गुरु नानक अस्पताल की आकस्मिक जांच में 2 डॉक्टर अनुपस्थित पाए गए; 12 घण्टे में स्पष्टीकरण देने की चेतावनी

उज्जैन। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी  श्री  आशीष सिंह  द्वारा विभिन्न निजी अस्पतालों को  कोविड 19   अस्पताल के रूप में चिन्हित  किया गया है ।
         विगत  21  सेप्टेम्बर  को  सहायक नोडल अधिकारी  डॉ  के सी  परमार द्वारा   गुरु नानक हॉस्पिटल फ्रीगंज का आकस्मिक निरीक्षण किया तथा पाया कि  यंहा पर कार्यरत  डॉ मोइन अख्तर  एवम डॉ  दीपिका पाटीदार  बिना  सूचना  के अनुपस्थित है ।


       निरीक्षण टीप के आधार पर  कलेक्टर  श्री  आशीष  सिंह ने  गुरुनानक अस्पताल के डॉक्टर मोईन खान , डॉ दीपिका  पाटीदार को  नोटिस जारी कर आगामी 12 घंटे में अपनी उपस्थिति सुनिश्चित करने के  साथ  स्पष्टीकरण देने निर्देश दिए गए हैं . साथ  ही  चेतावनी  दी   गई  है  कि ड्यूटी पर उपस्थित नही  होने की स्थिति में  उनके   विरुद्ध आवश्यक सेवा  संधारण  तथा  विच्छिनता  निवारण अधिनियम 1979, डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट 2005,  तथा एपिडेमिक डिजीज एक्ट 1897 की  धाराओं  के तहत दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।