आर.डी. गार्डी मेडिकल कॉलेज की मान्यता रद्द करने की माँग


      उज्जैन। भारतीय जनता पार्टी अल्पसंख्यक मोर्चा ने आर.डी. गार्डी मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल की मान्यता रद्द करने की माँग की है। कुछ दिनों पूर्व भाजपा पार्षद हाजी मुजफ्फर हुसैन का निधन हो गया, जो कि आर.डी. गार्डी मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों व स्टाफ की लापरवाही के कारण हुआ है। समय रहते कोरोना संक्रमित मरीजों की उचित देखभाल होती तो शायद उज्जैन में मृत्यु दर अधिक नहीं होती। जो कि आर.डी. गार्डी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन, वेंटीलेटर, गंदगी, साफ-सफाई व मरीजों को दिया जा रहा खाना आदि कोई सुविधा ठीक से उपलब्ध नहीं होने के कारण कोरोना जैसी गंभीर बीमारी के मरीजों का इलाज नहीं हो पाया और भाजपा पार्षद सहित कई लोग अपनी जान से हाथ धो बैठे। भाजपा ने एक जांबाज सिपाही खो दिया, साथ ही कई गरीब परिवार के सिर से साया उठ गया। मोर्चा के मीडिया प्रभारी सलीम अहमद ने बताया कि मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष जनाब सनवर पटेल, अ. जब्बार शेख, नगर अध्यक्ष फैजान खान, हाजी इसहाक चिश्ती, डॉ. फिरोज मंसूरी, शेर अली मना बेन, फुरकान हसन, डॉ. निजाम हाशमी, मुर्तजा बड़वाह वसाला, अल्ताफ मेव, रफीक शेख, अनीस खान आदि ने सामूहिक तौर पर म.प्र. के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान से माँग की है कि वह आर.डी. गार्डी मेडिकल कॉलेज की मान्यता रद्द कर लापरवाही के कारण हो रही मौत को रोकें।