आज की बात आपके साथ - विजय निगम

 


💐प्रिय साथियो💐।  
💐राम-राम ,💐
💐 नमस्ते।💐


आज की बात आपके साथ मे आप सभी साथीयों का 
दिनांक   26 दिसंबर 2019  गुरुवार की प्रातः की बेला में हार्दिक वंदन है अभिनन्दन है।
💐🎂💐🎂💐🎂💐🎂💐🎂@💐🎂💐🎂


आज की बात आपके साथ के आज के अंक मे है 


A कुछ रोचक समाचार 
B आज के दिन जन्मे भारत देश के भूतपूर्व राष्ट्रपति स्व.डॉ शंकरदयाल शर्मा. का जीवन परिचय  लेख. ।
C आज के दिन की महत्वपूर्ण ऐतिहासिक घटनाए।
D आज के दिन जन्म लिए महत्त्वपूर्ण व्यक्तित्व
E आज के निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व।
F आज का दिवस का नाम ।
💐🎂💐🎂💐🎂@💐🎂💐🎂💐🎂💐🎂
            ( A) कुछ रोचक समाचार 
 💐(A/1) सूर्य ग्रहण 2019: आज लगेगा सूतक, ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाएं ध्यान रखें ये बातें💐
 💐 (A/2) 4267 करोड़ की मालकिन हैंयहखूबसूरत 
अभिनेत्रीउम्र हैं 34 साल फिर भी हैं सिंगल।💐
💐(A/3)जुही चावला से शादी करना चाहते थे सलमान खान  जानें क‍िस वजह से नहीं बनी बात।💐,
💐(A/4)अधीर रंजन चौधरी के बिगड़े बोल, PM मोदी और शाह के लिए कहा- रामू-श्यामू गुमराह करने में हैं मास्टर।💐
💐(A/5) मुश्किल मे फंसा मुंबई इंडियंस का यह खिलाड़ी, डेब्यू मैच में 6 विकेट लेने के बाद गेंदबाजी एक्शन पर उठा सवाल💐
💐🎂💐🎂💐🎂@💐🎂💐🎂💐🎂💐💐


 💐(A/1) सूर्य ग्रहण 2019: आज लगेगा सूतक, ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाएं ध्यान रखें ये बातें💐


साल 2019 का आखिरी सूर्य ग्रहण आज 26 दिसंबर को लगेगा।इसके लिए कल 25 दिसंबर से सूतक लग जाएगा।ज्योतिषशास्त्र के अनुसार, ग्रहण के दौरान किसी प्रकार के शुभ कार्य की शुरुआत नहीं की जाती। ग्रहण लगने से पहले और बाद तक के सयम को सूतक काल माना जाता है।ग्रहणऔर ग्रहण सूतके दौरान गर्भवती महिलाओं को खास सावधानी वर्तने की सलाह दी जाती है। यह सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई देगा और इसका विभिन्न राशि के लोगों व प्रकृति पर असर भी पड़ेगा।
             💐 क्या है ग्रहण सूतक काल ?💐
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ग्रणह शुरू होने के 12 घंटे पहले और ग्रहण पूरा होने के 12 घंटे के बाद तक का समय ग्रहण सूतक काल कहलाता है। इस बार सूर्य ग्रहण 26 दिसंबर 2019 को है, इसलिए ग्रहण सूतक काल 25 दिसंबर को शुरू हो जाएगा।
            💐  ग्रहण तिथि और समय💐
बुधवार की रात 8:17 बजे से सूतक लग जाएंगे। ग्रहण समाप्त होते ही सूतक खत्म होंगे। ग्रहण के दिन मूल नक्षत्र में चार ग्रह रहेंगे। वहीं, धनु राशि में सूर्य, चंद्रमा, बुध, बृहस्पति, शनि और केतु रहेंगे। इन छह ग्रहों पर राहु की पूर्ण दृष्टि भी रहेगी। इनमें दो ग्रह यानी बुध और गुरु अस्त रहेंगे। कर्क, तुला, कुंभ और मीन चार राशि वालों पर ग्रहण शुभ रहेगा।  
इस ग्रहण के बाद अगले साल के शुरू में जनवरी में चंद्र ग्रहण लगेगा। बताया जा रहा है कि यह सूर्य ग्रहण 296 साल बाद लग रहा है।  यह अंगूठी जैसा सूर्य ग्रहण होगा जिसमें सूर्य एक आग की अंगूठी की तरह लगेगा। वैदिक ज्योतिष संस्थान के अध्यक्ष स्वामी पूर्णानंद पुरी महाराज ने कहा कि ऐसा दुर्लभ सूर्यग्रहण 296 साल पहले सात जनवरी 1723 को हुआ था। सूर्य ग्रहण वलयाकार होगा। चन्द्रमा की छाया सूर्य का 97 प्रतिशत भाग ढकेगी। सूर्य ग्रहण सुबह 8:17 बजे शुरू होगा। 26 दिसंबर को पड़ने वाले सूर्य ग्रहण के मौके पर ज्यादातर मंदिरों के कपाट बंद रहेंगे। ग्रहण समाप्त होने के बाद मंदिरों के कपाट खुलेंगे और दोबारा से पूजा अर्चना शुरू होगी।
             💐  नए साल 2020 में ग्रहण 💐
10 जनवरी - चंद्र ग्रहण,   5 जून - चंद्र ग्रहण
21 जून - सूर्य ग्रहण,       5 जुलाई - चंद्र ग्रहण
30 नवंबर -चंद्र ग्रहण      14 दिसंबर - सूर्यग्रह
  💐गर्भवती महिलाओं पर चंद्र ग्रहण का असर💐
माना जाता है कि किसी भी ग्रहण असर सबसे ज्यादा गर्भवती महिलाओं पर होता है। क्योंकि ग्रहण के वक्त वातावरण में नकारात्मक ऊर्जा काफी ज्यादा रहती है। ज्योतिषाचार्यों द्वारा ग्रहण काल के दौरान गर्भवती स्त्रियों को घर से बाहर नहीं निकलने की सलाह दी जाती है। बाहर निकलना जरूरी हो तो गर्भ पर चंदन और तुलसी के पत्तों का लेप कर लें। इससे ग्रहण का प्रभाव गर्भ में पल रहे शिशु पर नहीं होगा। ग्रहण काल के दौरान यदि खाना जरूरी हो तो सिर्फ खानपान की उन्हीं वस्तुओं का उपयोग करें जिनमें सूतक लगने से पहले तुलसी पत्र या कुशा डला गया हो। गर्भवती महिलाएं ग्रहण के दौरान चाकू, छुरी, ब्लेड, कैंची जैसी काटने की किसी भी वस्तु का प्रयोग न करें। इससे गर्भ में पल रहे बच्चे के अंगों पर बुरा असर पड़ सकता है। इस दौरान सुई धागे का प्रयोग भी वर्जित है। ग्रहण काल के दौरान भगवान का नाम लेने के अलावा कोई दूसरा काम न करें।
     💐    ग्रहण काल में रखें ये सावधानियां - 💐
ग्रहणकाल में प्रकृति में कई तरह की अशुद्ध और हानिकारक किरणों का प्रभाव रहता है। इसलिए कई ऐसे कार्य हैं जिन्हें ग्रहण काल के दौरान नहीं किया जाता है।
- ग्रहणकाल में अन्न, जल ग्रहण नहीं करना चाहिए।
- ग्रहणकाल में स्नान न करें। ग्रहण समाप्ति के बाद स्नान करें।
- ग्रहण को खुली आंखों से न देखें। हालांकि चंद्र ग्रहण देखने से आंखों पर कोई बुरा असर नहीं होता।
- ग्रहणकाल के दौरान गुरु प्रदत्त मंत्र का जाप करते रहना चाहिए।
💐🎂💐🎂💐🎂@💐🎂💐🎂💐🎂💐💐


💐 (A/2)  4267 करोड़ की मालकिन हैं यह खूबसूरत अभिनेत्रीउम्र हैं 34 सालफिरभीहैंसिंगल💐


फिल्म इंडस्ट्री में बहुत से ऐसे सितारें हैं जो करोड़ों में पैसा कमा रहें हैं सेलिब्रिटी बनने के बाद इनके पास बहुत सारे काम के ऑप्शन होते हैं जहां यह करोड़ों की कमाई कर सकते. आज एक ऐसी ही बॉलीवुड फिल्म अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडिस को देख़ लीजिए जिनसे 34 साल की उम्र 4267 करोड़ की संपत्ति अपने नाम की और अब तक शादी नहीं की.
जैकलीन फर्नांडिस बॉलीवुड इंडस्ट्री की बहुत ही खूबसूरत और जानी मानी अभिनेत्री हैं इनका नाम टॉप की एक्ट्रेस में आता हैं. जैकलीन फर्नांडिस ने बॉलीवुड में अपना करियर फिल्म अलादीन से शुरू किया था जिसमें इनके साथ अभिनेता रितेश देशमुख और अमिताभ बच्चन नज़र आये थे.
इस फिल्म के बाद जैकलीन फर्नांडिस बॉलीवुड में छा गई औरउन्हें बॉलीवुड के बहुत सारे सुपरस्टार संगकाम 
करने कामौका मिला।बता दे जैकलीनफर्नांडिस 4267 करोड़ की मालकिन हैं उनके पास एक आइलैंड और कोलंबो में कामसूत्र नाम का एक रेस्टोरेंट भी हैं.
जैकलीन फर्नांडिस फिल्मों के अलावा भी बड़ी बड़ी कंपनियों के विज्ञापन कर करोड़ों रूपए की फीस लेती हैं. बात करें उनके वर्क फ्रंट की तो जैकलीन फर्नांडिस फिल्म हल्ला की शूटिंग में बिजी हैं जिसमें इनके साथ अभिनेता जॉन अब्राहम नज़र आएंगे और यह फिल्म 9 अप्रैल 2020 को रिलीज़ होगी।
💐💐🎂💐🎂💐🎂@💐🎂💐🎂💐🎂💐
 
 💐(A/3)जुही चावला से शादी करना चाहते थे सलमान खान  जानें क‍िस वजह से नहीं बनी बात।,💐


 सलमान खान ने शादी के ल‍िए एक बार जूही चावला को भी प्रपोज क‍िया था। जानें क्‍यों नहीं बन पाई बात
सलमान खान की शादी की च‍िंता उनके परिवार के अलावा पूरे बॉलीवुड और फैन्‍स को भी है। वैसे उनकी गर्लफ्रेंड्स की ल‍िस्‍ट में इंडस्‍ट्री की कई बड़ी एक्‍ट्रेस शामिल हैं लेकिन एक अभ‍िनेत्री ऐसी ही है, ज‍िस पर सलमान खान को बड़ा क्रश रहा है। इतना क‍ि वह उनसे शादी करना चाहते थे। उन्‍होंने एक बार उनके पापा को कहा भी था क‍ि वह दोनों की शादी करा दें।। लेकिन अफसोस क‍ि यहां उनकी बात बन नहीं पाई थी। यही वजह है क‍ि सलमान खान और इस एक्‍ट्रेस की एक भी फ‍िल्‍म साथ नहीं आई। जबक‍ि शाहरुख खान और आमिर खान के साथ उन्‍होंने कई ह‍िट फ‍िल्‍में दीं। ये एक्‍ट्रेस और कोई नहीं, बल्‍क‍ि जूही चावला हैं जो एक समय पर अपनी भोली अदाओं से लोगों के द‍िलों पर राज करती थीं। जहां तक सलमान खान से उनकी शादी न होने की बात है तो इसकी वजह यह बताई जाती है क‍ि उनके पापा को सलमान बिल्‍कुल पसंद नहीं थे और उन्‍होंने इस रिश्‍ते को स्‍वीकार नहीं क‍िया। बल्‍क‍ि यहां तक कहा जाता है क‍ि उन्‍होंने जूही को सलमान के साथ फ‍िल्‍म करने से भी मना क‍िया था।
💐🎂💐🎂💐🎂@💐🎂💐🎂💐🎂🎂💐
  💐(A/4)अधीर रंजन चौधरी के बिगड़े बोल, PM मोदी और शाह के लिए कहा- रामू-श्यामू गुमराह करने में हैं मास्टर।💐
कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्रमोदी 
और गृहमंत्री आमित शाह को लेकर विवादास्पद बयान दिया है। उन्होंने संशोधित नागरिकता कानून का विरोध करते हुए पीएम मोदीऔर अमित शाह पर देश के लोगों 
को गुमराह करने का आरोप लगाया।
           क्या कहा अधीर रंजन चौधरी ने?
अधीर रंजन चौधरी ने कहा, 'मोदी जी ने जो बात कही उससे ऐसा लग रहा है जैसे कि उन्होंने NRC के बारे में कभी नहीं सुना है, लेकिन उनके गृह मंत्री ने संसद में कहा था कि NRC पूरे देश में लागू किया जाएगा... ये रामू और श्यामू क्या कहते हैं, क्या नहीं कहते हैं इसपर हमको ध्यान देना पड़ेगा क्योंकि ये लोगों को गुमराह करने के मास्टर हैं।'
           पहले भी दिया है विवादित बयान
बता दें कि पहले भी कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह को लेकर विवादित बयान दे चुके हैं।लोकसभा में कांग्रेस संसदीय
दल के नेता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीऔर गृहमंत्रीअमित 
शाह को घुसपैठिया बता दिया था।एनआरसी को लेकर सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, 'हिंदुस्तान सबके लिए है। ये हिंदुस्तान किसी की जागीर है क्या? सबका समान अधिकार है। अमित शाह जी, नरेंद्र मोदी जी आप खुद बाहरी हैं। घर आपका गुजरात है, आ गए दिल्ली। वैध-अवैध बाद में पता चलेगा।'
      निर्मला सीतरमण पर दिए बयान पर माफी
अधीर रंजन चौधरी वित्त मंत्री निर्मला सीतरमण को लेकर भी संसद में विवादित बयान दे चुके हैं। उन्हों ने निर्मला सीतरमण को निर्बला कहा था। हालांकि बयान पर हंगामें के बाद उन्होंने माफी मांग ली थी। उन्होंने टैक्स पर चर्चा के दौरान कहा था, 'आपके लिए सम्मान तो बहुत है, लेकिन कभी-कभी सोचता हूं कि आपको निर्मला सीतारमण की जगह निर्बला सीतारमण कहना ठीक होगा कि नहीं। आप मंत्री पद पर तो हैं, लेकिन जो आपके मन में जो है वो कह भी पाती हैं या नहीं। 
💐🎂💐🎂💐🎂@💐🎂💐🎂💐🎂💐🎂


💐(A/5) मुश्किल मे फंसा मुंबई इंडियंस का यह खिलाड़ी, डेब्यू मैच में 6 विकेट लेने के बाद गेंदबाजी एक्शन पर उठा सवाल💐
दिग्विजय देशमुख को संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के लिए रिपोर्ट किया गया है।
महाराष्ट्र के तेज गेंदबाज दिग्विजय देशमुख को पिछले सप्ताह जम्मू-कश्मीर के खिलाफ रणजी ट्रॉफी में डेब्यू के दौरान संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन के लिए रिपोर्टकिया 
गया हैदिग्विजय पिछले सप्ताह तब सुर्खियों में आए थे, जबआईपीएल टीम मुंबई इंडियंस नेउन्हें बेस प्राइस20 
लाख रुपये मेंअपनी टीम में शामिल कियाथा दिग्विजय 
ने अपनेपहला फर्स्टक्लास मैच खेलते हुएजम्मू-कश्मीर
के खिलाफ शानदार गेंदबाजी की थीऔर6 विकेटलिया
था। उन्होंने पहली पारी में 15 रन देकर दो विकेटलिया 
था, जबकि दूसरी पारी में 46 रन देकर 4 विकेट झटके थे। इसके बाद दिग्विजय ने 71 गेंदों में 83 रनों कीपारी 
खेली थी,लेकिन उनकी टीम महाराष्ट्र को 54रनों सेहार 
का सामना करना पड़ा था।
एमसीए सेक्रेट्री रियाज बगवान ने टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए कहा, 'दिग्विजय को पहले ही मैच में संदिग्ध गेंदबाजी के लिए रिपोर्ट किया गया है। हमें मैच अधिकारियों से लेटर मिला, जिसमें इनिंग, ओवर नंबर और टाइम के बारे में बताया गया है। मैंने वह लेटर टीम मैनेजर और कोच को सौंप दी है। मुझे इस बारे में पूरी जानकारी नहीं है।
उन्होंने आगे कहा, 'दिग्विजय को गेंदबाजी करने सेरोक 
नहीं लगाई गई है, लेकिन हम को रिश्क नहीं लेनाचाहते
हैं,इसलिए छत्तीसगढ़ के खिलाफ होने वाले मैच से उसे टीम से बाहर कर दिया गया है।'
इस साल की विजय हजारे ट्रॉफी में महाराष्ट्र के लिए खेलते हुए 7 मैचों में 9 विकेट झटकने वाले दिग्विजय को इस प्रदर्शन का इनाम आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए चुने जाने के रूप में मिला है। उन्होंने अब तक एक प्रथम श्रेणी मैच और 7 टी20 मैच खेले हैं और 104 रन बनाने के अलावा 15 विकेट झटके हैं।
बहुत कम लोगों को पता होगा कि दिग्विजय देशमुख 2013 में आई सुशांत सिंह राजपूत के लीड रोल वाली फिल्म 'काई पो चे' में भी नजर आ चुके हैं। दिग्विजय देशमुख काई पो चे फिल्म में बाल कलाकार के रूप में नजर आए थे और फिल्म में अली का किरदार निभाया था। उस फिल्म में कंचे और क्रिकेट खेलते नजर आए थे, जिसका सपना एक दिन भारत के लिए खेलना था।
💐💐🎂💐💐^#@#$#@#💐^🎂💐🎂💐
 
  💐(B) आज के दिन .डॉ शंकरदयाल शर्मा  की पुण्यतिथि पर सादर नमन एवं जीवन परिचय लेख.💐 
             💐  शंकरदयाल शर्मा💐
पूरा नाम:-डॉक्टर शंकरदयाल शर्मा
जन्म;-19 अगस्त, 1918
जन्म भूमि:-भोपाल
मृत्यु;-26 दिसम्बर, 1999
मृत्यु स्थान;-नई दिल्ली
मृत्यु कारण;-दिल का दौरा
अभिभावक;-श्री खुशीलाल शर्मा, श्रीमती सुभद्रा देवीपति/
पत्नी;-विमला शर्मा
संतान;-दो पुत्र और दो पुत्री
नागरिकता;-भारतीय
प्रसिद्धि;-भारत के 9वें राष्ट्रपति
पार्टी;-कांग्रेस
पद;-राष्ट्रपति, मुख्यमंत्री तथा राज्यपाल
कार्य काल:-25 जुलाई, 1992 से 25 जुलाई, 1997
शिक्षा;-एल.एल.बी., पी.एच.डी.विद्यालयदिगम्बर जैन स्कूल; सेंट जोंस कॉलेज, आगरा; इलाहाबाद विश्वविद्यालय और लखनऊ विश्वविद्यालय; कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय, इंग्लैण्ड
भाषा;-हिन्दी, अंग्रेज़ी और संस्कृत
जेल यात्रा;-स्वतंत्रता संग्राम के दौरान
पुरस्कार;-उपाधि'डॉक्टर ऑफ लॉ', 
अंग्रेज़ी साहित्य, हिन्दी तथा संस्कृत में स्नातकोत्तर उपाधियाँ
शंकरदयाल शर्मा;- (अंग्रेज़ी: Shankar Dayal Sharma
, जन्म- 19 अगस्त, 1918 ई.;
 मृत्यु- 26 दिसम्बर, 1999 ई.) भारत के नवें राष्ट्रपति थे। इनका जन्म भोपाल में हुआ था। इनके पिता 'श्री खुशीलाल शर्मा' एक वैद्य थे। शंकरदयाल शर्मा मध्य प्रदेश के पहले ऐसे व्यक्ति रहे, जो अपनी विद्वता, सुदीर्घ राजनीतिक समझबूझ, समर्पण और देश-प्रेम के बलपर भारतके राष्ट्रपति बने। 
इन्होंने 'भारत के स्वतंत्रता संग्राम' में मुख्य रूप से भाग लिया था। शंकरदयाल शर्मा ने 1992 ई. में भारत के सर्वोच्च पद राष्ट्रपति का कार्यभार ग्रहण किया था।
                   💐.जीवन परिचय💐
शंकर दयाल शर्मा का जन्म 19 अगस्त 1918 को भोपाल में 'दाई का मौहल्ला' में हुआ था। उस समय भोपाल को नवाबों का शहर कहा जाता था। अब यह मध्य प्रदेश में है। इनके पिता का नाम 'पण्डित खुशीलाल शर्मा' था और वह एक प्रसिद्ध वैद्य थे। इनकी माता का नाम 'श्रीमती सुभद्रा देवी' था।
                           💐शिक्षा🎂
डॉ शंकरदयाल शर्मा ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा स्थानीय 'दिगम्बर जैन स्कूल' में हासिल की थी। उन्होंने 'सेंट जोंस कॉलेज', आगरा और बाद में इलाहाबाद विश्वविद्यालय और लखनऊ विश्वविद्यालय से एल एल.बी. की उपाधि प्राप्त की थी। आपने अंग्रेज़ी साहित्य और संस्कृत सहित हिन्दी में स्नातकोत्तर उपाधियाँ अर्जित की थीं। उसके बाद उच्च शिक्षा के लिए इंग्लैण्ड गए। वहाँ क़ानून की शिक्षा ग्रहण की और पी.एच.डी. की उपाधि प्राप्त की। विश्वविद्यालय ने शंकरदयाल शर्मा को 'डॉक्टर आफ लॉ' की मानद विभूति से अलंकृत किया था। कुछ समय तक 'कैम्ब्रिज विश्व विद्यालय' में क़ानून के अध्यापक रहने के बाद आप भारत वापस लौट आए और लखनऊ विश्वविद्यालय में क़ानून का अध्यापन कार्य करते रहे।
                          💐विवाह💐
7 मई 1950 में श्री शंकरदयाल शर्मा का विवाह 'विमला शर्मा' के साथ सम्पन्न हुआ। इनका विवाह जयपुर में सम्पन्न हुआ था। शर्मा दम्पति को दो पुत्र एवं दो पुत्रियों की प्राप्ति हुई। विवाह के बाद विमला शर्मा समाज सेवा के कार्यों में व्यस्त रहती थीं। 1985 में वह उदयपुरा क्षेत्र से मध्य प्रदेश विधानसभा की विधायिका चुनी गईं। इस सीट से यह प्रथम महिला विधायिका निर्वाचित हुई थीं।
💐🎂💐🎂💐🎂@💐🎂💐🎂💐🎂💐🎂


💐(C)आज के दिन 26 दिसम्बर की महत्वपूर्ण         
               ऐतिहासिक घटनाए💐
1530  मुगल शासक बाबर का आगरा के समीप धोलपुर क्षेत्र में निधन हुआ।
1606  शेक्सपियर ने अपने लोकप्रिय नाटक किंग लियर को पहली बार इंग्लैंड के राजा जेम्स प्रथम के दरबार में पेश किया।
1666  सिख धर्म गुरु गोविन्द सिंह का जन्म हुआ।1736  एंड्रयू माइकल रामसे ने एक भाषण दिया, जिसमें उन्होंने फ़्रीमेसनरी की विरासत और अंतर्राष्ट्रीयता को क्रूसेड के साथ जोड़ा।
1748  दक्षिणी नीदरलैंड के बारे में फ्रांस और ऑस्ट्रिया ने संधि पर हस्ताक्षर किये।
1773   फिलाडेल्फिया से चाय के जहाजों को निष्कासित किया गया।
1776   जॉर्ज वॉशिंगटन ने अमेरिकी क्रांतिकारी युद्ध में ट्रेंटन की लड़ाई में हेसियन को हरा दिया।
1805  आॅस्ट्रिया और फ्रांस ने प्रेसबर्ग संघि पर हस्ताक्षर किए।
1805  प्रेसबर्ग की शांति पर फ्रांस और ऑस्ट्रिया के बीच हस्ताक्षर किए गए।
1806  गोलिमीन की लड़ाई में जनरल गोलिट्सीन के तहत रूसी सेना मार्शल मुरात के तहत फ्रांसीसी सेना के खिलाफ एक सफल पुनः कार्रवाई करने वाली लड़ाई लड़ी गई।
1809  एक ब्रिटिश आक्रमण दाल ने वलिसिंगेन शहर को छोड़ा।
1854  लकड़ी-लुगदी पेपर पहली बार प्रदर्शित किया गया।
1890  युगांडा के राजा मवाँगा पूर्वी अफ्रीका कंपनी के साथ अनुबंध पर हस्ताक्षर किया।
1893  चीन में कम्युनिस्ट पार्टी के संस्थापक और अध्यक्ष माओ ज़े तुंग का जन्म हुआ।
1904  दिल्ली से मुंबई के बीच देश की पहली क्रॉस कंट्री मोटरकार रैली का उद्घाटन हुआ।
1906  दुनिया की पहली फीचर फिल्म, द स्टोरी ऑफ दी कैली गैंग, जारी की गई।
1933  अमेरिकी इंजीनियर होवार्ड आर्मस्ट्रांग ने एफएम रेडियो का पेटेंट हासिल किया।
1978  भारत की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को जेल से रिहा किया गया।
1979  पूर्व सोवियत संघ की लाल सेना ने अफ़ग़ानिस्तान पर अधिकार करके एक स्वतंत्र देश के विरुद्ध अपनी सबसे लम्बी कार्रवाई का आरंभ किया।1982  टाइम मैगजीन ने कम्प्यूटर को 'मैन आॅफ द ईयर' घोषित किया।
1982  टाइम मैगजीन का पुरस्कार, मैन ऑफ द ईयर पहली बार गैर-इंसान, कंप्यूटर के लिए दिया गया।1996  दक्षिण कोरिया के इतिहास में सबसे बड़ी हड़ताल शुरू हुई।
2004  रिक्टर पैमाने पर 9.3 की तीव्रता वाले भूकंप से आई सूनामी के कारण श्रीलंका, इंडिया, इंडोनेशिया, थाईलैंड, मलेशिया, मालदीव और आस पास के क्षेत्रों में भारी तबाही हुई और 2,30,000 लोगों की मौत हुई।2006  ऑस्ट्रेलिया के महान लेग स्पिनर शेन वार्न ने अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट में 700 विकेट लेकर इतिहास रचा।
2012  चीन की राजधानी बीजिंग से ग्वांग्झू शहर तक बनाए गए दुनिया के सबसे लंबे हाई स्पीड़ रेलमार्ग को खोला गया।
💐🎂💐🎂💐🎂@💐🎂💐🎂💐🎂💐🎂
   
    💐 (D)  आज के दिन 26 दिसम्बर को जन्मे  महत्त्वपूर्ण प्रसिद्ध व्यक्ति -💐 
 1893 चीन के प्रसिद्ध राजनीतिज्ञ  माओ ज़ेडॉन्ग का जन्म आज ही के दिन हुआ।
1899 भारत  के  स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व.उधम सिंह का जन्म आज ही के दिन हुआ।
1914  भारत के प्रसिद्ध  सामाजिक कार्यकर्ता एवम समाजसेवीश्री बाबा आमटे का जन्मआज हीदिनहुआ।
1957  कनाडा के  प्रसिद्ध अभिनेता एंड्रयू लेसली का जन्म आज ही के दिन हुआ। 
💐🎂💐🎂💐🎂💐@💐🎂💐🎂💐🎂💐


 💐( E)आज के दिन 26 दिसम्बर को महत्वपुर्ण व्यक्तियों  की मृत्यु💐 
 
1530   भारत के पूर्व शासक बाबर का निधन आज 
             ही के दिन हुआ।
1966    भारत   के प्रसिद्ध  राजनीतिज्ञ  गोपी चाँद       
              भार्गव का निधन आज ही के दिन हुआ।
 1999   भारत   के प्रसिद्ध  राजनीतिज्ञ  डॉक्टर     
             शंकरदयाल  शर्मा का निधन आज ही के     
              दिन हुआ
2011   भारत   के प्रसिद्ध  राजनीतिज्ञ  एस. बंगारप्पा 
            का निधन आज ही के दिन हुआ
💐🎂💐🎂💐🎂@💐🎂💐🎂💐🎂💐🎂
                  (F) आज के दिवस का नाम
1.  स्वतंत्रता संग्राम सेनानी उधमसिंह जन्मदिवस
2.  डॉ शंकरदयाल शर्मा पुण्यतिथि दिवस
3.  आज  सूर्य ग्रहण अमावस्या का दिन
💐🎂💐🎂💐🎂💐🎂@💐🎂💐🎂💐🎂
    आज की बात -आपके साथ" मे आज इतना ही।कल पुन:मुलाकात होगी तब तक के लिये इजाजत दिजीये।
      आज जन्म लिये  सभी  व्यक्तियोंको आज के दिन की बधाई। आज जिनका परिणय दिवस हो उनको भी हार्दिक बधाई।  बाबा महाकाल से निवेदन है की बाबा आप सभी को स्वस्थ्य,व्यस्त मस्त रखे।
💐।जय चित्रांश।💐
💐जय महाकाल,बोले सो निहाल।💐
💐जय हिंद जय भारत💐


  💐निवेदक;-💐