सूर्य ग्रहण के अवसर पर स्नान की व्यवस्था

          उज्जैन। आगामी 26 दिसम्बर को सूर्य ग्रहण के अवसर पर शिप्रा नदी में स्नान की व्यवस्था करने के लिये कलेक्टर शशांक मिश्र ने टीएल बैठक में नगर निगम उज्जैन को रामघाट, दत्त अखाड़ा एवं अन्य स्नान घाट पर साफ-सफाई की व्यवस्था करने के निर्देश दिये हैं। कलेक्टर ने विभिन्न घाटों पर कर्मचारियों की ड्यूटी लगाने, स्नान के लिये फव्वारे लगाने के निर्देश के साथ ही एम्बुलेंस एवं चिकित्सा टीम लगाने के लिये भी कहा है। कलेक्टर ने फायर ब्रिगेड, ध्वनि विस्तारक यंत्र एवं सीसीटीवी कैमरे आदि की व्यवस्था करने के लिये नगर निगम को निर्देशित किया है।


          बैठक में एडीएम आरपी तिवारी ने जानकारी देते हुए बताया कि स्नान के लिये 24 दिसम्बर की रात्रि से देवास बैराज से नर्मदा नदी का पानी छोड़ा जायेगा। पानी छूटने पर नदी में अचानक पानी बढेगा, इसकी मुनादी नदी किनारे के ग्रामों में कराने के निर्देश दिये गये हैं। साथ ही छोड़े गये पानी को लिफ्ट न किया जाये, इसकी निगरानी करने के लिये कहा गया है।


          कलेक्टर ने बैठक में समय-सीमा के पत्रों के निराकरण, मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के निराकरण की समीक्षा की तथा निर्देश दिये कि एल-1 लेवल पर सीएम हेल्पलाइन जम्प कराने वाले अधिकारियों के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाये। कलेक्टर ने एसडीएम सिटी को निर्देशित किया है कि उज्जैन शहर के उद्यानों की जमीन पर हो रहे अतिक्रमण को चिन्हित कर हटाया जाये। कलेक्टर ने कृषि, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, भू-अभिलेख, पशुपालन, जिला शिक्षा प्रशिक्षण संस्थान की 500 दिन से अधिक की पेंडिंग सीएम हेल्पलाइन शिकायतों को निराकृत नहीं किये जा सकने की स्थिति में विभागीय स्तर से बन्द कराने के निर्देश दिये हैं। बैठक में अपर कलेक्टर अभिषेक चौधरी, जीएस डाबर, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी नीलेश पारिख सहित विभिन्न विभागीय अधिकारी मौजूद थे।