माँ दुर्गा महिषासुर मर्दिनी


सदइच्छाओं के महायोग से 


अंतःचेतनाओं के अद्भुत संयोग से 


आत्मशक्तियों के अनन्य प्रयोग से


सुप्त पड़े जाग उठे मैंमयी उद्योग से


प्रस्फुटित प्रचंड अकल्पय शक्तिशाली


कामनाओं के अभेद्य दुर्ग को ध्वस्त करने


निकल पड़ी कालजई उर्जा ही 


माँ दुर्गा है


 


आसुरी प्रवृत्तियों पर


अनियंत्रित मनोवृत्तियों पर


अमानवीय आवृत्तियों पर


महिष आरोहित अनियंत्रित


तमसमुखी गतिविधियों पर


जाग उठी हाहाकारी विजय प्रवर्तनी


प्रकाशमयी अंतःचेतना ही


महिषासुर मर्दिनी है...


 


-डॉ.एम.डी.सिंह , पीरनगर


Comments
Popular posts
मुंबई में 2008 में हुए आतंकी हमले की आज 13वीं बरसी, सोशल मीडिया पर लोग दे रहे श्रद्धांजलि
Image
पार्षद प्रत्याशियों की अधिकृत सूची जारी, सूची में देखें किस वार्ड से कौन है भाजपा का प्रत्याशी
Image
लोगों की बुनियादी समस्याएं हमारी प्राथमिकता - अपना दल (एस) समर्थित निर्दलीय महापौर प्रत्यासी कैलाश गावंडे
Image
महापौर एवं पार्षद पद उम्मीदवारों की सूची; देखें कौन–कौन उम्मीदवार है, जिन्होंने नामांकन वापिस नहीं लिया
Image
सेंट-गोबेन इंडिया ने रायपुर में अपने एक्‍सक्‍लूसिव ‘माय होम’ स्‍टोर का अनावरण किया
Image