प्रदेश में इस वर्ष 70 हजार आदिवासी विद्यार्थियों को दी जाएगी आवासीय सहायता

उज्जैन। प्रदेश में आदिवासी वर्ग के विद्यार्थी जो अपने गृह निवास से बाहर रहकर महाविद्यालय स्तर की पढ़ाई कर रहे हैं। उन विद्यार्थियों को आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा आवास सहायता उपलब्ध कराई जा रही है। इस वर्ष योजना में 70 हजार आदिवासी विद्यार्थियों को करीब 165 करोड़ रूपये की राशि आवासीय सहायता उपलब्ध कराई जायेगी। 


 आवास सहायता योजना में भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर एवं उज्जैन नगर में अध्ययन करने वाले विद्यार्थियों को 2000 रूपये प्रतिमाह, जिला मुख्यालय पर अध्ययन करने वाले प्रति विद्यार्थी को 1250 रूपये एवं  तहसील व विकासखंड मुख्यालय पर अध्ययन करने वाले विद्यार्थियों को प्रतिमाह 1000 रूपये की आवासीय सहायता उपलब्ध कराई जा रही है। आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा पिछले वर्ष 69 हजार 676 आदिवासी विद्यार्थियों को करीब 110 करोड़ रूपये की राशि आवासीय सहायता के रूप में उपलब्ध कराई गई थी।