अजीज जीनवाला ने कभी वीडियो जारी कर व्यवस्थाओं को कोसा था आज तारीफ करते हुए रूक नहीं रहे

      उज्जैन। आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल से आज 22 मरीजों को कोरोना पॉजीटिव से नेगेटिव होने पर छोड़ा गया। उनमें 26 वर्षी अजीज जीनवाला भी शामिल हैं। अजीज जीनवाला 23 अप्रैल को कोरोना के लक्षण आने पर आरडी गार्डी लाये गये। यहां पर रहते उनकी रिपोर्ट पॉजीटिव आ गई। उन्हें कोरोना वार्ड में भर्ती कर दिया गया। युवा अजीज घबरा गये और आरडी गार्डी हॉस्पिटल की अव्यवस्थाओं को कोसते हुए उन्होंने एक वीडियो जारी कर दिया।


      जिला प्रशासन द्वारा आरडी गार्डी के व्यवस्था अपने हाथ में लेने के बाद अजीज जीनवाला का आरडी गार्डी में बेहतर उपचार हुआ। समय पर पौष्टिक भोजन, दवाईयां एवं चिकित्साकर्मियों की सेवा के चलते उनकी सेहत में सुधार होने लगा। 14 दिन के उपचार के बाद उनकी पहली रिपोर्ट नेगेटिव आई और उसके चौबीस घंटे बाद उनकी जांच की गई तो दूसरी रिपोर्ट भी नेगेटिव आ गई। नेगेटिव रिपोर्ट आने के बाद आज उन्हें घर जाने के लिये छोड़ दिया गया। स्वस्थ होने के बाद अजीज मियां प्रफुल्लित हैं और आरडी गार्डी की प्रशंसा करते रूक नहीं रहे हैं। वे कहते हैं कि यह सब आरडी गार्डी के चिकित्सकों एवं स्टाफ की सेवा का प्रताप है कि वे आज स्वस्थ होकर घर जा रहे हैं। अजीज कहते हैं उनकी तरफ हॉस्पिटल के सभी लोगों द्वारा अच्छा ध्यान दिया गया, अच्छा भोजन दिया गया। इसी के कारण वे आज स्वस्थ होकर घर लौट रहे हैं। अजीज कहते हैं कि वे बीमारी से लड़े हैं तो इसका श्रेय आरडी गार्डी के स्टाफ एवं यहां की व्यवस्थाओं को जाता है। इसी के साथ उनका कहना है कि सर्दी-खांसी की बीमारी होने पर व्यक्ति को अपनी बीमारी को छिपाना नहीं चाहिये, जांच करवाना चाहिये। कोरोना के लक्षण होने पर आरडी गार्डी आना चाहिये, यहां की व्यवस्थाएं अब अच्छी हो गई हैं।


Comments