केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की तबियत बिगड़ी; सांस लेने में परेशानी होने पर एम्स में भर्ती


    नई दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को एक बार फिर अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया है। सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक सांस लेने में परेशानी होने के बाद उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया है। हालांकि उन्हें क्या परेशानी है, इस संबंध में अभी तक कोई स्पष्ट जानकारी नहीं मिली है। पिछले काफी वक्त से सेहत से जुड़ी दिक्कतों का सामना कर रहे हैं। इसके पहले उन्हें करीब 2 हफ्ते पहले ही एम्स से डिस्चार्ज किया गया था। पिछले कुछ दिनों में यह तीसरा मौका है, जब उन्हें अस्पताल में एडमिट होना पड़ा है।
     सूत्रों के अनुसार अमित शाह को एम्स में कार्डियो न्यूरो टॉवर में भर्ती कराया गया है। सूत्रों का कहना है कि कोरोना वायरस से उबरने के बाद अमित शाह सांस लेने में समस्या का सामना कर रहे हैं। यह बेहतर होगा कि कुछ वक्त के लिए अमित शाह अस्पताल में रहें, जहां निगरानी में रखकर उनका इलाज हो सके। इससे पहले भी वह कोरोना से उबरने के बाद की देखभाल (पोस्ट-कोविड ट्रीटमेंट) के लिए एम्स में भर्ती हुए थे और 31 अगस्त को उन्हें छुट्टी मिली थी।


     बता दें कि इसके पहले 2 अगस्त को अमित शाह कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए थे। उन्होंने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी। इसके बाद 14 अगस्त को अमित शाह की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आ गई. उसके बाद 18 अगस्त को उन्हें थकान और शरीर में दर्द की शिकायत पर एक बार फिर एम्स में भर्ती कराया गया था, जहां से वह 31 अगस्त को स्वस्थ होकर ​डिस्चार्ज हो गए थे। अब फिर उनके एम्स में एडमिट होने की खबर है। उन्हें शनिवार रात 11 बजे एम्स में भर्ती कराया गया है।


     कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने पर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था कि मेरी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आई है। मैं ईश्वर का धन्यवाद करता हूं। इस समय जिन लोगों ने मेरे स्वास्थ्य लाभ के लिए शुभकामनाएं देकर मेरा और मेरे परिजनों को ढांढस बंधाया, उन सभी का ह्रदय से आभार व्यक्त करता हूं। साथ ही ट्वीट किया-कोरोना संक्रमण से लड़ने में मेरी मदद करने वाले और मेरा उपचार करने वाले मेदांता अस्पताल के सभी डॉक्टर्स व पैरामेडिकल स्टाफ का भी आभार व्यक्त करता हूं।