आईएएस और आईपीएस, पति-पत्नि दो माह से नहीं मिले बच्चों से

      धार। धार जिले के कलेक्टर श्रीकांत बनोट एवं उनकी पत्नी श्रीमती कृष्ण वेणी देसावतु देवास जिले की पुलिस अधीक्षक के पद पर कार्यरत हैं। दोनों ही कोरोना के कहर से लोगों को बचाने की लिए अपनी जान जोखिम में डालकर दिन-रात की ड्यूटी कर रहे हैं। यहां तक कि इस दौरान वह पिछले दो महीनों से अपने घर तक नहीं गए हैं। ड्यूटी से थोड़ा समय निकालकर अपने बच्चों से मिलने घर पहुंचे थे। खिड़की की दूसरी ओर खड़े उनके दोनों बच्चे खड़े हुए थे। औऱ वह खिड़की के बाहर से दूर बैठकर मॉस्क लगाकर दूर से ही बच्चों से बात कर रहे हैं और उन्होंने बच्चों को प्यार से हाथ भी नहीं लगाया। जब भी घर जाते हैं बच्चों से ऐसे ही मिलते हैं।


पति-पत्नी दोनों निभा रहे हैं कोरोना वॉरियर्स की भूमिका


      बता दें कि श्रीकांत बनोट की पत्नी कृष्णावेणी देसावतु देवास जिले की एसपी हैं। वह भी अक्सर घर से बाहर ही रहती हैं। जब घर आती हैं तो इसी तरह दूर से ही बच्चों से मिलती हैं। ऐसे में दोनों बच्चों को कोरोना वायरस ने केवल पिता ही नहीं, मां के प्यार से भी दूर कर दिया है।



दूर से ही अपने बच्चों से करते हैं मुलाकात


      श्री बनोट का कहना है कि उनका अधिकतर समय घर के बाहर गुजरता है। कई जगहों पर जाते हैं, कई तरह के लोगों से मिलते हैं, ऐसे में कोरोना के संक्रमण का खतरा ज्यादा होता है। इससे कहीं बच्चे प्रभावित न हों, इसलिए श्रीकांत दूर से ही उनसे मिलकर लौट आते हैं। इस छोटी मुलाकात के दौरान उनके चेहरे पर मास्क होता है और सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा पालन भी करते हैं।


Comments
Popular posts
काश! मैं भी बॉस होता के सपने को साकार करता है पीआर 24x7
Image
पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का चमकौर साहिब से न्यूज़18 इंडिया के मैनेजिंग एडिटर किशोर अजवानी के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत
Image
ज़ी बॉलीवुड पर होगा जश्न का धमाल क्योंकि 24 जनवरी को शानदार फिल्म ‘विश्वात्मा’ पूरे कर रही है 30 साल
Image
एसबीआई जनरल इंश्योरेंस ने सड़क सुरक्षा पर शुरू किया एक विशिष्ट और अनूठा जागरूकता अभियान
Image
इंतजार की घड़ियाँ खत्म; भूषण कुमार का 'वफा ना रास आई' हुआ रिलीज, जुबिन नौटियाल द्वारा गाए गए इस सॉन्ग में हिमांश कोहली और आरुषि निशंक ने किया है अभिनय
Image