'15 जून से लॉक डाउन' वाला मैसेज फर्जी


      15 जून से लॉक डाउन की खबर गलत है। प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरो की फैक्टचेक इकाई ने इस मैसेज को फर्जी बताया है, फैक्ट चेक ने ट्वीट कर कहा है कि सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही इस फोटो में जो दावा किया जा रहा है कि, गृह मंत्रालय द्वारा ट्रेन और हवाई यात्रा पर प्रतिबंध के साथ 15 जून से देश में फिर से पूर्ण लॉकडाउन लागू किया जा सकता है, वो पूरी तरह फर्जी है। पीआईबी ने लोगों को इस तरह के फर्जी मैसेज और दावों से सावधान रहने की सलाह दी।