मप्र समेत कई राज्यों में अलर्ट, भारी बारिश की चेतावनी


      नई दिल्ली। भीषण चक्रवाती तूफान अम्फान शनिवार की शाम तक उठ सकता है। बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र चक्रवात का रूप धारण कर सकता है। यदि यह सक्रिय हो गया तो खतरनाक साबित हो सकता है। बंगाल की खाड़ी में उठने वाले इस तूफान के असर को देखते हुए मौसम विभाग ने कई राज्यों को अलर्ट किया है। इसके चलते तेज आंधी और भारी बारिश की संभावना है। ऐसे में ओडिशा के चार तटीय जिलों को विशेष सतर्क रहने को कहा गया है, जबकि 12 अन्य जिलों के लिए भी अलर्ट जारी किए गए हैं। एहतियातन सभी सरकारी छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं। मौसम विभाग ने आशंका जताई है कि कम दबाव का क्षेत्र शनिवार शाम तक चक्रवात में तब्दील हो सकता है। इसके बाद यह उत्तर पश्चिम और रविवार शाम तक उत्तर-पूर्व की तरफ बढ़ेगा। हालांकि यह कहां पर लैंडफाल करेगा, अभी तक स्पष्ट नहीं हुआ है। गजपति से लेकर मयूरभंज तक 12 जिले के लिए सतर्क सूचना जारी की गई है। चार तटीय जिले बालेश्वर, भद्रक, जगतसिहपुर, केंद्रपाड़ा के जिलाधीश के साथ चर्चा कर किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए सतर्क रहने को कहा गया है।
देश में वेस्टर्न डिस्टर्बेंस एक्टिव 
भारतीय मौसम विभाग के अनुसार इस समय देश में वेस्टर्न डिस्टर्बेंस एक्टिव है। इसके चलते मध्यप्रदेश, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड के साथ ही पंजाब, हरियाणा, उत्तरी राजस्थान व पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी मौसम बिगड़ सकता है। इन राज्यों के लिए मौसम विभाग ने ऑरेन्ज अलर्ट जारी किया है। वर्ष साल 2020 का पहला चक्रवाती तूफान अंफान अगले 24 घंटों में आ सकता है। आशंका जताई जा रही है कि यह लैंडफॉल से पहले अति भीषण चक्रवात के रूप में बदल जाएगा। भारत के तमाम क्षेत्रों को अलर्ट कर दिया गया है। पूर्वी तटों पर तमिलनाडु और पुडुचेरी से लेकर आंध्र प्रदेश, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा, मिजोरम और मणिपुर जैसे तटीय क्षेत्रों को अलर्ट किया गया है।
घरों से बाहर ना निकलें लोग
      मौसम विभाग ने लोगों से सतर्क रहते हुए घरों से बाहर नहीं निकलने की चेतावनी दी है। अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह में तूफानी हवाओं के साथ पहले से ही भारी बारिश हो रही है। अगले 48 घंटों तक अंडमान पर इसका प्रभाव बना रहेगा। इस चक्रवाती तूफान के असर के चलते देश के आठ राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों में भारी बारिश और तेज हवाएं चल सकती हैं। मछुआरों को बंगाल की खाड़ी के दक्षिण और सेंट्रल इलाके के समुद्र में ना जाने की सलाह दी गई है। जो मछुआरे समुद्र के इन इलाकों में गए हैं, उन्हें भी लौट आने के निर्देश दिए गए हैं। इसके साथ ही आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में भी चक्रवाती तूफान एम्फन को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। राज्य के तटीय इलाकों में आगे 2-3 दिनों में भारी बारिश और तेज हवाएं चल सकती हैं।


Comments
Popular posts
काश! मैं भी बॉस होता के सपने को साकार करता है पीआर 24x7
Image
पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का चमकौर साहिब से न्यूज़18 इंडिया के मैनेजिंग एडिटर किशोर अजवानी के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत
Image
ज़ी बॉलीवुड पर होगा जश्न का धमाल क्योंकि 24 जनवरी को शानदार फिल्म ‘विश्वात्मा’ पूरे कर रही है 30 साल
Image
एसबीआई जनरल इंश्योरेंस ने सड़क सुरक्षा पर शुरू किया एक विशिष्ट और अनूठा जागरूकता अभियान
Image
इंतजार की घड़ियाँ खत्म; भूषण कुमार का 'वफा ना रास आई' हुआ रिलीज, जुबिन नौटियाल द्वारा गाए गए इस सॉन्ग में हिमांश कोहली और आरुषि निशंक ने किया है अभिनय
Image