आज की बात आपके साथ - विजय निगम

09 मई 2020
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐प्रिय साथियो। 
🌹राम-राम🌹 ,
🌻 नमस्ते।🌻


आज की बात आपके साथ मे आप सभी साथीयों. का. दिनांक 09 मई 2020 शनिवार   की प्रातः की बेला में हार्दिक वंदन है अभिनन्दन है।
🌻💐🌹🌲🌱💮🌳🌺🥀🌼🌻
आज की बात आपके साथ  अंक मे है 
A कुछ रोचक समाचार
B आज के दिन जन्मे सामाजिक और राजनीतिक नेता गोपाल कृष्ण गोखले का                  जीवन परिचय  लेख. 
C आज के दिन   की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ
D आज के दिन जन्म लिए महत्त्वपूर्ण    
    व्यक्तित्व
E आज के निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व।
F आज का दिवस का नाम ।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻
      (A) कुछ रोचक समाचार(संक्षिप्त)
🌺(A/1)मोदी सरकार से सस्ता सोना खरीदने का एक और मौका, एक से 500 ग्राम तक के सॉवरेन गोल्ड बांड में करें निवेश💐
🌺(A/2)आइडिया यूनिक तो रतन टाटा ने 18 साल के लड़के की स्टार्टअप में किया बड़ा निवेश💐
🌺(A/3)यूलिया वंतूर से पूछा- कब कर रही हैं सलमान खान से शादी? कहा- पेपर्स नहीं इंसान के साथ जीवन बिताना है जरूरी.|💐
🌺(A/4)लॉकडाउन में SBI ने तीसरी बार दी राहत, लोन सस्ता, बुजुर्गों के लिए नई स्कीम💐
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐💐🌻
      (A) कुछ रोचक समाचार(विस्तृत)
🌺(A/1)मोदी सरकार से सस्ता सोना खरीदने का एक और मौका, एक से 500 ग्राम तक के सॉवरेन गोल्ड बांड में करें निवेश💐
कोरोना संकट और लॉकडाउन के कारण शेयर बाजार की स्थिति काफी उतार-चढ़ाव भरी है। ऐसे में लोगों का रुझान सोने में निवेश की तरफ बढ़ा है। मार्च-अप्रैल में सोने की कीमतों में नए कीर्तिमान स्थापित किए। इसके बावजू मोदी सरकार एक बार फिर आपको सस्ता सोना बेचने जा रही है। जो लोग 20 से 24 अप्रैल के बीच सॉवरेन गोल्ड बांड में निवेश नहीं कर पाएं है वो दूसरी सीरीज के तहत 11 मई से लेकर 15 मई के बीच सॉवरेन गोल्ड बांड का सब्सक्रिप्शन ले सकते हैं। इसकी किस्त 19 मई को जारी की जाएगी।
💐एक ग्राम से लेकर अधिकतम 500 ग्राम तक खरीदें सोना💐
बता दें सरकार ने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए पहले सॉवरेन गोल्ड बांड 28 अप्रैल को जारी कर दिया। अब इसकी दूसरी किस्त 11 मई को आ रही है। इसमें निवेश करने वाला व्यक्ति एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 500 ग्राम सोने के बॉन्ड खरीद सकता है। वहीं न्यूनतम निवेश एक ग्राम का होना जरूरी है। इस स्कीम में निवेश करने पर आप टैक्स बचा सकते हैं। स्कीम के तहत निवेश पर 2.5 % सालाना ब्याज मिलेगा। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की पहली किस्त को 2020-21 सीरीज नाम दिया गया है।
      💐ऐसे तय होगी कीमत💐
इश्यू प्राइस पर RBI ने कहा कि यह भारतीय बुलियन और ज्वैलर्स एसोसिएशन लिमिटेड द्वारा प्रकाशित 999 शुद्धता के सोने के क्लोजिंग प्राइस के साधारण औसत के आधार पर तय किया जाएगा। वहीं ऑनलाइन खरीदने पर इस पर 50 रुपये प्रति ग्राम या 500 रुपये प्रति 10 ग्राम की छूट मिलेगी। SGB को बैंकों (स्मॉल फाइनेंस बैंकों और पेमेंट बैंकों को छोड़कर), स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (SHCIL), नामित डाकघरों और मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंजों (NSE और BSE) के माध्यम से बेचा जाएगा। 
💐पहली सीरीज में 822 करोड़ का निवेश💐
पहली सीरीज में 20 अप्रैल से लेकर 24 अप्रैल के बीच इसका सब्सक्रिप्शन हो चुका है। पहली किस्त 28 अप्रैल को जारी की गई। गोल्ड बांड की अप्रैल सीरीज को लेकर निवेशकों में जबरदस्त क्रेज दिखा है। आरबीआई द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक अप्रैल सीरीज को 17.73 लाख यूनिट के लिए करीब 822 करोड़ का सब्सक्रिप्शन मिला। यह अक्टूबर 2016 के बाद सबसे ज्यादा सब्सक्रिप्शन है। अप्रैल सीरीज में गोल्ड बांड का भाव 4,639 प्रति ग्राम तय किया गया था।
    💐कब-कब जारी होंगे बॉन्ड💐
दूसरी सीरीज: 11 मई से लेकर 15 मई के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 19 मई को जारी की जाएगी।
तीसरी सीरीज: 8 जून से लेकर 12 के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 16 जून को जारी की जाएगी।
चौथी सीरीज: 6 जुलाई से लेकर 10 जुलाई के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 14 जुलाई को जारी की जाएगी।
पांचवीं सीरीज: 3 अगस्त से लेकर 7 अगस्त के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 11 अगस्त को जारी की जाएगी।
छठी सीरीज: 31 अगस्त से लेकर 4 सितंबर के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 8 सितंबर को जारी की जाएगी।
              💐ये है नियम💐 
सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम में निवेश करने वाला व्यक्ति एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 500 ग्राम सोने के बॉन्ड खरीद सकता है। वहीं न्यूनतम निवेश एक ग्राम का होना जरूरी है। इस स्कीम में निवेश करने पर आप टैक्स बचा सकते हैं। बॉन्ड को ट्रस्टी व्यक्तियों, HUF, ट्रस्ट, विश्वविद्यालयों और धर्मार्थ संस्थानों को बिक्री के लिए प्रतिबंधित किया जाएगा. वहीं ग्राहकी की अधिकतम सीमा 4 किलोग्राम प्रति व्यक्ति, एचयूएफ के लिए 4 किलोग्राम और ट्रस्टों के लिए 20 किलोग्राम और प्रति वित्तीय वर्ष (अप्रैल-मार्च) समान होगी।
     💐बॉन्ड लाने के पीछे कारण 💐
सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम का मकसद सोने की फिजिकल डिमांड को कम करना है। इसके तहत सोना खरीदकर घर में नहीं रखा जाता है बल्कि बॉन्ड में निवेश के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने सोमवार को कहा कि सरकार सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड्स (एसजीबी) को छह चरणों में जारी करेगी।
 🌻💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐💐🌻
🌺(A/2)आइडिया यूनिक तो रतन टाटा ने 18 साल के लड़के की स्टार्टअप में किया बड़ा निवेश💐
मशहूर उद्योगपति रतन टाटा ने आज अर्जुन देशपांडे की स्टार्टअप 'जेनरिक आधार' में निवेश किया है। अर्जुन केवल 18 साल के हैंऔर यह कंपन. फार्मेसी
-एग्रीगेटर बिजनस मॉडल को फॉलो करती है।
              💐  हाइलाइट्स:💐
💐जेनरिक आधार स्टार्टअप में टाटा ने किया निवेश💐
💐कितना निवेश किया, इसको लेकर फिलहाल खुलासा नहीं💐
💐वर्तमान में इस कंपनी का रेवेन्यू करीब 6 करोड़ रुपये हैं💐
💐इसके फाउंडर अर्जुन देशपांडे केवल 18 साल के हैं💐
मशहूर उद्योगपति रतन टाटा ने गुरुवार को एक ऐसी कंपनी में निवेश किया जो केवल दो साल पुरानी है इसके फाउंडर केवल18साल के हैं।टाटानेअर्जुनदेशपांडे 
के स्टार्टअप 'जेनरिक आधार' में निवेश किया है। कई रिपोर्ट में कहा गया है कि उन्होंने इसमें 50 % हिस्सा खरीदा है। यह डील कितने मेंहुई है,उसको लेकरभीफिल
हाल किसी तरह की जानकारी नहीं है।
दवा का खुदरा कारोबार जेनरिक आधार' मुख्य रूप से दवा का खुदरा कारोबार करती है। वह मैन्युफैक्चरर्स से दवा लाती है और रिटेलर्स को बेचती है। वर्तमान में इस कंपनी का रेवेन्यू करीब 6 करोड़ रुपये हैं और अगले तीन सालों में इसे 150-200 करोड़ रुपये तक पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है।
💐16 साल में शुरू की थी स्टार्टअप💐
अर्जुनदेशपांडे जब केवल 16 साल के थे, तब उन्होंने इस कंपनी की शुरुआत की थी।उनका स्टार्टअप बिल्कुल नएफार्मेसी-
एग्रीगेटर बिजनस मॉडल को फॉलो करता है।इसकंपनी ने मैन्युफैक्चरर्सको डायरेक्ट सोर्स बनाया है और रिटेल फार्मेसी तक जेनेरिक दवाओं को बेचती है। ऐसे में रिटेलर्स की कमाई 20 % तक बढ़ गई है।
        💐सस्ती दवा का मिशन💐
अर्जुन देशपांडे की तरफ से बयान जारी करकहा गया कि हम एक मिशन पर काम कररहे हैं।हमारा मिशन हैकि बुजुर्गों,पेंशन
भोगियों को जरूरत की दवाई कम सेकम
कीमत में उपलब्ध हो सके। एक सर्वे के मुताबिकदेश की60 %आबादी तकजरूरी
 दवाई की पहुंच इसलिए नहीं है, क्योंकि वह बहुत महंगी है।मैं इसके जरिए कीमत 
को घटाना चाहता हूं।
💐रिटेलर्स के साथ बड़े पैमाने पर साझेदारी का प्लान💐|
जेनरिक आधार ने फिलहाल मुंबई, पुणे, बेंगलुरू और ओडिशा के 30 रिटेलर्स के साथ टाई-अप किया है।वहWHO-GMP 
फसिलिटी से दवा खरीदती है सस्ती दरों परइन्हें बेचती है।कंपनी की तरफ सेकहा 
गया कि आने वाले दिनों में वह गुजरात, तमिलनाडु,आंध्र प्रदेश, नई दिल्ली,गोवा और राजस्थान जैसे राज्यों में 1000 फार्मेसी के साथ पार्टनरशिप करेगी और सस्ती दवा बेचेगी
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌲🌹💐💐🌻
🌺(A/3)यूलिया वंतूर से पूछा- कब कर रही हैं सलमान खान से शादी? कहा- पेपर्स नहीं इंसान के साथ जीवन बिताना है जरूरी.|
एक्टर सलमान खान के फैन्स उनके शादी करने का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। लेकिन, सलमान खान हैं कि मीडिया द्वारा पूछे गए इस सवाल को हमेशा टाल देते हैं। सलमान खान रोमानियन ब्यूटी यूलिया वंतूर को डेट कर रहे हैं। फैन्स को लगा था कि दोनों जल्दी ही शादी के बंधन में बंध जाएंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। 
 वह सलमान खान से कब शादी कर रही हैं। इस पर यूलिया ने हंसते हुए कहा कि हे भगवान! यह सवाल बार-बार मेरे से पूछा जाता है। मुझे लगता है कि यह सवाल पूछना बेकार है। दो लोग एक-दूसरे के लिए कैसा महसूस करते हैं, यह ज्यादा मायने रखता है। साथ में समय बिताना ज्यादा जरूरी है, किसी भी और चीज के आगे। एक बार तो ऐसा हो गया था कि मैं जहां भी जाती थी, हर इंटरव्यू में मेरे से यही सवाल पूछा जाता था। यहां तक कि मेरे माता-पिता तक मेरे से यह सवाल पूछने लगे थे- तुम शादी कब कर रही हो?मैं कहती थी कि मां आप मुझे खुश देखना चाहती हो या फिर शादी करते? मैं कल किसी से भी शादी कर सकती हूं, यह आप जानती हैं। वह आखिरी बार था जब मां ने मेरे से यह सवाल किया। मुझे लगता है कि इंसान के साथ खुश रहना ज्यादा जरूरी है, क्वॉलिटी टाइम बिताएं और एक कनेक्शन महसूस करें। इंसान के साथ जीवन बिताना महत्वपूर्ण है, पेपर्स पर शादी का ठप्पा लगाना नहीं। 
फिल्म 'बेखुदी' से निकाल दिए गए थे सैफ अली खान, एक्टर ने कहा- मेरे लिए झूठे आंसू निकालना इतना आसान नहीं थाबचपन से ही डांस की दीवानी रही हैं| 
आपको बता दें कि यूलिया वंतूर इस समय सलमान खान के साथ उनके फार्महाउस पर समय बिता रही हैं। 
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐
🌺(A/4)लॉकडाउन में SBI ने तीसरी बार दी राहत, लोन सस्ता, बुजुर्गों के लिए नई स्कीम💐
लॉकडाउन के दौरान तीसरी बार है जब देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने मार्जिन कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट (MCLR) पर कैंची चलाई है.
💐SBI ने MCLR में 0.15 फीसदी की कटौती की है💐
💐एक साल के लिए सालाना MCLR 7.25 फीसदी💐
अगर आप लॉकडाउन में टर्म लोन लेने की सोच रहे हैं तो आपके लिए देश के सबसे बड़े बैंक की ओर से एक तोहफा है. दरअसल, एसबीआई ने मार्जिन कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट (MCLR) में कटौती की है. इसका मतलब ये हुआ कि अगर आपने एसबीआई से MCLR आधारित लोन ले रखा है तो आने वाले दिनों में आपकी ईएमआई कम हो जाएगी. बता दें कि अभी बैंक के 44 करोड़ से ज्यादा ग्राहक हैं|.
लॉकडाउन के दौरान तीसरी बार है जब एसबीआई ने लोन या ईएमआई पर ग्राहकों को राहत दी है. इससे पहले मार्च के आखिरी और अप्रैल के पहले हफ्ते में भी एसबीआई ने राहत का ऐलान किया था. 25 मार्च से देशभर में लॉकडाउन लागू है, जो 17 मई तक चलेगा.
  💐इस बार कितनी हुई कटौती💐 ?
SBI ने गुरुवार को विभिन्न अवधि के लिए MCLR में 0.15 फीसदी की कटौती की है. एक साल अवधि के लिए MCLR सालाना 7.40 फीसदी से घटकर 7.25 फीसदी हो गया है. एक साल की अवधि की एमसीएलआर दर ही व्यक्तिगत, कार और होम लोन जैसे कर्ज के लिए प्रमुख आधार होती हैं|.
आपको बता दें कि एमसीएलआर के तहत कॉमर्शियल बैंक लोन की ब्याज दर तय करते हैं. ये दर आरबीआई के रेपो रेट से प्रभावित है. अगर आरबीआई रेपो रेट कम करता है तो बैंकों पर एमसीएलआर कम करने का दबाव बढ़ता है.
💐25 लाख के लोन पर EMI 255 रुपये सस्ती💐
बहरहाल, नई दरें 10 मई से लागू होगी. बैंक ने बताया कि 30 साल के लिए 25 लाख के लोन पर ईएमआई लगभग 255 रुपये सस्ती हो गई है. आपको बता दें कि यह बैंक द्वारा MCLR में लगातार 12वीं और वित्त वर्ष 2020-21 की दूसरी कटौती है. इससे पहले 10 अप्रैल को 35 बेसिस प्वाइंट्स यानी 0.35 फीसदी की कटौती कर दी गई थी.
     💐बुजुर्गों के लिए नई स्कीम💐
इसके अलावा बैंक ने बुजुर्गों के लिए 'एसबीआई वीकेयर डिपॉजिट' स्कीम की शुरुआत की है. इसके तहत बुजुर्गों को 5 साल या उससे ज्यादा की अवधि पर जमा करने पर 30 बेसिस पॉइंट्स का एक्स्ट्रा प्रीमियम ब्याज मिलेगा. बैंक की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक यह स्कीम 30 सितंबर 2020 तक जारी रहेगी


 


 



🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻
 
 🌺 (B)आज के दिन जन्मे  सामाजिक और राजनीतिक नेता गोपाल कृष्ण गोखले                  
 का जीवन परिचय  लेख🌺. 
        🌺 गोपाल कृष्ण गोखले🌺
गोपाल कृष्ण गोखले(9मई 1866 -फरवरी 19, 1915)भारत के एकस्वतंत्रता सेनानी, समाजसेवी, विचारक एवं सुधारक थे।महादेव गोविंद रानाडे के शिष्य गोपाल कृष्ण गोखले को वित्तीय मामलों की अद्वितीय समझ और उस पर अधिकार
पूर्वक बहस करने की क्षमता से उन्हें भारत का 'ग्लेडस्टोन' कहा जाता है। वे भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस में सबसे प्रसिद्ध नरमपंथी थे।चरित्र निर्माण की आवश्यकता सेपूर्णत: सहमत होकर उन्होंने 1905 में सर्वेन्ट्स ऑफ इंडिया सोसायटी की स्थापना की ताकि नौजवानों को सार्वजनिक जीवन के लिए प्रशिक्षित किया जा सके।उनका मानना था कि वैज्ञानिक और तकनीकी शिक्षा भारत की महत्वपूर्ण आवश्यकता है। स्व-सरकार व्यक्ति कीऔसत चारित्रिक
दृढ़ता और व्यक्तियों की क्षमता पर निर्भर करती है। महात्मा गांधी उन्हें अपना राज
नीतिक गुरु मानते थे।
                    परिचय
गोपालकृष्ण गोखले का जन्म रत्‍‌नागिरी 
कोटलुक ग्राम में एक सामान्य परिवार में कृष्णराव के घर 9 मई 1866 को हुआ। पिता के असामयिक निधन ने गोपालकृष्ण को बचपन से ही सहिष्णु और कर्मठ बना दिया था। देश की पराधीनता गोपालकृष्ण को कचोटती रहती। राष्ट्रभक्ति की अजस्त्र धारा का प्रवाह उनके अंतर्मन में सदैव बहता रहता। इसी कारण वे सच्ची लगन, निष्ठा और कर्तव्यपरायणता की त्रिधारा के वशीभूत होकर कार्य करते और देश की पराधीनता से मुक्ति के प्रयत्न में लगे रहते। न्यू इंग्लिश स्कूल पुणे में अध्यापन करते हुएगोखले जी बालगंगाधरतिलक के संपर्कमें आए।1886 में वह फर्ग्यूसन कालेज  में अंग्रेज़ी केप्राध्यापक केरूप में डेक्कन एजुकेशन सोसाइटी में सम्मिलित हुए।वह श्री M.G.रानाडे के प्रभाव मेंआए सार्वजनिकसभा पूना के सचिव बने। 1890 में कांग्रेस में उपस्थित हुए। 1896 में वेल्बी कमीशन के समज्ञा गवाही देने के लिए वह इंग्लैण्ड गए।वह1899 में बम्बई विधानसभाकेलिएऔर1902मेंइम्पीरियल
विधानपरिषद के निर्वाचित किए गए। वह अफ्रीका गए और वहां गांधी जी से मिले।उन्होंनेदक्षिण अफ्रीकाकीभारतीय समस्या में विशेष दिलचस्पी ली।अपने चरित्रकी सरलता,बौद्धिकक्षमताऔर देश केप्रति दीर्घकालीन स्वार्थहीन सेवा के लिए उन्हें सदा सदा स्मरण किया जाएगा।वह भारत लोक सेवा समाज के संस्थापकऔर
अध्यक्ष थे।उदारवादी विचारधारा के वह अग्रणी प्रवक्ता थे।1915 में उनका स्वर्ग
वास होगयाअफ्रीका से लौटने परमहात्मा गांधी भी सक्रिय राजनीति में आ गए और गोपालकृष्ण गोखले के निर्देशन में सर्वेट्स
ऑफ इंडिया सोसायटी' की स्थापनाकी,
जिसमें सम्मिलित होकर लोग देश-सेवा कर सकें,पर इस सोसाइटी की सदस्यता के लिए गोखले जी एक-एक सदस्य की 
कड़ी परीक्षा लेकर सदस्यता प्रदान करते थे। इसी सदस्यता से संबंधित एकघटनाहै
मुंबई म्युनिस्पैलिटी में एक इंजीनियर थे
अमृत लाल वी.ठक्कर।वे चाहते थे कि गोखले जी की सोसाइटी में सम्मिलित
होकर राष्ट्र-सेवा सेउऋण होसकें। उन्होंने स्वयं गोखले जी से न मिलकर देव जी से प्रार्थना-पत्र सोसाइटी में सम्मिलित होने के लिए लिखवाया।अमृत लाल जी चाहते थे कि गोखले जी सोसाइटी में सम्मिलित करनेकी स्वीकृति देंतो मुंबई म्युन्सिपोलटी से इस्तीफा दे दिया जाए, पर गोखले जी ने दो घोड़ों पर सवार होना स्वीकार न कर स्पष्ट कहा कि यदि सोसाइटी कीसदस्यता
चाहिए तो पहले मुंबई म्युनिस्पैलिटी से इस्तीफा दें। गोखले की स्पष्ट और दृढ़ भावना के आगे इंजीनियर अमृतलाल वी.ठक्कर को त्याग-पत्र देनेके उपरांत हीसोसाइटीकीसदस्यताप्रदान की गई।यहीइंजीनियरमहोदयगोखलेजी की दृढ़
नीति-निर्धारण केकारण राष्ट्रीय भावनाओं से ओत-प्रोत सेवा-क्षेत्र में भारत विश्रुत 'ठक्कर बापा' के नाम से जाने जातेहैं।गोखले जी 1905 में आजादी के पक्ष में अंग्रेजों के समक्षलाला लाजपतराय
 केसाथइंग्लैंड गए और अत्यंत प्रभावी ढंग से देश कीस्वतंत्रता की वहां बात रखी।19 फ़रवरी 1915 को गोपालकृष्ण गोखले इस संसार से सदा-सदा के लिए विदा हो गए
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐
    🌺(C)आज के दिन   की महत्त्वपूर्ण 
        घटनाएँ🌺
2000 - जाफना प्राय:द्वीप के एलीफेंट दर्रे पर कब्ज़े के लिए लिट्टे के साथ हुए संघर्ष में श्रीलंका के 358 सैनिक मारे गये। 2002 - कराची विस्फोट में पाकिस्तान के ही संगठन का हाथ होने के संकेत।
 2004 - चेचेन्या में एक विस्फोट में वहाँ के राष्ट्रपति अखमद कादरोव का निधन। 2005 - मास्को में रूस द्वारा द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान जर्मनी सेना पर विजय की 60वीं वर्षगांठ के जलसों में भारत के प्रधानमंत्री डाक्टर मनमोहन सिंह ने भाग लिया। 
2008 - अमेरिका ने पाकिस्तान को 8.1 करोड़ डॉलर की सैन्य सहायता देने से इन्कार किया।
 2010 - भारत की वंदना शिवा को विकासशील देशों में महिला सशक्तिकरण और पर्यावरण संरक्षण के क्षेत्र में सहयोग देने के लिए वर्ष 2010 के सिडनी शांति पुरस्कार के लिए चुना गया। उन्हें चार नवंबर को सिडनी ओपेरा हाउस में यह पुरस्कार प्रदान किया गया।
 🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐
(D)आज के दिन जन्म लियेमहत्वपुर्ण 
        व्यक्तित्व🌺 
1540 - महाराणा प्रताप, उदयपुर, मेवाड़ में शिशोदिया राजवंश के राजा
1661 - जहाँदारशाह - बहादुरशाह प्रथम के चार पुत्रों में से एक था।
1836 - फ़र्डिनांड मोनोयेर - प्रसिद्ध फ़्राँसीसी नेत्र रोग विशेषज्ञ थे। 
1866 - गोपाल कृष्ण गोखले, स्वतंत्रता सेनानी, समाजसेवी, विचारक एवं सुधारक थे। 
1935 - स्नेहमयी चौधरी - प्रसिद्ध हिन्दी कवयित्री 
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐
 🌺(E)आज के दिन निधन हुवे महत्वपुर्ण व्यक्तित्व🌺 
2014 - एन. जनार्दन रेड्डी - भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के राजनीतिज्ञ थे, जो आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। 
1959 - भवानी दयाल संन्यासी - राष्ट्रवादी, हिंदी सेवी और आर्यसमाजी थे। 
1986 - तेनज़िंग नोर्गे - माउंट एवरेस्ट, हिमालय पर पहुँचने वाले सर्वप्रथम व्यक्ति 
1995 - कन्हैयालाल मिश्र प्रभाकर - हिन्दी के जाने-माने निबंधकार। 
1998 - तलत महमूद - प्रसिद्ध भारतीय गजल गायक और अभिनेता
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐
🌺(F)आज के दिन/उत्सव का नाम🌺



1.महाराणाप्रताप, उदयपुर,मेवाड़ में शिशो
दियाराजवंश केराजा काआजजयंतीदिवस
2.फ़र्डिनांड मोनोयेर -प्रसिद्ध फ़्राँसीसी नेत्र रोग विशेषज्ञ थे का जयंती दिवस 
3.गोपाल कृष्ण गोखले, स्वतंत्रता सेनानी, समाजसेवी, विचारक एवं सुधारक थे का
जयंती दिवस है
4 स्नेहमयी चौधरी -प्रसिद्ध हिन्दी कवियत्रि का आज जयन्ती दिवस है।
5 भवानी दयाल संन्यासी - राष्ट्रवादी, हिंदी सेवीऔरआर्यसमाजीथे काआज पुण्यतिथि दिवस 
6. तेनज़िंग नोर्गे - माउंट एवरेस्ट, हिमालय पर पहुँचने वाले सर्वप्रथम व्यक्ति काआज पुण्यतिथि दिवस है।
7. कन्हैयालाल मिश्र प्रभाकर - हिन्दी के जाने-माने निबंधकार का आज पुण्यतिथि दिवस है
8.तलत महमूद -प्रसिद्ध भारतीयगजल गायक और अभिनेता काआज पुण्यतिथि दिवस है।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐
       आज की बात -आपके साथ" मे आज इतना ही।कल पुन:मुलाकात होगी तब तक के लिये इजाजत दिजीये।
      आज जन्म लिये  सभी  व्यक्तियोंको आज के दिन की बधाई। आज जिनका परिणय दिवस हो उनको भी हार्दिक बधाई।  बाबा महाकाल से निवेदन है की बाबा आप सभी को स्वस्थ्य,व्यस्त मस्त रखे।
💐।जय चित्रांश।💐
💐जय महाकाल,बोले सो निहाल💐
💐।जय हिंद जय भारत💐
💐  निवेदक;-💐
  💐 चित्रांश ;-विजय निगम


Comments
Popular posts
अवंतिकानाथ राजाधिराज भगवान महाकाल राजसी ठाट-बाट के साथ नगर भ्रमण पर निकले; भगवान महाकाल ने भक्तों को चारों रूप में दिये दर्शन
Image
मोक्षदायिनी माँ क्षिप्रा....जानें, कैसे प्रसिद्ध हुआ मोक्षदायिनी नदी का नाम क्षिप्रा ?
Image
वार्षिक विवरणी ऑनलाइन दाखिल करने के लिए पंजीकरण अनिवार्य
Image
कुक्कू ओटीटी ऐप ने अपने एस्टीम्ड सब्सक्राइबर्स के लिए नए साल में एंटरटेनिंग वेब सीरीज की कतार लगाई
Image
श्री महाकालेश्वर मंदिर में संध्या आरती पश्चात होलिका का दहन हुआ संपन्‍न
Image