांतिकारी लेखक, इतिहासकार तथा पत्रकार।
1937 – जगदीश चंद्र बोस - वैज्ञानिक
1977 – प्रकाशवीर शास्त्री - संसद के लोकसभा सदस्य और संस्कृत के विद्वान् साथ ही आर्य समाज के नेता के रूप में भी प्रसिद्ध।
1990 – रोल्‍ड डाॅल - 20वीं सदी के सबसे महान् लेखकों में शुमार।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌸🌸🌲🌹💐💐 (F) आज का दिवस का नाम
राष्ट्रीय औषधि दिवस (सप्ताह)
राष्ट्रीय एकता दिवस (सप्ताह
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐 🌸🌸🌲🌹💐  आज की बात -आपके साथ" मे आज इतना ही।कल पुन:मुलाकात होगी तब तक के लिये इजाजत दिजीये।
      आज जन्म लिये  सभी  व्यक्तियोंको आज के दिन की बधाई। आज जिनका परिणय दिवस हो उनको भी हार्दिक बधाई।  बाबा महाकाल से निवेदन है की बाबा आप सभी को स्वस्थ्य,व्यस्त मस्त रखे।
💐।जय चित्रांश।💐
💐जय महाकाल,बोले सोनिहाल💐
💐।जय हिंद जय भारत💐
💐  निवेदक;-💐
💐 चित्रांश ;-विजय निगम।💐