आज की बात आपके साथ - विजय निगम

       ॐ यमाय यमाय धर्मराजाय 
       श्री चित्रगुप्ताय नमो नमः। 
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐💐🌻
प्रिय साथियो। 
🌹राम-राम🌹 
🌻 नमस्ते।🌻
आज की बात आपके साथ मे आप सभी साथीयों का दिनांक 02 अगस्त 2020 रविवार की प्रातः की बेला में हार्दिक वंदन है अभिनन्दन है।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐💐🌻
आज की बात आपके साथ अंक मे है 
 A कुछ रोचक समाचार
 B.आज के दिन जन्मे.प्रसिद्ध सितार वादक व संगीतकारपंडित रवीन्द्र शंकर चौधरी.का.जीवन परिचय  लेख. 
C आज के दिन   की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ
D आज के दिन जन्म लिए महत्त्वपूर्ण    
    व्यक्तित्व
E आज के निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व।
F आज का दिवस का नाम ।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐💐🌻
    (A) कुछ रोचक समाचार(संक्षिप्त)
(A/1)💐कर लें ये काम, नहीं तो अटक सकता है आपका इनकम टैक्स रिफंड💐
💐 (A/2)ईद की ड्यूटी पर नहीं आने पर DCP विजयन्ता आर्या ने लिया एक्शन, 36 पुलिसकर्मियों का किया सस्पेंड।💐
💐(A/3)रिया चक्रवर्ती के खिलाफ जारी हो सकता है लुकआउट नोटिस, पुलिस को मिले अहम सुराग।💐
(A/4)यूपी में बिजली दरें बढ़ाने की तैयारी, उपभोक्ताओं को लग सकता है महंगाई का झटका।💐
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻 (A)कुछ रोचक समाचार(विस्तृत)
💐(A/1)💐कर लें ये काम, नहीं तो अटक सकता है आपका इनकम टैक्स रिफंड💐
आयकर विभाग ने इस साल अप्रैल से लेकर के जुलाई के बीच लगभग 21 लाख से ज्यादा टैक्सपेयर्स को 71,000 करोड़ रुपये से भी अधिक राशि का टैक्स रिफंड (IT Refund) जारी किया है। आपका आईटी रिफंड अभी तक मिल जाना था, लेकिन नहीं मिला है, तो इसके कई कारण हो सकते हैं। इनमें से कुछ कारण तो आपकी तरफ से भी हो सकते हैं।
   💐आयकर विभाग के अधिकारियों💐  का कहना है कि किसी व्यक्ति या फर्म  को समय पर आईटी रिफंड (IT Refund) नहीं मिलता है तो उसके कई कारण हो सकते हैं। कुछ कारणों के लिए पार्टी खुद ही जिम्मेदार होती है। हम आपको कुछ ऐसे कारण बता रहे हैं, जिसकी वजह से रिफंड मिलने में देरी हो जाती है।
इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से आए ईमेल का जवाब समय पर नहीं देना
इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (IT) का कहना है कि आयकर विभाग से भेजे गए ईमेल का जब करदाता यानी टैक्सपेयर्स समय पर जवाब नहीं देते हैं तो ऐसे में उनका रिफंड अटक जाता है। समय समय पर आयकर विभाग करदाताओं से ईमेल में उनकी बकाया मांगें, उनके बैंक खाते और रिफंड में किसी भी तरह के अंतर के बारे में जानकारी मांगता है। जब तक यह जानकारी विभाग तक नहीं पहुंचती है, तो ऐसे में वह रिफंड प्रोसेस नहीं करते हैं।
💐बैंक खाते का प्रीवैलिडेट नहीं होना💐
समय पर रिफंड नहीं आने का दूसरा सबसे बड़ा कारणहोताहै बैंकअकाउंट का प्रीवैलि
-डेट ना होना। जिस खाते में इनकम टैक्स रिफंड आना होता है उस बैंक खाते को अगर टैक्सपेयर्स प्रीवैलिडेट नहीं करते हैं तो आईटी रिफंड अटक जाता है। इसलिए टैक्सपेयर्स को चाहिए कि वह आयकर विभाग से जुड़े बैंक खाते को समय से प्रीवैलिटेड या वेरीफाई करें। टैक्स रिटर्न फाइल करने के बाद आपका जो भी रिटर्न बनेगा वह इनकम टैक्स डिपार्टमेंट सेंट्रलाइज्ड प्रोसेसिंग सेंटर के जरिए इसी अकाउंट में भेजेगा।
💐आईटी रिटर्न समय पर वेरीफाई नहीं करना💐
आईटी रिटर्न (ITR) दायर करने के बाद उसे आनलाइन याआफलाइन तरीके से वेरीफाई करना होता है।कई बार ऐसा होता है कि टैक्सपेयर समय पर इनकम टैक्स रिटर्न तो भर देते हैं,लेकिन वह अपने रिटर्न को वेरीफाई नहीं करते। जब तक आप इसे वेरीफाई नहीं करेंगे आपका रिटर्न प्रोसेस नहीं होता है। इसलिए आप चाहते हैं कि आपका रिटर्न फार्म समय पर प्रोसेस हो तो इसे तत्काल वेरीफाई करें।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻💐(A/2)ईद की ड्यूटी पर नहीं आने पर DCP विजयन्ता आर्या ने लिया एक्शन, 36 पुलिसकर्मियों का किया सस्पेंड
ईद कात्योहार दिल्लीसहित देश में पूरेधूम-
धाम से मनाया जा रहा है।कोरोना काल में त्योहार को देखते हुए दिल्ली में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं.ईद के मौके पर दिल्ली में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. 
नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने ईद के मौके पर ड्यूटी पर नहीं आने वालेपुलिसकर्मियों पर बड़ी कार्रवाई की है. दिल्ली पुलिस की महिलाडीसीपी ने ईदपरड्यूटी पर नहींआने
वाले 36पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करदिया
है।ये कार्रवाई नॉर्थ वेस्ट जिलापुलिस द्वारा
की गई है।जानकारी मिली हैकि राजधानी
केनॉर्थ वेस्टजिलेकेडीसीपीविजयन्ताआर्या
नेशनिवार को ईद-उल-अजहाके मौके पर
ड्यूटी पर नहींआनेवाले36 पुलिसकर्मियों
को सस्पेंड कर दिया है।सस्पेंड किए गए पुलिसकर्मी किन-किनपद केहैंइसकी फिल
हाल जानकारी नहीं मिली है।गौरतलब है 
कि ईद का त्योहार दिल्ली सहित देश में पूरे धूम-धामसे मनाया जा रहा है।कोरोनाकाल
में त्योहार को देखते हुए दिल्ली में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं.इसके साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का सही से पालन कराने के लिए भी पुलिस को जगह जगह तैनात किया गया है ताकि ज्यादा भीड़भाड़ ना होने पाए. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी अपने बधाई संदेश में सोशल डिस्टेंसिंग पर जोर दिया.
राष्ट्रपति कोविंद ने अपने ट्वीट में लिखा. "ईद मुबारक,  ईद-उल-जुहा का त्‍योहार आपसी भाईचारे और त्‍याग की भावना का प्रतीक है तथा लोगों को सभी के हितों के लिए काम करने की प्रेरणा देता है. आइए, इस मुबारक मौके पर हम अपनी खुशियों को जरूरतमंद लोगों से साझा करें और  कोविड-19 की रोकथाम के लिए सभी दिशा-निर्देशों का पालन करें. "
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी देशवासियों को ईद के मुबारक मौके पर बधाई दी. पीएम मोदी ने अपने संदेश में लिखा. "ईद उल अजहा पर बधाई, यह दिन हमें एक न्यायपूर्ण, सामंजस्यपूर्ण और समावेशी समाज बनाने के लिए प्रेरित करता है. भाईचारे और करुणा की भावना को आगे हमेशा बनी रहे"A
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻💐(A/3)रिया चक्रवर्ती के खिलाफ जारी हो सकता है लुकआउट नोटिस, पुलिस को मिले अहम सुराग।💐
बिहारपुलिस इस मामले में रियाकेखिलाफ
लुकआउट नोटिस जारी करने पर विचार कर रही है।बिहार पुलिस को रिया चक्रवर्ती के खिलाफ कुछ बड़े सबूत हाथ लगे हैं।
              💐रिया चक्रवर्ती💐
एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड मामले में उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती फंसती नजर आ रही हैंखबरों के मुताबिक बिहारपुलिस इस मामले मेंरिया केखिलाफ 
लुकआउट नोटिस जारी करने पर विचार कर रही है.बिहार पुलिस को रिया चक्रवर्ती केखिलाफ कुछ बड़ेसबूत हाथ लगे हैं। ऐसे में उन से पूछताछ करना जरूरी हो गया है. वहींखबर ऐसीभीसामनेआरही हैकिपुलिस
रियाचक्रवर्ती से संपर्क नहीं साधपा रही है. फोन पर भी एक्ट्रेस से बात नहीं हो पा रही है. पुलिसके मुताबिक रिया लापता हो गई हैंरियाकेखिलाफलुकआउटनोटिसBपिछले
कुछ दिनों से बिहार पुलिस ने सुशांतमामले 
में काफ तेजी दिखाई है।कईलोगों केबयान 
दर्ज कर केस को सही दिशा में आगे बढ़ाने और जांच कोअंजाम तक पहुंचाने पर जोर दियाजा रहाहै।मालूम हो कि मंगलवार को सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह ने रियाचक्रवर्ती के खिलाफ FIR दर्ज करवाई थी. बताया गया था कि रिया लंबे समय से सुशांत को मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रही थीं।उन पर सुशांत को परिवार से दूर रखने के  आरोप लगाए गए थे।रिया पर सुशांत4 को ब्लैकमेल करने की बात भी सामनेआई है।इन्हीं पहलुओंपर जांच करते हुए अब रिया के खिलाफ बिहार पुलिस को कुछ सबूत हाथ लगे हैं.
लेकिन इस लुकआउट नोटिस को लेकर रिया के वकील सतीश ने अलग ही बयान दिया है. उनके मुताबिक रिया को या फिर उन्हें कोई लुकआउट नोटिस नहीं भेजा गया है.वकील के मुताबिक रिया के घर भी कोई नहीं आया है.
💐ED ने भी शुरू की जांच-पड़ताल💐
इस मामले में ED ने भ अपनी तरफसे जांच शुरू कर दी है. मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज कर रिया और उनके परिवार के खिलाफ जांच-पड़ताल की जा रही है. वहीं मीडिया ने भी सुशांत के बैंक अकाउंट्स की डिटेलहासिल की है जिन्हें देख ये साफ समझा जा सकता है कि रिया चक्रवर्ती के मेकअप और शॉपिंग पर काफी पैसे खर्च किए गए थे. एक्ट्रेस के भाई के लिए भी खर्चे किए गए हैं.
रिया ने मेकअप-शॉपिंग और अपने भाई पर खर्च किए सुशांत के पैसे! ED करेगी जांच नंदीश संधू ने सुशांत की मौत को कहा था सुसाइड, अब ले रहे शब्द वापस
ऐसे में अब कब रिया चक्रवर्ती का बयान बिहार पुलिस दर्ज करती है,ये देखने वाली बात होगी. वहीं रिया चक्रवर्ती की बात करें तो उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में याचिका डाल इस केस को मुंबई शिफ्ट करने की मांग की है. दलील दी गई है कि एक ही मामले में दो अलग-अलग जगह जांच नहीं चल सकती।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻💐(A/4)यूपी में बिजली दरें बढ़ाने की तैयारी, उपभोक्ताओं को लग सकता है महंगाई का झटका।💐
उत्तर प्रदेश में कोरोना काल की मुसीबत के बीच उत्तर प्रदेश के लोगों पर दोहरी मार पड़ सकती है. राज्य में बिजली की दरों के लिये बनाये गये स्लैब में बदलाव की योजना बनाई जा रही है. इस परिवर्तन के बाद बिजली उपभोक्ताओं की जेब पर बोझ बढ़ सकता है.।
लखनऊ: कोरोना काल और लॉक डाउन के कारण पहले से ही आर्थिक मार झेल रहे लोगों को अब महंगी बिजली का भी झटका लग सकता है. बिजली विभाग प्रदेश में बिजली दरों के स्लैब का ढांचा बदलने की तैयारी में जुटा है. ऐसा होने पर उपभोक्ताओं की जेब पर बोझ बढ़ सकता है.
   💐स्लैब कम करने की तैयारी💐
प्रियंका गांधी ने सीएम योगी आदित्यनाथ को लिखा पत्र, कहा- उत्तर प्रदेश में है भय का माहौल
💐नोएडा में बिल्डिंग का हिस्सा गिरने की घटना में कंपनी मालिक के खिलाफ गैर-इरादतन हत्या का मामला दर्ज💐
💐राम मंदिर के भूमि पूजन में दलित महामंडलेश्वर को नहीं बुलाए जाने पर बढ़ा विवाद, अखाड़ा परिषद ने अब कही ये बात💐
💐बुलंदशहरः 8 दिन से जिसे तलाश रही थी पुलिस, चौकी के पीछे गोदाम में दफन मिली उसकी लाश💐
💐राम मंदिरः भूमि पूजन पर न लगे कोरोना का काला साया, सैनिटाइजेशन के लिए लखनऊ से आएंगी टीम💐
वर्तमान में बिजली दरों के विभिन्न श्रेणियों के कुल 80 स्लैब हैं. इन्हें कम करके 40-50 करने की तैयारी चल रही है. घरेलू श्रेणी में इस समय गरीबी रेखा के नीचे वालों को छोड़कर चार स्लैब हैं, जिन्हें दो करने की योजना है. एक 200 यूनिट तक और दूसरा 200 यूनिट से अधिक. दूसरे स्लैब में आने वाले उपभोक्ताओं पर बोझ बढ़ेगा. इसी तरह कमर्शियल, कृषि, औद्योगिक समेत अन्य श्रेणियों में स्लैब कम होंगे.
💐धार्मिक आयोजन व शिक्षण संस्थानों को मिल सकती है राहत💐
₹हालांकि नई व्यवस्था में शिक्षण संस्थानों और धार्मिक आयोजनों को राहत देने की तैयारी है. शिक्षण संस्थाओं के फिक्स चार्ज और विद्युत मूल्य दोनों में कमी की तैयारी है. वहीं, धार्मिक आयोजनों के लिए अलग श्रेणी बन सकती है. सरकार के निर्देश पर पावर कॉरपोरेशन नए स्लैब का प्रस्ताव तेजी से तैयार करने में जुट है. इसे राज्य विद्युत नियामक आयोग को भेजा जाएगा. आयोग में प्रस्ताव स्वीकार किया तो 2020-21 के टैरिफ आर्डर में इसका एलान संभव है.
        💐दाम बढ़े तो आंदोलन💐
वहीं, बिजली दरों और नई स्लैब व्यवस्था को लेकर उत्तर प्रदेश राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद ने अभी से मोर्चा खोल दिया है. परिषद के अध्यक्ष अवधेश वर्मा का कहना है कि केन्द्र के निर्देश पर अगर सिर्फ स्लैब व्यवस्था का सरलीकरण किया जाता है तो ठीक. लेकिन अगर उपभोक्ताओं पर बोझ डाला गया तो आंदोलन किया जाएगा. अवधेश वर्मा ने कहा कि बिजली कंपनियां 4500 करोड़ का घाटा दिखाकर दाम बढ़वाने की फिराक में हैं. जबकि असलियत अलग है.
उदय योजना और ट्रू-अप में 13337 करोड़ बिजली कंपनियों पर निकलता है. ये खुद नियामक आयोग ने माना है. इस पर 13 फीसदी कैरिंग कॉस्ट यानी ब्याज जोड़ा जाए तो रकम 14,782 करोड़ हो जायेगी. इसके हिसाब से बिजली दरें बढ़नी नहीं बल्कि कम होनी चाहिए. दरों में 16 से 25 फीसदी तक कमी आनी चाहिए. अवधेश वर्मा ने इस संबंध में ऊर्जा मंत्री को पत्र भी भेजा है.
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐 💐(B)आज के दिन जन्मे.प्रसिद्ध सितार वादक व संगीतकारपंडित रवीन्द्र शंकर चौधरी.का.जीवन परिचय  लेख. 
पूरा नाम;- पंडित रवीन्द्र शंकर चौधरी जन्म:- 7 अप्रॅल, 1920 
जन्मभूमि;- बनारस, उत्तर प्रदेश
मृत्यु;- 11 दिसम्बर, 2012 
मृत्युस्थान;- सैन डियागो, अमेरिका अभिभावक;- पिता- श्याम शंकर 
पति/पत्नी;- अन्नपूर्णा देवी और सुकन्या रंजन 
संतान;- शुभेन्द्र शंकर, नोराह जोन्स और अनुष्का शंकर 
कर्म भूमि;- भारत 
कर्म-क्षेत्र;- संगीत कला विषयक सितार वादक और शास्त्रीय संगीत पुरस्कार-उपाधि;भारत रत्‍न, पद्मविभूषण,
पद्म भूषण, रेमन मैग्सेसे पुरस्कार, संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार नागरिकता भारतीय फ़िल्मों में संगीत अपू त्रिलोगी, अनुराधा, गांधी बाहरी कड़ियाँ आधिकारिक वेबसाइट अद्यतन‎ 20:22, 7 अप्रॅल 2013 (IST) रवि शंकर (अंग्रेज़ी: Ravi Shankar, पूरा नाम: पंडित रवीन्द्र शंकर चौधरी, जन्म: 7 अप्रॅल, 1920; मृत्यु: 11 दिसम्बर, 2012) विश्व में भारतीय शास्त्रीय संगीत की उत्कृष्टता के सबसे बड़े उदघोषक थे। एक सितार वादक के रूप में उन्होंने ख्याति अर्जित की। रवि शंकर और सितार मानो एक-दूसरे के लिए ही बने हों। वह इस सदी के सबसे महान् संगीतज्ञों में गिने जाते थे। रविशंकर को विदेशों में बहुत अधिक प्रसिद्धि प्राप्त हुई। विदेशों में वे अत्यन्त लोकप्रिय एवं सफल रहे। रविशंकर के संगीत में एक प्रकार की आध्यात्मिक शान्ति प्राप्त होती है। जीवन परिचय पं रवि शंकर का जन्म संस्कृति-संपन्न काशी में 7 अप्रॅल, सन् 1920 को हुआ था। आपका आरंभिक जीवन काशी के पुनीत घाटों के पर ही बीता। पंडित रविशंकर का बचपन बहुत ही सुखद रहा। उनके पिता प्रतिष्ठित बैरिस्टर थे और राजघराने में उच्च पद पर कार्यरत थे। रविशंकर जब केवल दस वर्ष के थे तभी संगीत के प्रति उनका लगाव शुरू हुआ। पंडित रविशंकर ने बचपन में कला जगत् में प्रवेश एक नर्तक के रूप में किया। उन्होंने अपने बड़े भाई उदय शंकर के साथ कई नृत्य कार्यक्रम किये। उन दिनों को याद करते हुए वह कहते हैं- मैं बनारस में रहता था। संगीत से मेरा कोई सीधा संबंध नहीं था, लेकिन मेरे दूसरे भाइयों की इसमें पूरी रुचि थी। कोई बांसुरी बजाता था तो कोई सितार। मेरे बडे भाई पंडित उदय शंकर जी नृत्य करते थे। वह मुझे अपने साथ पेरिस ले गए। उनके दल में अच्छे-अच्छे संगीतज्ञ और कलाकार थे। वहीं से मुझमें संगीत का शौक़ पैदा हुआ। पहले तो मैंने नृत्य सीखना शुरू किया, पर अधिक दिनों तक इस क्षेत्र में नहीं रहा। वजह यह थी कि मेरी रुचि संगीत में बढ़ने लगी थी। -पं. रवि शंकर
शिक्षा इनकी आरंभिक संगीत शिक्षा घर पर ही हुई। उस समय के प्रसिद्ध संगीतकार और गुरु उस्ताद अलाउद्दीन ख़ां को इन्होंने अपना गुरु बनाया। यहीं से आपकी संगीत यात्रा विधिवत आरंभ हुई। अलाउद्दीन ख़ां जैसे अनुभवी गुरु की आँखों ने आप के भीतर छिपे संगीत प्रेम को पहचान लिया था। उन्होंने आपको विधिवत अपना शिष्य बनाया। वह लंबे समय तक तबला वादक उस्ताद अल्ला रक्खा ख़ाँ, किशन महाराज और सरोद वादक उस्ताद अली अकबर ख़ान के साथ जुड़े रहे। अठारह वर्ष की उम्र में उन्होंने नृत्य छोड़कर सितार सीखना शुरू किया। परम्परागत भारतीय शैली रविशंकर संगीत की परम्परागत भारतीय शैली के अनुयायी थे। उनकी अंगुलियाँ जब भी सितार पर गतिशील होती थी, सारा वातावरण झंकृत हो उठता था। अन्तर्राष्ट्रीय मंच पर भारतीय संगीत को ससम्मान प्रतिष्ठित करने में उनका उल्लेखनीय योगदान है। उन्होंने कई नई-पुरानी संगीत रचनाओं को भी अपनी विशिष्ट शैली से सशक्त अभिव्यक्ति पदान की। प्रथम प्रस्तुति पंडित रविशंकर ने पहला कार्यक्रम 10 साल की उम्र में दिया था। भारत में पंडित रविशंकर ने पहला कार्यक्रम 1939 में दिया था। देश के बाहर पहला कार्यक्रम उन्होंने 1954 में तत्कालीन सोवियत संघ में दिया था और यूरोप में पहला कार्यक्रम 1956 में दिया था। 1944 में औपचारिक शिक्षा समाप्त करने के बाद वह मुंबई चले गए और उन्होंने फ़िल्मों के लिए संगीत दिया। 1960 के दशक के मध्य में उन्होंने तीन यादगार प्रस्तुतियां मॉनटेरी पॉप फेस्टिवल, कंसर्ट फॉर बांग्लादेश, वुडस्टॉक फेस्टिवल दीं।
संगीत निर्देशन रवि शंकर रवि शंकर ने भारत, कनाडा, यूरोप तथा अमेरिका में बैले तथा फ़िल्मों के लिए भी संगीत कम्पोज किया। इन फ़िल्मों में 'चार्ली', 'गांधी' और 'अपू त्रिलोगी' भी शामिल हैं। इसके अतिरिक्त आपने अनेक फ़िल्मों में भी अपने संगीत का जादू जगाया है। सत्यजीत राय की बंगाली फ़िल्म 'अपू त्रिलोगी' एक बहुचर्चित फ़िल्म थी। हिन्दी फ़िल्म अनुराधा में भी आपने ही संगीत दिया। पंडित रविशंकर ने अपने लंबे संगीत जीवन में कई फ़िल्मों के लिए भी संगीत निर्देशन किया जिसमें प्रख्यात फ़िल्मकार सत्यजीत राय की फ़िल्में और गुलज़ार द्वारा निर्देशित "मीरा" भी शामिल है। रिचर्ड एटिनबरा की फ़िल्म 'गांधी' में भी आपका ही सुरीला संगीत था। आपने कई पाश्चात्य फ़िल्मों में भी संगीत दिया
जुगलबन्दी प्रारम्भ में पंडित जी ने अमेरिका के प्रसिद्ध वायलिन वादक येहुदी मेन्युहिन के साथ जुगलबन्दियों में भी विश्व-भर का दौरा किया। तबला के महान् उस्ताद अल्ला रक्खा भी पंडित जी के साथ जुगलबन्दी कर चुके हैं। वास्तव में इस प्रकार की जुगलबन्दियों में ही उन्होंने भारतीय वाद्य संगीत को एक नया आयाम दिया। पंडित जी ने अपनी लम्बी संगीत-यात्रा में अपने और अपने सम्बन्ध में कुछ महत्त्वपूर्ण पुस्तकें भी लिखी हैं। ‘माई म्यूजिक माई लाइफ’ के अतिरिक्त उनकी ‘रागमाला’ नामक पुस्तक विदेश के एक सुप्रसिद्ध प्रकाशक ने प्रकाशित की है। सम्मान और पुरस्कार पंडित रवि शंकर को विभिन्न विश्वविद्यालयों से डाक्टरेट की 14 मानद उपाधियां मिल चुकी हैं। संयुक्त राष्ट्र संघ के अंतर्गत संगीतज्ञों की एक संस्था के सदस्य रहे। रवि शंकर को तीन ग्रेमी पुरस्कार मिले हैं। रेमन मैग्सेसे पुरस्कार, पद्म भूषण, पद्म विभूषण तथा भारत का सर्वोच्च सम्मान भारत रत्‍न भी मिल चुका है। रवि शंकर को भारतीय संगीत ख़ासकर सितार वादन को पश्चिमी दुनिया के देशों तक पहुंचाने का श्रेय भी दिया जाता है। 1968 में उनकी 'यहूदी मेनुहिन' के साथ उनकी एल्बम 'ईस्ट मीट्स वेस्ट' को पहला ग्रैमी पुरस्कार मिला था। फिर 1972 में 'जॉर्ज हैरिसन' के साथ उनके 'कॉनसर्ट फॉर बांग्लादेश' को ग्रैमी दिया गया। संगीत जगत् का ऑस्कर माने जाने वाले ग्रैमी पुरस्कार की विश्व संगीत श्रेणी में पंडित रविशंकर के साथ स्पर्धा में ब्रिटेन के प्रख्यात संगीतकार जॉन मेक्लॉलिन और ब्राज़ील के गिलबर्टो गिल और मिल्टन नेसिमेल्टो भी शामिल थे। राज्यसभा मानद सदस्य 1986 में राज्यसभा के मानद सदस्य चुनकर भी उन्हें सम्मानित किया गया। 1986 से 1992 तक राज्य सभा के सदस्य रहे। सितार वादक पंडित रविशंकर भारत के उन गिने चुने संगीतज्ञों में से थे जो पश्चिम में भी लोकप्रिय रहे। रवि शंकर अनेक दशकों से अपनी प्रतिभा दर्शाते रहे। 1982 के दिल्ली एशियाड (एशियाई खेल समारोह) के 'स्वागत गीत' को उन्होंने कई स्वर प्रदान किये थे। उनको देश-विदेश में कई बार सम्मानित किया जा चुका है। 
निधन पंडित रविशंकर का 92 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। अमेरिका में सैन डिएगो के एक अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली। पंडित रविशंकर को सांस लेने में तकलीफ की शिकायत के बाद ला जोल्ला के स्किप्स मेमोरियल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्होंने स्थानीय समयानुसार मंगलवार 11 दिसम्बर, 2012 को शाम 4.30 बजे अंतिम सांस ली। मशहूर सितार वादक पंडित रविशंकर के अमेरिका के एक अस्पताल में निधन पर शोक जताते हुए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने बुधवार को कहा कि वह राष्ट्रीय सम्पदा थे। माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की ओर से लिखे संदेश में कहा गया है, 'पंडित रविशंकर के निधन से एक युग का अंत हो गया है, मेरे साथ-साथ पूरा देश उनकी प्रतिभा, कला तथा विन्रमता को श्रद्धांजलि
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻(C) आज के दिन   की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ💐
1790-अमरिका में पहली बार जनगणना
हुई।
1831- नीदरलैंड की सेना ने दस दिनों के अभियान के बाद बेल्जियम पर कब्जा किया।
1858- ब्रितानी संसद ने ईस्ट इंडिया कंपनी से भारतीय प्रशासन अपने हाथों में लेने वाला विधेयक पारित किया।
1870- लंदन में विश्व का प्रथम भूमिगत ट्यूब रेलवे टावर सबबे शुरु हुआ।
1922- चीन में समुद्री तूफान टाइफून से लगभग साठ हजार लोगों की मृत्यु हो गई।
1923-, संयुक्त राज्य अमेरिका के 29वें राष्ट्रपति वारेन जी हार्डिंग की कार्यालय में मृत्यु।
1932- पॉजीट्रान, इलेकट्रॉन का एक कण, की कार्ल डी एंडीसन द्वारा खोज की गई।
1934- जर्मन राष्ट्रपति पॉल फॉँ हिंडेनबर्ग 
का निधन के बाद हिटलर के मंत्रिमंडल ने नए चुनाव करवाने के बजाय राष्टर्पति के पद को रिक्त रखकर समस्त शक्तियां राष्ट्र
प्रमुख को हस्तांतरित करने का कानून पास किया।
1944- तुर्की नेजर्मनी के साथ राजनयिक 
संबंध तोड़े।
1955- सोवियत संघ ने परमाणु परीक्षण किया।
1970- भारतकीपहली महिलाराजनयिक 
मुतुकम्मा चुहिवेलिया वेलिअप्पा हंगरी की
राजदूत नियुक्त हुईं।
1990- इराक ने कुबैत पर कब्जे शुरु किया। दो दिनों के भीतर कुबैती सेना खदेड़ दी गई। इराकी राष्ट्रपति सद्दाम हुसैन ने कुबैत को इराक का 19वाँ प्रांत बना लिया।
2010-पाकिस्तान के खैबर-पख्तूनख्वा प्रांत में मौनसून की वर्षा से आई बाढ़ में 1000 से अधिक लोगों की मौत हो गई।
2010 में तादातोशी अकिबा सहित 7 व्यक्तियों को फिलीपींस की राजधानी मनीला में 2010 का रेमन मैगसेसे पुरस्कार प्रदान किया गया।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐(D)आज के दिन जन्म लिए महत्त्वपूर्ण    
    व्यक्तित्व
1877 – पंडित रवि शंकर शुक्ल, मध्यप्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री
1884 – रोमुलो गालेगास वेनिजुएला के प्रसिद्ध उपन्यासकार 
1978 – पिंगली वेंकैया   भारत के राष्ट्रीय ध्वज के अभिकल्पक हैं। वे भारत के सच्चे देशभक्त एवं कृषि वैज्ञानिक भी थे।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐💐🌻(E)आज के दिन निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व।
1921- एनरिको कारूसो, इतालवी संगीतकार, गायक
1979- करन दीवान, हिंदी चलचित्र अभिनेता, गायक, (दहेज)
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻
     (F) आज का दिवस का नाम ।
1. पंडित रवि शंकर शुक्ल, मध्यप्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री थे उनका जयंती दिवस है
2. रोमुलो गालेगास वेनिजुएला के प्रसिद्ध उपन्यासकार थे उनका जयंती दिवस है।
3. पिंगली वेंकैया भारत के राष्ट्रीय ध्वज के अभिकल्पक हैं।वे भारत के सच्चे देशभक्त व कृषि वैज्ञानिक है का जन्मदिवस है।
4.एनरिको कारूसो, इतालवी संगीतकार, गायक थे उनका आज पुण्यतिथि दिवस है।
5. करन दीवान, हिंदी चलचित्र अभिनेता, गायक थे का पुण्यतिथि दिवस है।, 
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐   
आज की बात -आपके साथ" मे आज इतना ही।कल पुन:मुलाकात होगी तब तक के लिये इजाजत दिजीये।
      आज जन्म लिये  सभी  व्यक्तियोंको आज के दिन की बधाई। आज जिनका परिणय दिवस हो उनको भी हार्दिक बधाई।  बाबा महाकाल से निवेदन है की बाबा आप सभी को स्वस्थ्य,व्यस्त मस्त रखे।
💐।जय चित्रांश।💐
💐जय महाकाल,बोले सो निहाल💐
💐।जय हिंद जय भारत💐
💐  निवेदक;-💐
  💐 चित्रांश ;-विजय निगम


Popular posts
महाकाल दर्शन हेतु महाकाल एप्प की लिंक एवं वेब साइट
Image
ऑटो पार्ट रिटेलर्स और वर्कशाप की दिक्कतें अब दूर हुईं; ऑटोमोबाइल सर्विस प्रोवाइडर गोमैकेनिक ने वापी में नया स्पेयर पार्ट्स फ्रैंचाइज़ी आउटलेट शुरू किया
Image
पियाजियो व्ही।कल्सऔ ने जयपुर में राजस्था न के अपनी तरह के पहले इलेक्ट्रिक व्हीजकल (ईवी) एक्सेपीरियेंस सेंटर का उद्घघाटन किया
Image
देश की एम्प्लॉयी फ्रेंडली कंपनी में शुमार हुआ पीआर 24x7; फीमेल स्टाफ के मासिक धर्म के लिए उठाया सार्थक कदम
Image
‘‘एक महिला को एक महिला से बेहतर कोई और नहीं समझ सकता’’, यह कहना है एण्डटीवी के ‘संतोषी मां सुनाएं व्रत कथाएं’ की तन्वी डोगरा का
Image