आज की बात आपके साथ - विजय निगम

🌻💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐💐🌻
प्रिय साथियो। 
🌹राम-राम🌹 
🌻 नमस्ते।🌻
आज की बात आपके साथ मे आप सभी साथीयों का दिनांक 30 अगस्त 2020 रविवारकी प्रातः की बेला में हार्दिक वंदन है अभिनन्दन है।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐💐🌻
आज की बात आपके साथ  अंक मे है 
 A कुछ रोचक समाचार
Bआजकेदिन जन्मे.प्रसिद्ध साहित्यकार
उपन्यास कार कवि लेखक भगवतीचरण वर्मा का.जीवन परिचय लेख 
C आज के दिन   की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ
D आज के दिन जन्म लिए महत्त्वपूर्ण    
    व्यक्तित्व
E आज के निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व।
F आज का दिवस का नाम ।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐💐🌻
    (A) कुछ रोचक समाचार(संक्षिप्त)
💐(A/1)मध्यप्रदेश में आफत की बारिश
होशंगाबाद में बाढ़, सेना और हेलिकॉप्टर बुलाए गए।💐
🌻💐(A/2)नई दिल्ली। भारत में 29 अगस्त 2020 को नेशनल स्पोर्ट्स डे मनाया जा रहा है।💐
💐(A/3)रिया नेकी हैरेसमेंटकीशिकायत
,तो CBI अधिकारी बोले- ऐसा होता तो पटना बुलाते💐
💐(A/4)पुलवामा मुठभेड़ में  सुरक्षा
बलों ने 3 आतंकवादी मार गिराए सुरक्षा बल का 1 जवान शहीद।💐
🌻💐(A/5)सुशांत सिंह राजपूत मामले में रिया चक्रवर्ती की होगी गिरफ्तारी?पूछ
ताछ में CBI ने एक्ट्रेस से पूछे 10 सवाल, 
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻 (A)कुछ रोचक समाचार(विस्तृत)
💐(A/1)मध्यप्रदेश में आफत की बारिश
होशंगाबाद में बाढ़, सेना और हेलिकॉप्टर बुलाए गए।💐
सीएम ने की आपात बैठक, अगले 48 घंटे में 24 जिलों में अलर्ट।
नर्मदा नदी का जल स्तर खतरे के निशान 964 फिटसे 4 फिट ऊपर 968.90 फिट परपहुंच गया।होशंगाबाद में बाढ़केहालात
को देखते हुए सेना बुलाई गई है।
नर्मदा नदी का जल स्तर खतरे के निशान 964 फीट 4 फीट ऊपर 968.90 पर पहुंच गया है।
तवा डैम के सभी 13 के 13 गेटों को 30-30 फीट खोलकर पानी को लगातार छोड़ा जा रहा है
लगातार हुई बारिश से प्रदेश में 251 में से 120डैम में पानी क्षमता से90% सेज्यादा
मध्यप्रदेश के बारिश से हालात मुश्किल हो रहे हैं।होशंगाबाद में बाढ़ से हालात बिगड़ गए हैं। इसके चलते अब सेना को बुलाया गया है।एनडीआरएफ कीदो यूनिट भी मदद के लिए पहुंच रही हैं। शामतक हेलिकाप्टर भी होशंगाबाद पहुंच जाएंगे। उधर, राजधानी भोपाल में भी शुक्रवार से लगातार बारिश का दौर जारी है।शनिवार सुबह 6 बजे तकभोपाल में 97.7 मिमी
पानी रिकॉर्ड किया गया।
दरअसल, लगातार हुई बारिश से प्रदेश में 251 में से 120 डैम में पानी क्षमता से 90%से ज्यादा हो चुका है।ऐसे में ज्यादा
तर डैम को गेट खोलने से निचले क्षेत्रों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है।होशंगाबाद की बातकरें तो यहां भारी बारिश से नर्मदा का जलस्तर खतरे के निशान 964 फीट से 4 फीट ऊपर यानी 968.90 पर पहुंच गया। तवाडैम के सभी 13 गेट को 30-30 फीट खोलकर 5 लाख 33 हजार 823 क्यूसेक पानी प्रति सेकंड छोड़ा जा रहा है।
  💐फिलहाल बारिश से राहत नहीं💐
मौसम विभाग ने अगले 48 घंटे में प्रदेश के अधिकांश जिलों में भारी बारिश का अलर्ट है। मौसम विभाग ने छिंदवाड़ा, विदिशा, सीहोर, राजगढ़, शाजापुर और आगर में रेड अलर्ट जारी किया है। इसके अलावाभोपाल और इंदौर समेत18 जिलों 
में तेज बारिश का यलो अलर्ट जारी किया है।
मुख्यमंत्रीशिवराज सिंह चौहान ने होशंगा
बादजिले में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई जायजा लिया।
होशंगाबाद में बाढ़ के साथ ही सीहोर,राय
सेन,सागरमें तेज बारिशऔर मौसमखराब
होने के कारण मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहानने अपना दौरा रद्द कर दिया। सुबह 10बजेमुख्यमंत्री निवास परआपात बैठक बुलाई। उन्होंने प्रदेश की प्रमुख नदियों के जलस्तर की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा है कि स्थिति पर नजर बनाए रखें। जहां जैसी जरूरत हो, उस पर तुरंत कदम उठाएं।
होशंगाबाद में सेठानी घाट किनारे मौजूद मंदिर आधे से ज्यादा डूब चुके हैं। - 
होशंगाबाद में सेठानी घाट किनारे मौजूद मंदिर आधे से ज्यादा डूब चुके हैं।
शिवराज ने कहा कि नर्मदा और उसकी सहयोगी नदियों में जलस्तर बढ़ गया है। कई नदियां खतरे के निशान के ऊपर बह रही हैं। प्रदेश के कुछ हिस्सों में अगले 48 घंटे में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।एनडीआरएफ और एसडीआरएफ अलर्ट पर हैं।
छिंदवाड़ा में सेना के हेलीकॉप्टर से एक युवक का रेस्क्यू किया गया। युवक करीब 24 घंटे से नदी के टापू पर फंस गया था।
      💐प्रदेश के बांधों की स्थिति💐
तवा डैम के सभी 13 गेट खोले गए हैं।
इंदिरा सागर के 22 गेट खोले गए हैं।
ओंकारेश्वर में 23 में से 21 गेट खोले गए।
राजघाट 18 में से 14 गेट खोले गए।
बरगी के 21 में से 17 गेट खोले गए।
मंडला, पेंच बांध के सभी गेट खोले गए हैं
भोपालमेंभदभदा के 4 और कलिया सोत
के 5 गेट खोले गए।
भोपाल के न्यू मिनाल में सड़कों में घुटनों तक पानी भर गया।
भोपाल में भदभदा डैम के 4 गेट खोले गए
राजधानी भोपाल में बीते 24 घंटे में लगा
तारबारिश हो रही है।शनिवारसुबह 6 बजे तक शहरमें 97.7 मिमी(9.77 सेमी)पानी 
गिर चुका था,जबकि भोपाल जिले में 80.9 मिमी (8.09 सेमी) बारिश रिकॉर्ड की गई। इसके चलते भदभदा डैम फुल हो गया। उसके सुबह ही 4 गेट खोलने पड़े।
💐ओंकारेश्वर में नर्मदा नदी उफान पर है।💐 - 
💐ओंकारेश्वर में नर्मदा नदी उफान पर है।
💐खंडवा, खरगोन, बड़वानी और धार जिलों को रेड अलर्ट💐
इंदिरा सागर और ओंकारेश्वर बांध के गेट खोलने के बाद नर्मदा ने अपना रौद्र रूप धारण कर लिया है।लगातार बढ़ रहे जल
स्तर के कारण खंडवा, खरगोन, बड़वानी औरधार जिलों को रेडअलर्ट पर रखा गया है।खंडवा में प्रशासननर्मदा के किनारे बसे गांवों पर नजर रखे हुए हैं। दोनों बांधों से करीब 10 हजार क्यूसेक प्रति सेकंड की रफ्तार से पानी छोड़ा जा रहा है। इससे नर्मदा का जलस्तर खतरे के निशान तक पहुंच गया है। वहीं, सरदार सरोवर बांध के बैक वाटर में लगातार इजाफा हो रहा है। लोग नाव की मदद से सामान शिफ्ट कर रहे।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻💐(A/2)नई दिल्ली। भारत में 29 अगस्त 2020 को नेशनल स्पोर्ट्स डे मनाया जा रहा है।💐
 साल 2012 से हर 29 अगस्त को यह दिवस मनाया जाता है। हॉकी  के महान खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद  की याद में खेल दिवस मनाया जाता है।क्योंकि,29 अगस्त को ही मेजर ध्यानचंद का जन्म हुआ है। लिहाजा, भारत सरकार ने इस दिन को नेशनल खेल दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की थी। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोगों से अपील की है कि खेल और फिटनेस को अपनी दिनचर्या में शामिल करें। इस मौके पर देश के खिला
ड़ियों को सम्मान भी किया जाता है।
💐में41ध्यानचंद की याद में मनाया जाता है नेशनल स्पोर्ट्स डे💐
साल 2012 से हर साल 29 अगस्त को नेशनल स्पोर्ट्स डे के रूप में मनाया जाता है।इसदिनखेल के क्षेत्र में बड़ी उपलब्धियां
हासिलकरनेवाले खिलाड़ियों कोसम्मानित
किया जाता है।खेल दिवस केमौकेपर इस बारपांच खिलाड़ियों को राजीव गांधी खेल रत्नसेसम्मानितकियाजाएगाइसकेअलावा
27खिलाड़ियोंको अर्जुनअवॉर्डदियाजाएंगे
 जिनखिलाड़ियों को राजीव गांधी खेल रत्न से सम्मानित किया जाएगा,उनमें क्रिकेटर रोहित शर्मा,टेबल टेनिसखिलाड़ी 
मनिका बत्रा, महिलाहॉकी टीम कीकप्तान रानी रामपाल पहलावन विनेश फोगाट,
पैरालंपियन मरियाप्पन थंगावेलु के नाम शामिल हैं। हालांकि, कोरोना महामारी के कारणइस बार यह सम्मान वर्चुअली दिया
जाएगा।राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद इनसभी
खिलाड़ियों को राष्ट्रीय खेल और अडवेंचर अवॉर्ड्स से सम्मानित करेंगे।इस मौके पर कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहेंगे। बताया जा रहा है कि दिल्ली के विज्ञान भवन में इस समारोह का आयोजन किया जाएगा।
💐PM मोदी  ने  देशवासियों से की यह
अपील 💐
इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  ने हॉकी लीजेंड मेजरध्यानचंद कोश्रद्धांजलि
दीऔरप्रतिभाशालीखिलाड़ियों केपरिवारों
 और कोचों की सराहना भी की। पीएम मोदी ने कहा कि सरकार खेल को लोक
प्रिय और प्रतिभाओं को समर्थन के लिए लगातार प्रयास कर रही है।उन्होंनेकहाकि
देश की जनता से अपील करता हूं कि वह अपनी दिनचर्या में खेल और फिटनेस को जरूर शामिल करें। ऐसा करने से कई फायदे होंगे,आप स्वस्थ और खुश भी रहेंगे।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐💐🌻💐(A/3)रिया नेकी हैरेसमेंटकीशिकायत
,तो CBI अधिकारी बोले- ऐसा होता तो पटना बुलाते💐
एक अधिकारी ने बताया कि उन्होंने रिया कोजवाब दिया कि देखिएअगर हमें हैरास ही करना होतो तो हम आपको पटना बुला सकते थे.
💐रिया से शुक्रवार को 10 घंटे तक हुई पूछताछ💐
💐पूछताछ के दौरान रिया ने उठाया सुरक्षा का मुद्दा💐
💐रिया ने हैरेसमेंट किए जाने की भी शिकायत की💐
सुशांतसिंह राजपूत केस में रिया चक्रवर्ती से सीबीआई ने पूछताछ की है. शुक्रवार को जांच के पहले ही दिन रिया ने टीम के सामने ये शिकायत भी रखी कि उनका हैरेसमेंट किया जा रहा है. इस दौरान एक अधिकारी ने उनसे कहा कि अगर ऐसा होता तो पूछताछ के लिए पटना बुलाया जाता.सीबीआई सूत्रों ने बताया है कि पूछ
ताछ के दौरान रिया चक्रवर्ती ने शिकायत की थी कि उनका हैरेसमेंट हो रहा है. इस दौरान एक अधिकारी ने जवाब दिया कि अगर हमें हैरास ही करना होता तो हम आपको पटना बुला सकते थे. लेकिन हमें पता है कि वहां आप सुरक्षित नहीं होंगी और इसी वजह से हम यहां पर आपसे पूछताछ कर रहे हैं.
मालूम हो कि रिया चक्रवर्ती से सीबीआई ने शुक्रवार को तकरीबन 10 घंटे तक पूछ
ताछ की थी. इसके बाद आज फिर उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया गया है.रिया की शिकायतके बाद सीबीआई नेमुंबई पुलिस से रिया को सुरक्षा देने की भी सिफारिश की है, जिसके बाद उन्हें सुरक्षा दी गई है.
जहां तक पूछताछ का सवाल है तो रिया चक्रवर्ती से पहले सैमुअल मिरांडा, नीरज और एक मास्क मैन डीआरडीओ में प्रवेश कर चुके हैं. इसके अलावा मुंबई पुलिस की एक गाड़ी भी डीआरडीओ ऑफिस पहुंची है जिसमें मुंबई पुलिस के; तीन अधिकारियों के होने की बात कही जा रही है. बता दें कि रिया चक्रवर्ती पर गई गंभीर आरोप हैं.
उधर गौरव आर्या को ईडी ने पूछताछ के लिए तलब किया है. गौरव और रिया के व्हाट्सएप पर ड्रग्स को लेकर चैट पाई गई हैं. जिसमें रिया चक्रवर्ती गौरव से कह रही हैं कि उन्होंने एक बार MDMA ट्राय किया हुआ है. इस सारे घटनाक्रम के बाद NCB की इस केस में एंट्री हो गई है जो ड्रगडीलिंग से जुड़ेमामलोंपर जांचकरेगी।.
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐
💐(A/4/a)पुलवामा मुठभेड़ में  सुरक्षा
बलों ने 3 आतंकवादी मार गिराए सुरक्षा बल का 1 जवान शहीद।💐
पुलवामा।आतंकवादियों केइलाकेमें होने
की खबर मिलतेही शुक्रवार देर रात को 
पुलवामा के जदुरा इलाके को सुरक्षाबलों ने घेर लिया।इस दौरान दोनों केबीच मुठ
भेड़ में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया है।वहीं इस मुठभेड़ के दौरान एक जवान गंभीर रूप से घायल हो गया।घायल जवान को उपचार के लिए सैन्य अस्पतालमें भर्ती कराया गया।जहांजवान
 ने दम तोड़ दिया।कश्मीर जोन पुलिस के अनुसार इस कार्रवाई में सेना और पुलिस के जवानशामिल हैं।कश्मीरजोनकीपुलिस
ने तीन आतंकिेयों के मारे जाने की पुष्टि
की है।सुरक्षा बलों ने पहले उन्हें आत्म
समर्पण करने को कहा।इसके बाद भी जब वे नहीं माने और गोलीबारी करते रहे तो जवाबी कार्रवाई सेमुठभेड़ शुरू हो गई। मीडियारिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने बताया कि पुलवामा के जदुरा इलाके में एनकाउंटर  चालू है।पुलिस और सुरक्षा बल के जवान डटे हुए हैं। हालांकि, इस मामले को लेकर अभी पूरी जानकारी नहीं मिल सकी है।
इससेपहलेपुलिसकश्मीर के महानिरीक्षक
विजय कुमारका कहना है कि शुक्रवार को एक मुठभेड़ में शोपियां जिले के किलौरा इलाके में चार आतंकवादी मारे गए थे।इसमें से एक को पकड़ने में कामयाबी
हासिल हुई थी।मारे गएआतंकवादियों
में एक शकूरपार्रे जम्मू-कश्मीर पुलिस का पूर्व जवानऔर अल-बद्र संगठन काजिला
कमांडरथा।सुरक्षा बलों ने जिले के किलूरा
इलाके में आतंकवादियोंकी मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद ही यहां पर घेराबंदी और तलाशीअभियान शुरू कर दिया था। सेनाकेप्रवक्ताने बतायाकिएकआतंकवादी 
ने सरेंडर किया है। घटनास्थल से एके 47 और पिस्तौल बरामद किए गए।
💐👌💐🎂💐🎂💐🎂💐🎂💐
🌻💐(A/4)सुशांत सिंह राजपूत मामले में रिया चक्रवर्ती की होगी गिरफ्तारी?पूछ
ताछ में CBI ने एक्ट्रेस से पूछे 10 सवाल, 💐
बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती से सीबीआई शुक्रवार को पूछताछ कर रही है। सुशांत मामले में सीबीआई को मुंबई में जांच करते हुए सात दिन पूरे हो चुके हैं और आज आठवां दिन है। जांच एजेंसी नेअभी तक सुशांत से जुड़े कईअहमलोगों
से पूछताछ की है। हालांकि, जांच एजेंसी द्वारारिया से पूरे मामले में पहली बार पूछ
ताछ हो रही है। सूत्रों के अनुसार, रिया चक्रवर्ती से सीबीआई ने मामले सेजुड़ेदस
सवालपूछे हैं।वहीं,सुशांत केफैन्सलगातार 
रिया की गिरफ्तारी को लेकर भी जांच एजेंसी पर दबाव बना रहे हैं।
सू्त्रोंनेबताया कि रिया चक्रवर्ती का बयान सीबीआई टीम की वरिष्ठ अधिकारी नूपुर प्रसाद रिकॉर्ड कर रही हैं। एजेंसी मामले में सुशांत के पिता द्वारा लगाए गए रिया पर आत्महत्या के लिए उकसाने संबंधी विभिन्न आरोपों को लेकर सवाल-जवाब कर रही है।वहीं,एजेंसी की मर्डर के एंगल पर भी जांच जारी है।
💐सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती से पूछे ये 10 सवाल:💐
1- सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती से पूछा, 'सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बारे में उन्हें किसने जानकारी दी और उस वक्त वह कहां पर थीं?
2-क्या वह सुशांत के घर से इसलिए चली गईं, क्योंकि दोनों के बीच कोई लड़ाई हुई थी?
3- सुशांत सिंह राजपूत के घर से जाने के बाद क्या दोनों के बीच कोई बातचीत हुई
9 जूनसे लेकर14 जून के बीच कोई बात
चीत?अगर हां तो क्या हुई और अगर नहीं तो क्यों नहीं हुई?
4-मौत की खबर सुनते ही,क्यारियासुशांत 
के बांद्रा स्थित फ्लैट पर गई थीं? अगर नहीं तो इसके पीछे की वजह और उन्होंने सुशांत की बॉडी कहां और कब देखी?
5- रिया चक्रवर्ती ने सुशांत  सिंह राजपूत का घर 8 जून को क्यों छोड़ा?
6- यूरोप ट्रिप पर रिया और सुशांत कब गए और क्या उस ट्रिप पर परिवार का कोई और सदस्य भी गया था?
7- सूत्रों के अनुसार,सीबीआई ने पूछा कि क्या रिया चक्रवर्ती ने सुशांत सिंह राजपूत को कोईदवा दी या फिर डॉक्टर कोसुशांत
को दिखानेके लिए कोई अपॉइंटमेंट लिया था?
8- रिया और सुशांत ने एक साथ कभी कोई फिल्म साइन की थी?
9- रिया चक्रवर्ती और सुशांत की बहन के बीच कभी लड़ाई हुई थी? दोनों के बीच रिश्ते कैसे थे?
10- सुशांत सिंह राजपूत के परिवार से रिया चक्रवर्ती के रिश्ते कैसे थे? क्या रिया का परिवारसुशांत के फ्लैट पर कभीआया
था?
💐आठ दिनों से मुंबई में है सीबीआई की टीम💐
सीबीआई टीम एक्टर की मौत के मामले कीजांच के लिएपिछले आठ दिन से शहर में है। बृहस्पतिवार को एजेंसी ने चक्रवर्ती के भाई शौविक चक्रवर्ती का बयान दर्ज किया था। एजेंसी ने शौविक से आठ घंटे से ज्यादा समय तक पूछताछ कर उनका बयान दर्ज किया। सीबीआई अधिकारी ने बताया किचक्रवर्ती कोशुक्रवार सुबह साढ़े दस बजे जांच टीम के समक्ष पेश होने के लिएएजेंसीने तलब किया थाउन्होंनेबताया 
कि चक्रवर्ती उपनगरीय सांता क्रूज स्थित डीआरडीओ अतिथि गृह जाने  के लिए सुबह10बजेअपने घर से निकलीं,एजेंसी 
की जांच टीम यहीं रह रही है।
💐किससे-किससे पूछताछ कर चुकी है सीबीआई?💐
सीबीआई इस मामले मेंअब तकअभिनेता
 के साथ फ्लैट में रहने वाले उनके दोस्त सिद्धार्थ पिठानी, खाना बनाने वाले नीरज सिंहऔरघरेलू सहायक दीपेश सावंत और अन्य से पूछताछ कर चुकी है। सीबीआई द्वारा इस मामले की जांच अपने हाथों में लिए जाने से पहले मुंबई पुलिस अभिनेत्री का बयान दर्ज कर चुकी है।
💐सुप्रीम कोर्ट ने जांच सीबीआई को सौंपी थी💐
पिछले सप्ताह उच्चतम न्यायालय ने इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपे जाने का रास्ता साफ कर दिया था। राजपूत के पिता ने पटना में रिया और अन्य पर अभि
नेता को आत्महत्या के लिए उकसाने और धन की हेराफेरी करने का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई थी। 34 वर्षीय
अभिनेता सुशांत 14 जून 2020 को उप
नगरीय बांद्रा में अपने फ्लैट में फंदे से लटके हुए मिले थे।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐💐 💐(B)आजकेदिन जन्मे.प्रसिद्ध साहित्यकार
उपन्यास कार कवि लेखक भगवतीचरण वर्मा का.जीवन परिचय लेख
           💐 जीवन परिचय  💐 
पूरा नाम भगवतीचरण वर्मा 
जन्म:- 30 अगस्त, 1903 
जन्मभूमि;- उन्नाव ज़िला, उत्तर प्रदेश मृत्यु;- 5 अक्टूबर, 1981 
कर्मभूमि:-लखनऊ 
कर्म-क्षेत्र;- साहित्यकार
मुख्य रचनाएँ :-'चित्रलेखा', 'भूले बिसरे चित्र', 'सीधे सच्ची बातें', 'सबहि नचावत राम गुसाई', 'अज्ञात देश से आना', 'आज मानव का सुनहला प्रात है', 'मेरी कविताएँ', 'मेरी कहानियाँ', 'मोर्चाबन्दी', 'वसीयत'। 
विषय :-उपन्यास, कहानी, कविता, संस्मरण, साहित्य आलोचना, नाटक, पत्रकार। 
भाषा;- हिन्दी 
विद्यालय;- इलाहाबाद विश्वविद्यालय शिक्षा ;-बी.ए., एल.एल.बी. पुरस्कार-उपाधि साहित्य अकादमी पुरस्कार, पद्मभूषण 
प्रसिद्धि:-उपन्यासकार 
नागरिकता;- भारतीय 
   💐भगवतीचरण वर्मा की रचनाएँ 💐
कुछ सुन लें, कुछ अपनी कह लें -भगवतीचरण वर्मा तुम सुधि बन-बनकर बार-बार -भगवतीचरण वर्मा अज्ञात देश से आना -भगवतीचरण वर्मा बसन्तोत्सव -भगवतीचरण वर्मा तुम अपनी हो, जग अपना है -भगवतीचरण वर्मा मातृ-भू शत-शत बार प्रणाम -भगवतीचरण वर्मा आज मानव का -भगवतीचरण वर्मा देखो-सोचो-समझो -भगवतीचरण वर्मा बस इतना--अब चलना होगा -भगवतीचरण वर्मा आज मानव का सुनहला प्रात है -भगवतीचरण वर्मा मैं कब से ढूँढ़ रहा हूँ -भगवतीचरण वर्मा आज शाम है बहुत उदास -भगवतीचरण वर्मा स्मृतिकण -भगवतीचरण वर्मा मानव -भगवतीचरण वर्मा संकोच-भार को सह न सका -भगवतीचरण वर्मा हम दीवानों की क्या हस्ती -भगवतीचरण वर्मा कल सहसा यह सन्देश मिला -भगवतीचरण वर्मा तुम मृगनयनी -भगवतीचरण वर्मा पतझड़ के पीले पत्तों ने -भगवतीचरण वर्मा 
         💐 भगवतीचरण वर्मा 💐
जन्म- 30 अगस्त, 1903, उत्तर प्रदेश; मृत्यु- 5 अक्टूबर, 1981) हिन्दी जगत् के प्रमुख साहित्यकार थे। उन्होंने लेखन तथा पत्रकारिता के क्षेत्र में ही प्रमुख रूप से कार्य किया। कवि के रूप में भगवतीचरण वर्मा के रेडियो रूपक 'महाकाल', 'कर्ण' और 'द्रोपदी'- जो 1956 ई. में 'त्रिपथगा' के नाम से एक संकलन के आकार में प्रकाशित हुए, उनकी विशिष्ट कृतियाँ हैं। यद्यपि उनकी प्रसिद्ध कविता 'भैंसागाड़ी' का आधुनिक हिन्दी कविता के इतिहास में अपना महत्त्व है।
          💐जीवन परिचय 💐
हिन्दी के प्रसिद्ध साहित्यकार भगवती
चरण वर्मा का जन्म 30 अगस्त, 1903 ई. में उन्नाव ज़िले, उत्तर प्रदेश के शफीपुर
गाँवमें हुआथा।इन्होंने इलाहाबाद विश्व
विद्यालय से बी.ए., एल.एल.बी.कीपरीक्षा
उत्तीर्ण की।भगवतीचरण वर्मा जी नेलेखन
तथा पत्रकारिता के क्षेत्र में ही प्रमुखरूप से कार्य किया।इसकेबीच-बीचमें इनके
 फ़िल्म तथा आकाशवाणी से भी सम्बद्ध रहे। बाद में यह स्वतंत्र लेखन की वृत्ति अपनाकर लखनऊ में बस गये।इन्हें राज्य
सभाकी मानद सदस्यता प्राप्त करायी
गई। भगवतीचरण वर्मा जी ने एक बार अपने सम्बन्ध में कहा था- मैं मुख्य रूप से उपन्यासकार हूँ, कवि नहीं-आज मेरा उपन्यासकार ही सजग रह गया है, कविता से लगाव छूट गया है। कोई उनसे सहमत हो या न हो, यह माने या न माने, कि वेमुख्यत:उपन्यासकार हैं और कविता सेउनकालगावछूट गयाहै।उनकेअधिकांश
 भावक यह स्वीकार करेंगे कि सचमुच ही कविता से वर्माजी का सम्बन्ध विच्छिन्न होगया है,या हो सकता है। उनकी आत्मा कासहज स्वर कविता का है,उनका व्यक्ति
-त्वशायरानाअल्हड़पन, रंगीनी और मस्ती का सुधरा-सँवारा हुआ रूप है। वे किसी 'वाद' विशेष की परिधि में बहुत दिनों तक गिरफ़्तार नहीं रहे। यों एक-एक करके प्राय: प्रत्येक 'वाद' को उन्होंने टटोला है, देखा है, समझने-अपनाने की चेष्टा की है, पर उनकी सहज स्वातन्त्र्यप्रियता,रूमानी
बैचेनी, अल्हड़पन और मस्ती, हर बार उन्हें 'वादों'की दीवारें तोड़कर बाहरनिकल 
आने के लिए प्रेरणा देती रही और प्रेरणा के साथ-साथ उसे कार्यान्वित करने की क्षमताऔर शक्ति भी।यही अल्हड़पन और
रूमानी मस्ती इनके कृतित्व में किसी भी विधा के अंतर्गत क्यों न हो जहाँ एक ओर प्राण फूँक देती है, वहीं दूसरी ओर उसके शिल्प पक्ष की ओर से उन्हें कुछ-कुछ लापरवाह भी बना देती है। वे छन्दोबद्ध कविताके हामी हैं, उसी को कविता मानते हैं,पर यह उनकी सहज स्वातन्त्र्यप्रियता के प्रति नियति का हल्का, मीठा सा परिहास ही है।
               💐विशेषता💐
भगवतीचरण वर्मा उपदेशक नहीं हैं, न विचारक के आसन पर बैठने की आकांक्षा ही कभी उनके मन में उठी। वे जीवन भर सहजता के प्रति आस्थावान रहे, जो छायावादोत्तर हिन्दी साहित्य की एक प्रमुख विशेषता रही। एक के बाद एक 'वाद' को ठोक-बजाकर देखने के बाद ज्यों ही उन्हें विश्वास हुआ कि उसके साथ उनका सहज सम्बन्ध नहीं हो सकता, उसे छोड़कर गाते-झूमते, हँसते-हँसाते आगे बढ़े। अपने प्रति, अपने 'अहं' के प्रति उनका सहज अनुराग अक्षुण्ण बना रहा। अनेक टेढ़े-मेढ़े रास्तों से घुमाता हुआ उनका 'अहं' उन्हें अपने सहजधर्म और सहजधर्म की खोज में जाने कहाँ-कहाँ ले गया। उनका साहित्यिक जीवन कविता से भी और छायावादी कविता से आरम्भ हुआ, पर न तो वे छायावादी काव्यानुभूति के अशरीरी आधारों के प्रति आकर्षित हुए, न उसकी अतिशय मृदुलता को ही कभी अपना सके। इसी प्रकार अन्य 'वादों' में भी कभी पूरी तरह और चिरकाल के लिए अपने को बाँध नहीं पाये। अपने 'अहं' के प्रति इतने ईमानदार सदैव रहे कि ज़बरन बँधने की कोशिश नहीं की। किसी दूसरे की मान्यताओं को बिना स्वयं उन पर विश्वास किये अपनी मान्यताएँ नहीं समझा। कहीं से विचार या दर्शन उन्होंने उधार नहीं लिया। जो थे, उससे भिन्न देखने की चेष्टा कभी नहीं की।
             💐प्रमुख कृतियाँ💐
कवि के रूप में भगवतीचरण वर्मा के रेडियो रूपक 'महाकाल', 'कर्ण' और 'द्रोपदी'- जो 1956 ई. में 'त्रिपथगा' के नाम से एक संकलन के आकार में प्रकाशित हुए हैं, उनकी विशिष्ट कृतियाँ हैं। यद्यपि उनकी प्रसिद्ध कविता 'भैंसागाड़ी' का आधुनिक हिन्दी कविता के इतिहास में अपना महत्त्व है। मानववादी दृष्टिकोण के तत्व, जिनके आधार पर प्रगतिवादी काव्यधारा जानी-पहचानी जाने लगी, 'भैंसागाड़ी' में भली-भाँति उभर कर सामने आये थे। उनका पहला कविता संग्रह 'मधुकण' के नाम से 1932 ई. में प्रकाशित हुआ। तदनन्तर दो और काव्य संग्रह 'प्रेम संगीत' और 'मानव' निकले। इन्हें किसी 'वाद' विशेष के अंतर्गत मानना ग़लत है। रूमानी मस्ती, नियतिवाद, प्रगतिवाद, अन्तत: मानववाद इनकी विशिष्टता
संगीत वर्माजी का संगीत वीणा या सितार का नहीं, हार्मोनियम का संगीत है, उससे गमक की माँग करना ज़्यादती है। उपन्यासकार भगवतीचरण वर्मा मुख्यतया उपन्यासकार हों या कवि, नाम उनका उपन्यासकार के रूप में ही अधिक हुआ है, विशेषतया 'चित्रलेखा' के कारण। 'तीन वर्ष' नयी सभ्यता की चकाचौंध से पथभ्रष्ट युवक की मानसिक व्यथा की कहानी है। तीन वर्ष और टेढ़े-मेढ़े रास्ते राजनीतिक और सामाजिक पृष्ठभूमि में प्राय: यंत्रवत् परिचालित पात्रों के माध्यम से लेखक यह दिखाने की चेष्टा करता है कि समाज की दृष्टि में ऊँची और उदात्त जान पड़नेवाली भावनाओं के पीछे जो प्रेरणाएँ हैं, वे और कुछ नहीं केवल अत्यन्त सामान्य स्वार्थपरता और लोभ की अधम मनोवृत्तियों की ही देन हैं। आख़िरी दाँव एक जुआरी के असफल प्रेम की कथा है और अपने खिलौने (1957 ई.) नयी दिल्ली की 'मॉर्डन सोसायटी' पर व्यंग्यशरवर्षण है। इनका बृहत्तम और सर्वाधिक सफल उपन्यास भूले बिसरे चित्र (1959) है, जिसमें अनुभूति और संवेदना की कलात्मक सत्यता के साथ उन्होंने तीन पीढ़ियों का, भारत के स्वातंत्र्य आन्दोलन के तीन युगों की पृष्ठभूमि में मार्मिक चित्रण किया है।
              💐पुरस्कार💐
भगवतीचरण वर्मा को भूले बिसरे चित्र पर साहित्य अकादमी पुरस्कार और पद्मभूषण से सम्मानित किया गया।
                💐मृत्यु💐
भगवतीचरण वर्मा का निधन 5 अक्टूबर, 1981 ई. को हुआ था।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻(C) आज के दिन   की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ💐
 1659 - दारा शिकोह को औरंगजेब द्वारा फाँसी दी गयी।
 1682 - विलियम पेन इंग्लैंड से रवाना हुए और बाद में उन्होंने अमेरिका में पेनसिल्वेनिया कॉलोनी की स्थापना की। 1780 - जनरल बेनेडिक्ट अर्नोल्ड ने वेस्ट प्वाइंट फोर्ट में ब्रिटिश सेना के सामने आत्मसमर्पण करने का वादा किया। 1806 - न्यूयॉर्क शहर का दूसरा दैनिक समाचार पत्र ‘डेली एडवर्टाइजर’ आखिरी बार प्रकाशित किया गया।
 1928 - द इंडिपेंडेंस ऑफ़ इंडिया लीग की भारत में स्थापना। 
1947- भारतीय संविधान का प्रारूप तैयार करने के लिए डॉ भीमराव आम्बेडकर के नेतृत्व में एक समिति का गठन किया गया।
 1951 - फिलीपींस और अमेरिका ने एक रक्षा संधि पर हस्ताक्षर किये। 
1984 - अंतरिक्ष यान ‘डिस्कवरी’ ने पहली बार उड़ान भरी।
 1991 - अजरबैजान ने सोवियत संघ से अपनी स्वतंत्रता की घोषणा की। 
1999 - पूर्वी तिमोर की स्वतंत्रता के लिए जनमत संग्रह सम्पन्न।
 1999 - पूर्वी तिमोर के निवासियों ने इंडोनेशिया से आजादी के लिए भारी मतदान किया। संयुक्त राष्ट्र ने चार सितंबर को परिणाम की घोषणा की। 
2002 - ताइवान में भूकम्प के झटके महसूस किये गए। 
2002 - कोनोको इंक और फिलिप्स पेट्रोलियम ने विलय कर कोनोकोफिलिप्स बनायी। यह अमेरिका की तीसरी सबसे बड़ी एकीकृत ऊर्जा कंपनी और दूसरी सबसे बड़ी रिफाइनिंग कंपनी थी। 2003- रूसी पनडुब्बी बेरेंट्स में डूबी, नौ मरे, आस्ट्रेलिया ने विश्व नौकायन में स्वर्ण पदक जीता। समाजवादी पार्टी के नेता मुलायम सिंह सागरयादव तीसरी बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने।
 2007 - जर्मनी के दो वैज्ञानिक गुंटर निमित्ज और आल्फ़ोंस स्टालहोफ़ेन ने अल्बर्ट आइंसटीन के सापेक्षता के सिद्धान्त को ग़लत ठहराने का दावा किया। नेपाल की कोईराला सरकार ने चार माओवादी विद्रोहियों को फ़्रांस, डेनमार्क, आस्ट्रेलिया और मलेशिया का राजदूत नियुक्त किया। बांग्लादेश सरकार ने नोबेल पुरस्कार विजेता मुहम्मद युनुस के सम्मान में डाक टिकट जारी किया। 2014 - दक्षिण अफ्रीकी देश लेसोथो के प्रधानमंत्री टॉम थबाने सेना द्वारा कथित तौर पर तख्तापलट के प्रयासों के बाद दक्षिण अफ्रीका भाग गये।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐(D)आज के दिन जन्म लिए महत्त्वपूर्ण    
    व्यक्तित्व
1559 - जहाँगीर (सलीम)- अकबर का पुत्र एवं मुग़ल वंश 
1888 - कनाईलाल दत्त - भारत की आज़ादी के लिए फाँसी के फंदे पर झूलने वाले अमर शहीदों में से
1895 - सरदार हुकम सिंह, भारतीय राजनीतिज्ञ और पूर्व लोकसभा अध्यक्ष  एक।
1903 - भगवतीचरण वर्मा, हिन्दी जगत् के प्रमुख साहित्यकार।
1912 - नैंसी वेक - दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान प्रसिद्ध महिला लड़ाकों में से एक थीं।
1923 - शैलेन्द्र गीतकार  का जन्म
1929-अखिल भारतिय कायस्थमहासभा 
के प्रसिद्ध व्यक्तित्व एवम समाजसेवी
के.सी. निगम का जन्म आज ही के दिन हुवा।
1954 - रवि शंकर प्रसाद - एक वकील और राजनीतिज्ञ हैं।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻(E)आज के निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व।
1659 - दारा शिकोह - मुग़ल बादशाह शाहजहाँ और मुमताज़ महल का सबसे बड़ा पुत्र था।
1952 - ओसबोर्न स्मिथ - भारतीय रिज़र्व बैंक के पहले गवर्नर।
1976 - जी.पी. श्रीवास्तव - हिन्दी साहित्यकार थे।
2008- कृष्ण कुमार बिड़ला, प्रख्यात उद्योगपति
2014 बिपिन चन्द्र - प्रसिद्ध इतिहासकार
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻(F) आज का दिवस का नाम
1 - जहाँगीर (सलीम)- अकबर का पुत्र एवं मुग़ल वंश थे उनका आज जयन्ति दिवस है।
2 कनाईलाल दत्त - भारत की आज़ादी के लिए फाँसी के फंदे पर झूलने वाले अमर शहीदों में से एक थे उनका आज जयन्ति
दिवस है।
3.सरदार हुकम सिंह, भारतीय
राजनीतिज्ञऔर पूर्व लोकसभा अध्यक्ष थे उनका आज जयन्ति दिवस है।
4.भगवतीचरण वर्मा, हिन्दी जगत् के प्रमुख साहित्यकार थे उनका आज जयंतिदिवस है।
5.ओसबोर्न स्मिथ - भारतीय रिज़र्व बैंक के पहले गवर्नर थेउनका पुण्यतिथि दिवस
6.जी.पी. श्रीवास्तव - हिन्दी साहित्यकार थे।उनका पुण्यतिथि दिवस
7. कृष्ण कुमार बिड़ला, प्रख्यात उद्योगपति थे उनका पुण्यतिथि दिवस
8.बिपिन चन्द्र-प्रसिद्ध इतिहास
कार थे उनका पुण्यतिथि दिवस।
🌻💐🌹🌸🌲🌹💐💐   
आज की बात -आपके साथ" मे आज इतना ही।कल पुन:मुलाकात होगी तब तक के लिये इजाजत दिजीये।
      आज जन्म लिये  सभी  व्यक्तियों को आज के दिन की बधाई। आज जिनका परिणय दिवस हो उनको भी हार्दिक बधाई।  बाबा महाकाल से निवेदन है की बाबा आप सभी को स्वस्थ्य,व्यस्त मस्त रखे।
💐।जय चित्रांश।💐
💐जय महाकाल,बोले सो निहाल💐
💐।जय हिंद जय भारत💐
💐  निवेदक;-💐
  💐चित्रांश ;-विजय निगम।💐