आज की बात आपके साथ - विजय निगम


     प्रिय साथियो,
🌹राम-राम🌹 
🌻 नमस्ते।🌻


      आज की बात आपके साथ मे आप सभी साथीयों का दिनांक  13 अप्रैल 2020  सोमवार की प्रातः की बेला में हार्दिक वंदन है अभिनन्दन है।
🌻💐🌹🌲🌱🌸@💐💐💮🌳🌺🥀🌼🌻
आज की बात आपके साथ  अंक मे है 


 A कुछ रोचक समाचार
B आज के दिन जन्मी पुर्व उपराष्ट्रपति
    नजमा हेपतुल्ला भारतीय राजनीतिज्ञ
    का जीवन परिचय  लेख. 
C आज के दिन   की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ
D आज के दिन जन्म लिए महत्त्वपूर्ण    
    व्यक्तित्व
E आज के निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व।
F आज का दिवस का नाम ।  


             (A) कुछ रोचक समाचार(संक्षिप्त)
💐(A/1)  सोनाक्षी के 'रामायण' विवाद में 'कृष्ण' के बाद 'दुर्योधन' की एंट्री, 'भीष्म पितामह' की लगाई क्लास💐
💐(A/2)Alert: इन दो राज्‍यों में भारी बारिश की संभावना, 8 अन्‍य राज्‍यों में भी बदलेगा मौसम।💐
💐(A/3) DTH  ग्राहकों को लिएअब अनिवार्य होंगे   नए प्रकार के मल्टी केबल लाइन सेटअप बॉक्स💐
💐(A/4)अब आयुर्वेद से कोरोना को हराने की तैयारी
 PM मोदी ने बनाई टास्क फोर्स।💐
🌻💐🌸🥀@🌱💐💐💐🌾🌴🍁🌴🥀🌻
              (A) कुछ रोचक समाचार(विस्तृत)
💐(A/1)  सोनाक्षी के 'रामायण' विवाद में 'कृष्ण' के बाद 'दुर्योधन' की एंट्री, 'भीष्म पितामह' की लगाई क्लास💐
मुकेश खन्ना (Mukesh Khanna) ने सोनाक्षी सिन्हा पर तंज सकते हुए कहा था कि, 'यह सोनाक्षी जैसे लोगों को मदद करेगा, जिन्हें अपनी संस्कृति और इतिहास के बारे में कोई जानकारी नहीं है.'
मुंबई. लॉकडाउन  के चलते दूरदर्शन पर रामायण  और महाभारत  की वापसी हो गई है. जिसके चलते यह घर पर बोरहो रहे लोगों के लिए मनोरंजन का सबसे अच्छा साधन बन गया है. लेकिन, इस बीच सोनाक्षी सिन्हा  का 'रामायण' विवाद  है कि थमने का नाम ही नहीं ले रहा।. सोनाक्षी के 'रामायण' विवाद में एक-एक कर 'महाभारत' के कई स्टार्स कूद पड़े हैं. दरअसल, कुछ दिनों पहले 'महाभारत' में भीष्म पितामह का किरदार निभा रहे मुकेश खन्ना ने सोनाक्षी सिन्हा पर इस बात को लेकर तंज कसा था कि वह 'कौन बनेगा करोड़पति' में इस सवाल का जवाब नहीं दे पाई थीं कि रामायण में हनुमान किसके लिए संजीवनी बूटी लेने गए थे.।
महाभारत और रामायण के री-टेलीकास्ट किए जाने पर मुकेश खन्ना ने सोनाक्षी सिन्हा पर तंज सकते हुए कहा था कि, 'यह सोनाक्षी जैसे लोगों को मदद करेगा, जिन्हें अपनी संस्कृति और इतिहास के बारे में कोई जानकारी नहीं है.' उनके इस बयान पर विवाद खड़ा हो गया और एक-एक कर कई एक्टर सोनाक्षी के सपोर्ट में उतरने लगे. मुकेश खन्ना के इस बयान पर हाल ही में महाभारत के कृष्ण मतलब नीतीश भारद्वाज  (Nitish Bharadwaj) ने आपत्ति जताई थी और अब 'दुर्योधन' मतलब पुनीत इस्सर ने उनके इस बयान का विरोध किया है।.
सोनाक्षी के बचाव में उतरे पुनीत इस्सर ने स्पॉटबॉय से बात करते हुएकहा कि मुकेश खन्ना को सोनाक्षी के बारे में ऐसानहीं कहना चाहिए था।सोनाक्षीआर्य विद्या मंदिर 
की स्टूडेंटरहीहैं।मेरे बच्चेभीवहीं पढ़ते थेअगर वहकिसी
सवाल का जवाब नहीं देपाईं तो इसका मतलब यहनहीं
है कि दुनिया खत्म हो गई. ऐसा किसी के साथ भी हो सकता है।इसतरह खुलेआम किसी कीआलोचनाकरना
ठीक नहीं है.।
पुनीत ने आगे कहा कि, 'मैं किसी के खिलाफ कुछ नहीं बोलना चाहता, लेकिन इस तरह खुलेआम किसी की आलोचना करके वह खुद विवाद खड़ा कर रहे हैं. महाभारत या रामायण पर किसी का कॉपीराइट नहीं है. कोई भी इसे बना सकता है और पढ़ सकता है. साजिद नाडियावाला के दादाजी ने भी 'महाभारत' पर फिल्म बनाई थी और वह सुपरहिट रही थी.।इस उम्र में हमें विनम्र होना चाहिए. जब पेड़ में फल लगते हैं तो पेड़ को झुक जाना चाहिए  । 
🌻💐^🌸^🥀🌲@💐🌱🌾🌴🍁🌴🥀🌻
💐(A/2)Alert: इन दो राज्‍यों में भारी बारिश की संभावना, 8 अन्‍य राज्‍यों में भी बदलेगा मौसम।💐
 अप्रैल का महीना लग गया है फिर भी इस साल मौसम में ज्यादाउतार-चढ़ाव देखनेकोनहीं मिल रहा है।इसबार तापमान पिछले साल से कम है तथाबीच-बीच मेंबारिश 
कीखबरेंसामने आने की वजह सेतापमान नमीबरकरार 
है।देशमें इनदिनोंअनिश्चित मौसम चलरहा है।एक तरफ
 जहां गर्मी बढ़ रही है,वहीं दूसरी तरफ कुछ राज्‍य ऐसे भीजोबेमौसमबारिश की मार झेल रहे हैं।कोरोना संकट
 के इस समय में अभी मौसम का अनुकूल होना बहुत आवश्‍यक है। मौसम का ताजा अनुमान कहता है कि 10अप्रैल, शुक्रवार को देश के कई राज्‍यों में बारिश हो सकती है। दो राज्‍यों में भारी बारिश और 8 अन्‍य राज्‍यों में मध्‍यम बारिश की संभावना है। वही उड़ीसा के समुद्र तटीय इलाकों में हल्की बारिश के साथ आंधी तूफान आने की भी चेतावनी मौसम विभाग द्वारा जारी की गई है क्योंकि हवा का दबाव समुद्र क्षेत्र पर कम होने के कारण तूफान आ सकता है।अनुमान है कि अगले 24 घंटों के दौरान उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश और ओडिशा में मौसम बिगड़ सकता है। यहां के तटीय भागों में कुछ स्थानों पर मध्यम से भारी बारिश हो सकती है। वहीं छत्तीसगढ़ के कुछ इलाकों में छिटपुट बारिश हो सकती हैतथाबादल काआनाजाना जारी रहेगा भारतीय मौसम 
विभाग नेअगले 24 घंटों के दौरान केरल आंतरिक तमिलनाडु और दक्षिणी आंतरिक  कर्नाटक में कुछ
स्थानों–पर बारिश जारी रहने की संभावना है। पूर्वोत्तर में कई जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश होने की संभा
-वना है।वहीं मध्य भारत के कई इलाकों में हल्की बारिश तथा अन्य इलाकों में तेज हवा चलने के आसार हैं।
🌻💐🌸🥀🌲@🌱💐💐🌾🌴🍁🌴🥀🌻


💐(A/3) DTH  ग्राहकों को लिएअब अनिवार्य होंगे   नए प्रकार के मल्टी केबल लाइन सेटअप बॉक्स💐
 
💐बदलने जा रहे आपके डीटीएच Set-Top Box, आ रहा नया नियम💐
ग्राहकों कोजल्द हीनएतरह के डायरेक्ट-टू-होम(DTH) सेट-टॉपबॉक्स मिलने जा रहे हैं।अब डीटीएच ऑपरेटर बदलने पर नया सेट-टॉप-बॉक्स खरीदने की जरूरत नहीं पड़ेगी
      💐DTH ग्राहकों को लिए नए प्रकार के
       मल्टी केबल लाइन सेटअप बॉक्स💐
डायरेक्ट-टू-होम (DTH) ग्राहकों को जल्द ही नए तरह के सेट-टॉप बॉक्स मिलने जा रहे हैं। ये सेटटॉप बॉक्स ऐसे होंगेजो एक से ज्यादा डीटीएच ऑपरेटर को सपॉर्ट करेंगे।टेलिकॉम रेग्युलेटरीअथॉरिटीऑफइंडिया TRAI ने सिफारिश की है कि ग्राहकों को दिए जाने वाले सभी सेट टॉप बॉक्स अनिवार्य रूप से interopertable (जो अदल-बदल हो सके) होने चाहिए।ट्राई ने शनिवार को सूचनाएवं प्रसारण मंत्रालय सेइसकीसिफारिश की।
          💐क्या होगा नए नियम आने पर💐
ट्राई का यह सुझाव लागू हुआ तो ग्राहकों को डीटीएच ऑपरेटर बदलने पर नया सेट-टॉप-बॉक्स खरीदने की जरूरत नहीं पड़ेगी।नए नियम को इस तरहसे समझिए 
कि-ग्राहकभले किसी भी डीटीएचऑपरेटरको सब्स
-क्राइबरकोचुने,लेकिनइसकेसाथ मेंआनेवाला सेट-टॉप 
बॉक्स ऐसा हो जो दूसरे किसी ऑपरेटर के साथ भी काम कर पाए।अभी ग्राहकोंको डीटीएच नेटवर्कबदलने 
पर सेट-टॉप-बॉक्सभी बदलना होता है। इसके अलावा ट्राई ने सभी टेलीविजन सेट के लिए एक जैसे यूएसबी पोर्ट इंटरफेस को भी अनिवार्य करने की वकालत की।
ट्राई ने कहा कि सूचना व प्रसारण मंत्रालय इस संबंध में भारतके सैटेलाइट टीवी ऑपरेटर्स के लिए पुरानेनियमों में कुछ बदलाव भी कर सकता है। इंट्रो पोर्टेबिलिटी से जुड़े नियम कोरोना लॉकडाउन के बाद देशभर में लागू किए जा सकते हैं। हालांकि इस फैसले का अधिकतर डीटीएच कंपनियों नेविरोध किया है।कंपनियों कादावा
है कि नई सुविधावाले सेट टॉप बॉक्स ग्राहकों को पहले से काफी महंगे पढ़ेंगे।
🌻💐🌸🥀🌲@💐💐🌱🌾🌴🍁🌴🥀🌻


💐(A/4)अब आयुर्वेद से कोरोना को हराने की तैयारी
 PM मोदी ने बनाई टास्क फोर्स।💐


आयुर्वेद और पारंपरिक दवाइयों के जरिए इस खतर
नाक बीमारी पर काबू पाने की दिशा में ICMR जैसे संस्थान रिसर्च कर रहे हैं.।टास्क फोर्स इनके साथ मिल
कर रिसर्च को तेजी से आगे बढ़ाने का काम करेंगे।.


कोरोना से इलाज के लिए पारंपरिक पद्धति कितनी कारगर ।
टास्क फोर्स रिसर्च संस्थानों के साथ मिलकर करेगी काम।
कोरोना वायरस से बचाव के लिए इलाज की खोज जारी है. पीएम मोदी ने AYUSH मंत्रालय के तहत एक टास्क फोर्स का गठन किया है, जो आयुर्वेद के जरिए COVID-19 का इलाज ढूंढने का काम करेगा. आयुर्वेद और पारंपरिक दवाइयों के जरिए इस खतरनाक बीमारी पर काबू पाने की दिशा में ICMR ( भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद) जैसे संस्थान रिसर्च कर रहे हैं. टास्क फोर्स इनके साथ मिलकर रिसर्च को तेजी से आगे बढ़ाने का काम करेंगे।.
केंद्रीय मंत्री श्रीपद येसो नाइक ने इस बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए कहा, 'प्रधानमंत्री मोदी ने एक टास्क फोर्स गठित किया है. जो आयुर्वेद और पारंपरिक दवाइयों के मेडिकल फॉर्मूले को COVID-19 के खिलाफ वैज्ञानिक तरीके से प्रयोग करने की दिशा में काम करेगा. ये टास्क फोर्स ICMR जैसे संस्थान के साथ मिलकर काम करेगा. जिससे आयुर्वेदिक पद्धति से कोरोना जैसी खतरनाक बीमारी का इलाज संभव हो सके।.'
केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा, 'हमें अब तक 2000 प्रस्ताव मिले हैं, इनमें से कई सुझावों की वैज्ञानिक वैधता चेक करने के बाद उसे ICMR और अन्य रिसर्च संस्थानों को भेजे जाएंगे.।
अमेरिकी वैज्ञानिकों ने उस टारगेट को खोज लिया है, जहां कोरोना वायरस की एंटीवायरस वैक्सीन असर करेगी।यानी यह कोरोना के इलाज में यह एक बड़ी सफलता है। इसकी मदद से दवाई ठीक आपके शरीर में उसी जगह पर वायरस पर हमला करेगी, जहां से वह चिपका होगा। ये खोज की हैअमेरिका के कॉर्नेल यूनिव
र्सिटी के वैज्ञानिकों ने।सबसे पहले यूनिवर्सिटी के वैज्ञा
निकों ने कोरोना वायरस कोविड-19 की संरचना और प्रकृति का मिलान सार्स (SARS) और मर्स (MERS) की संरचना और प्रकृति से किया।
वैज्ञानिकों का फोकस था कोरोना वायरस की बाहरी कंटीली परत पर  यानी स्पाइक प्रोटीन पर, जो आपके शरीर की कोशिकाओं से जाकर चिपक जाता है।. फिर कोशिकाओं को संक्रमित कर और वायरस पैदा करता है।वैज्ञानिक यह जानकर हैरान रह गए कि कोरोना वायरस कोविड-19 यानी सार्स-सीओवी2 की संरचना 2002 में फैली सार्स महामारी के वायरस से 93% प्रतिशत मिलती है।यानी कोविड-19 केजीनोमसिक्वेंस 
सार्स वायरस के जीनोम सिक्वेंस से मिलते जुलते हैं।.
कॉर्नेल यूनिवर्सिटी की सुजैन डेनियल प्रयोगशाला में कोरोना वायरस की बाहरी परत यानी कंटीले प्रोटीन पर गहनअध्ययन चल रहा है।यहां गैरी व्हिटकरकी टीम ये देख रही है कि इंफ्लूएंजाका वायरस और कोरोना 
वायरस शरीर की कोशिकाओं में कैसे घुसता है.वायरस
 का आपके शरीर में मौजूद कोशिकाओं से चिपकना एक बड़ी लंबी चरणबद्ध प्रक्रिया है।इसमें वायरससबसे
पहले यह देखता है कि उसने सही कोशिका का चुनाव किया है कि नहीं। इसके लिए वायरस को कोशिका के आसपास मौजूदरसायन बताते हैं कियह कोशिका सही टारगेटहै या नहीं।यही बात सबसे पहले कोरोनावायरस
कीबाहरीपरत को पता चलती है.यही कंटीली परत फिर टारगेट कोशिका की सतह से जाकर चिपक जाती है.।
इसके बाद कंटीली परत जिसे फ्यूजन पेप्टाइड कहते हैं।, वह कोशिका को तोड़ना शुरू करती है, इसके लिए वह सबसे पहले आपके शरीर की टारगेट कोशिका की बाहरी परत में छेद करना शुरू करती है. इसके बाद इसी कोशिका में अपना जीनोम सिक्वेंस भेजकर नए वायरस की उत्पत्ति शुरू कर देती
🌻💐🌸🥀🌲🌱@💐💐🌾🌴🍁🌴🥀🌻
 
  💐(B)आज के दिन जन्मी पुर्व उपराष्ट्रपति  
  डॉ.नजमा हेपतुल्ला भारतीय राजनीतिज्ञ 
                  का जीवन परिचय 💐


 डॉ नजमा हेपतुल्ला एक राजनीतिज्ञ,लेखिका व नरेन्द्र मोदी सरकार के अंतर्गत अल्पसंख्यक मामलों की मंत्री थी।वहफिलहाल मणिपुरराज्य कीराज्यपाल है।वे मुंबई कांग्रेस कमेटी कीमहासचिव और उपाध्यक्ष रहचुकी हैं। वे1985 से 1986 तथा 1988 से जुलाई 2007 तक भारतीय लोकतंत्र की उपरी प्रतिनिधि सभा राज्यसभा
की पूर्व उपसभापति रही हैं।1980 से राज्यसभा की सदस्य हैं और अभी उनका दिल्ली के जमिया मालिया 
युनिव्हर्सिटी  में भी कुलगुरू किया हैं।


                  🔆नजमा हेपतुल्ला🔆


पद:-          राज्यपाल, मणिपुर
पदस्थ:-     कार्यालय ग्रहण 26 मई 2014
प्रधानमंत्री:-नरेन्द्र मोदी राज्यसभा की उपसभापति
कार्यकाल:-1985-1986, 1988-200 राज्यसभा के
                 सदस्य
कार्यकाल;-2004-2010, 2012-वर्तमान
जन्म:-13 अप्रैल 1940 (आयु 79  वर्ष )
जन्म स्थल:-भोपाल,मध्यप्रदेश, भारत
राजनीतिक दल:-भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस 
और भारतीय जनता पार्टी(वर्तमान)
जीवन संगी:-अकबरअली.ए.हेपतुल्ला(1966-2007)
(मृत्यु)
बच्चे:- तीन बेटियाँ
निवास:-नई दिल्ली, भारत  
व्यवसाय:-लेखिका और राजनीतिज्ञ
पेशा:-साहित्य और राजनीति


            🔆प्रारंभिक जीवन🔅


13 अप्रैल1940 को मध्यप्रदेश के भोपालमें जन्मी डॉ॰ हेपतुल्ला को राजनीति विरासत में मिली है।रिश्ते में 
मौलाना अबुल कलामआजाद की नातिन हेपतुल्ला ने एमएससी करने के बाद हृदय रोग विज्ञान में पीएचडी प्राप्तकीपर राजनीतिमें दिलचस्पी केकारणवहराजनीति
में आई।
             🔆व्यक्तिगत जीवन🔆
हेपतुल्ला के पति और प्रसिद्घ मानव संसाधन सलाहकार अकबर अली ए. हेपतुल्ला का निधन हो चुका है। उनकी 3 बेटियां हैं जो अमेरिका में काम करती हैं।
          🔅राजनीतिक जीवन🔅
हेपतुल्ला ने मुंबई प्रदेश कांग्रेस कमेटी की महासचिव से अपना राजनीतिक जीवन शुरू किया, तत्पश्चात उन्होंने उपाध्यक्ष का उत्तरदायित्व भी निभाया। वे 1980 से राज्यसभा की सदस्य हैं। 1985 से 1986 तथा 1988 से जुलाई 2007 तक वे राज्यसभा की उपसभापति रहीं। इस दौरान उन्होंने सदन की कार्यवाही का कुशल संचालन किया और सत्तापक्ष तथा विपक्ष में भी लोकप्रिय बनी रहीं। लेकिन श्रीमती सोनिया गाँधी से उनके रिश्तों में आई खटास के बाद वह भाजपा में शामिल हो गई। डॉ॰ हेपतुल्ला भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद की अध्यक्ष भी रहीं हैं। सन 2004 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने भाजपा का दामन पकड़ लिया। वे जुलाई 2004 में दोबारा राज्यसभा के लिए भाजपा के टिकट पर चुनी गईं। वे भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की सदस्य भी बनाई गईं। वर्ष 2007 में वह उपराष्ट्रपति के चुनाव में हामिद अंसारी से 233 वोटों से हार गई थीं। उन्होंने 26 मई 2014 को 
नरेंद्र मोदीमंत्रिमंडल में केंद्रीय मंत्री के रूप 
में शपथ ली।
               🔆साहित्यिक जीवन🔅
नजमा हेपतुल्ला के अपने 25 वर्षों के सार्वजनिक जीवन के दौरान लिखी कविताओं का संग्रह इम्प्रेशन्स 2011 में प्रकाशित हुआ।
🌻💐🥀⚘@🌴🌸💐💐💐💐💮🌱⚘🍁🌻


 🔆(C)आज के दिन की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ🔆 


1648-में  लाल किले का निर्माण पूरा हुआ।
1699- में सिखों के दसवें गुरू गोविंद सिंह ने  खालसा पंथ की स्थापना की।
 1772-में वॉरेन हेस्टिंग्स  ईस्ट इंडिया कंपनी की बंगाल समिति के अध्यक्ष नियुक्त हुए।
1799- में  इटली की जंग में  नेपोलियन ने आस्ट्रिया को हराया।
1796- में अमेरिका में  पहला हाथी भारत से लाया गया।
1849 में हंगरी को  गणराज्य बनाया गया।
1870 में  न्ययॉर्क में  मैट्रोपॉलिटन म्यूजियम ऑफ आर्ट की स्थापना हुई।
 1919 में आज ही के दिन ब्रिटिश जनरल डायर ने अमृतसर के जलियांवाला बाग में सभा कर रहे निहत्थे लोगों पर गोलियां चलवाकर नृशंस हत्याकांड किया।
1919 में  पेरिस में शान्ति सम्मेलन का उद्घाटन हुआ।
1919 में बेनिटो मुसोलिनी द्वारा  इटैलियन फ़ासिस्ट पार्टी की स्थापना की गई।
1939 में भारत में  अंग्रजों के साथ हथियारबंद संघर्ष के लिए हिंदुस्तानी लाल सेना (इंडियन रेड आर्मी) का गठन हुआ।
 1941 में तत्कालीन सोवियत संघ और जापान ने  तटस्थता समझौते पर हस्ताक्षर किये।
1944 में तत्कालीन सोवियत संघ और न्यूजीलैंड के बीच  राजनयिक संबंध स्थापित हुए।
1952 में स्वतंत्र भारत की पहली संसद का सत्र शुरू हुआ।
1960 में  अमेरिका ने  विश्व के पहले परिवहन उपग्रह ‘ट्रांजिट 1 बी’ का प्रक्षेपण किया।
1978 में देश का पहला ध्वज वाहक जहाज I N S  दिल्ली सेवामुक्त हुआ था
1980 में अमेरिका ने  मास्को में हो रहे ग्रीष्मकालीन ओलंपिक खेलों का बहिष्कार किया।
1984 मेंभारतीयक्रिकेट टीम नेशारजाह में पाकिस्तान 
को 58 रनों से हराकर पहली बार एशिया कप जीता।
1994 में नई दिल्ली में एस्केप का स्वर्ण जयंती सत्र सम्पन्न।
1997 में अमरीका के गोल्फ़ खिलाड़ी एल्ड्रिक टाइगर वुड्स  21 साल की उम्र में यूएस मास्टर्स चैंपियनशिप जीतने वाले सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बन गए।
2000 में लारा दत्ता  मिस यूनिवर्स चुनी गई।
2002 मेंशांति के प्रतिक LTTE प्रमुख वी.प्रभाकरण
की प्रतिबद्धताकासंयुक्त राज्यअमेरिकाने स्वागत किया
2003 में एल.टी.टी.ई. ने  टोकियो सहायता सम्मेलन का बहिष्कार किया।
2005 में  विश्वनाथन आनन्द  चौथी बार ‘विश्व शतरंज चैम्पियन’ बने।
2007 में गूगल ने  विज्ञापन सेवा प्रदाता डबल क्लिक का 3.1 अरब डॉलर में अधिग्रहण किया।
2013 को पाकिस्तान के पेशावर में  हुए एक बस में धमाके से आठ लोगों की मौत हो गयी।
🌻💐🌸🥀🌲🌱@🌾💐💐💐🌴🍁🌴🥀


💐(D)आज के दिन जन्मे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व💐  


1813-में त्रावणकोर, केरल के महाराजा तथा दक्षिण भारतीय कर्नाटक संगीत परंपरा के सर्वोत्कृष्ट संगीतज्ञ स्वाति तिरुनल का जन्म  हुआ।
1881 -में भारत में उत्तर प्रदेश सरकार के अंतर्गत राज्यपाल के पद पर कार्यरत रहे हैरी ग्राहम हैग का जन्म  हुआ।
1890- में भारत की पहली फिंल्म ‘श्रीपुंडलीक’ का निर्माता, फिल्मकार दादासाहब तोरणे का जन्म  हुआ।
1898- को हिन्दी फ़िल्मों के प्रसिद्ध निर्माता-निर्देशक और पटकथा लेखक चन्दूलाल शाह का जन्म  हुआ।
1940- में प्रसिद्ध राजनीतिज्ञ और लेखिका नजमा हेपतुल्ला का जन्म  हुआ।
1925 में भारतीय सिनेमा के प्रसिद्ध गीतकार वर्मा मलिक का जन्म  हुआ।
1922 में तंजानिया के राष्ट्रपति रहे जूलियस नायरर का जन्म  हुआ।
🌻💐🌸🥀🌲🌱💐💐💐@🌴🍁🌴🥀🌻


💐(E)आज के दिन निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व💐


1963- में भारत के प्रसिद्ध साहित्यकार, निबन्धकार और व्यंग्यकार बाबू गुलाबराय का निधन  हुआ था।
1973 में फ़िल्म अभिनेता बलराज साहनी का निधन  को हुआ।
🌻💐🌸🥀🌱🌾💐💐💐@🌴🍁🌴🥀🌻


    💐(F) आज के दिन अवसर एवं उत्सव 💐


1.जलियांवाला बाग़ हत्याकांड स्मृति दिवस।
2.खालसा पंथ स्थापना दिवस
3.भारत के प्रसिद्ध साहित्यकार, निबन्धकार और    
 व्यंग्यकार बाबू गुलाबराय  की पुण्यतिथि दिवस
4.फ़िल्म अभिनेता बलराज साहनी की पुण्यतिथि दिवस
5.भारतीय कर्नाटक संगीत परंपरा के सर्वोत्कृष्ट संगीतज्ञ स्वाति तिरुनल जयंती दिवस
6.फिल्मकार दादासाहब तोरणे जयन्ति दिवस
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲💐💐@🌹💐💐🌻


       आज की बात -आपके साथ" मे आज इतना ही।कल पुन:मुलाकात होगी तब तक के लिये इजाजत दिजीये।
      आज जन्म लिये  सभी  व्यक्तियोंको आज के दिन की बधाई। आज जिनका परिणय दिवस हो उनको भी हार्दिक बधाई।  बाबा महाकाल से निवेदन है की बाबा आप सभी को स्वस्थ्य,व्यस्त मस्त रखे।
💐।जय चित्रांश।💐
💐जय महाकाल,बोले सो निहाल💐
💐।जय हिंद जय भारत💐