आज की बात आपके साथ - विजय निगम


प्रिय साथियो। 
💐राम-राम ,💐
💐 नमस्ते💐।


आज की बात आपके साथ मे आप सभी साथीयों का 
दिनांक   29दिसंबर 2019  रविवार की प्रातः की बेला में हार्दिक वंदन है अभिनन्दन है।


💐🎂#💐🎂💐@🎂💐🎂@💐💐💐@💐


आज की बात आपके साथ  अंक मे है ।


              A कुछ रोचक समाचार 
B आज के दिन जन्मे.सुप्रसिद्ध अभिनेता सुपर स्टार स्व.राजेश खन्ना का जीवन परिचय  लेख. ।
Cआज के दिन 29 दिसम्बर की प्रमुख एतिहासिक घटनाएँ💐
D आज के दिन जन्म लिए महत्त्वपूर्ण व्यक्तित्व
E आज के निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व।
F आज का दिवस का नाम ।
💐🎂💐🎂💐🎂@💐🎂💐🎂@💐🎂💐
            A कुछ रोचक समाचार 
  💐(A/1)मुंबई के उपनगर साकीनाका इलाके में शुक्रवार  शाम को लगी आग, हुई दो लोगों की मौत💐
💐A/2 बिजली चोरों की अब खैर नहीं! इस तरह से पकड़े जाएंगे चोर Tata ने बनाया खास प्लान।💐
💐(A/3)   स्नातकों के लिए सरकारी नौकरी का मौका, विद्युत सहायक के कई पद खाली💐
 💐(A/4)बॉलीवुड के सिंघम स्टार अजय देवगन 'तानाजी: द अनसंग वॉरियर' के बाद राजा सुहेलदेव पर आधारित फिल्म बनाने जा रहे💐
💐🎂💐🎂💐🎂@💐🎂💐🎂@💐🎂💐


(A/1)मुंबई के उपनगर साकीनाका इलाके में शुक्रवार    
         शाम को लगी आग, हुई दो लोगों की मौत
  💐मुंबई के उपनगर साकीनाका इलाके में शुक्रवार शाम लगी आग घंटों की मशक्कत के बाद बुझ गई, लेकिन इसमें दो लोगों की मौत हो गई। मृतकों की पहचान आरती लाजजी जायसवाल (25) और पीयूष धीरज (42) के रूप में हुई है।
जोन 10 के पुलिस उपायुक्त पीयूष गोयल ने बताया कि गोदाम में लगी भीषण आग पर शनिवार तड़के काबू पाया गया। आग बुझने के बाद जब दमकल कर्मी गोदाम के अंदर पहुंचे तो वहां दो शव बरामद हुए जो बुरी तरह जल चुके थे। शवों को पोस्टमार्टम के लिए राजावड़ी अस्पताल भेजा गया है। गोयल का कहना है कि आग लगने की इस घटना के बाद से कुछ लोग लापता हैं, जिनकी तलाश की जा रही है।
       इससे पहले डेप्युटी चीफ फायर ऑफिसर विजय कुमार पाणिग्रहि ने कहा था कि तीन लोग गायब हैं, जिनकी तलाश के लिए ऑपरेशन चलाया जा रहा है। यह आग शुक्रवार शाम पांच बजकर 35 मिनट पर लगी थी। आग की सूचना मिलने पर दमकल विभाग की 15 गाड़ियां मौके पर पहुंच गई थीं। इस भीषण आग की चपेट में 30 से 35 गोदाम और दुकान भी आ गए थे। आग को बुझाने के लिए मौके पर दमकल की नौ गाड़ियां पहुंची थी।
💐🎂💐🎂@💐🎂💐🎂💐🎂💐🎂💐🎂


💐A/2 बिजली चोरों की अब खैर नहीं! इस तरह से पकड़े जाएंगे चोर Tata ने बनाया खास प्लान।💐


दिल्ली में बिजली चोरी करने वाले लोगों अब आने वाली है आफत. दरअसल टाटा पावर डीडीएल की तरफ से दिल्ली में बिजली चोरी रोकने में ड्रोन का इस्तेमाल किया जाएगा.
दिल्ली में बिजली चोरी करने वाले लोगों अब आने वाली है आफत.। दरअसल टाटा पावर डीडीएल की तरफ से दिल्ली में बिजली चोरी रोकने में ड्रोन का इस्तेमाल किया जाएगा। इसके साथ ही बिजली के ट्रांसमिशन लाइन में कोई खराबी आने वाली होगी तो उसे पहले ही ड्रोन का कैमरा पकड़ जा सकेगा और उसे जल्द ठीक किया जा सकेगा।. ड्रोन दिल्ली के बिजली ट्रांसमिशन लाइन का मुआयना कर रहा है।
2 किलो के इस ड्रोन को आप टाटा पावर-डीडीएल का सबसे तेज तर्रार कर्मचारी मान सकते हैं।. कहीं किसी पेड़ की डाली ट्रांसमिशन लाइन को डिस्टर्ब कर रही है या कोई इंसूलेटर खराब हो चुका है।. ऐसी तमाम गड़बड़ियां ये अपने कैमरे में कैद करेगा।. समय पर इसकी सूचना मिल जाएगी तो कर्माचारी लाइन खराब होने से पहले ही खराबी दूर देंगे।.
इसकेसाथ ही ये ड्रोनमोहल्लों के ऊपर चक्कर लगाकर 
ये भी पता करेगा कि किन लोगों ने अपने घर में कटिया कनेक्शन बनारखा है।ड्रोन से मिलेतस्वीरें बिजली चोरी
के खिलाफ कोर्ट में बतौर सबूत भी पेश की जा सकती हैं.सरकार जिस तरीके से चौबीसों घंटे बिजली देने और बिजली कंपनियों का घाटा कम करने पर जोर दे रहीहै,
उसमें ड्रोन बड़ीभूमिका निभा सकता है।कंपनी केअधि
-कारियोंकोमानें,तोआनेवाले वक्तमे ड्रोन सर्विसबिजली 
चोरी पकड़ने में उपयोग आ सकती है. इससे बिजली कंपनियों की बड़ी बचत की जा सकेगी।
💐0💐🎂💐🎂💐@🎂💐🎂💐0💐🎂💐


💐(A/3)   स्नातकों के लिए सरकारी नौकरी का मौका, विद्युत सहायक के कई पद खाली💐


UGVCL Recruitment 2019 : उत्तर गुजरात विज कंपनी लिमिटेड (UGVCL) में कनिष्ठ सहायक के पदों पर भर्तियां होने जा रही हैं। इन पदों पर आवेदन करने की अंतिम तिथि 16 जनवरी, 2020 निर्धारित की गई है। कनिष्ठ सहायक के पदों पर आवेदन से संबंधी पूरी जानकारी के लिए उम्मीदवार को UGVCL की साइट सर्च कर।
पदों का विवरण :
पद का नाम :                             पदों की संख्या : 
विद्युत सहायक (कनिष्ठ सहायक)            478  
आयु सीमा :
उम्मीदवारों के लिए अधिकतम आयु 30 और 35 वर्ष निर्धारित की गई है।
शैक्षिक योग्यता :
उम्मीदवार शैक्षिक योग्यता से संबंधित अधिक जानकारी हेतु उक्त साइट देंखे। 
महत्वपूर्ण तिथियां : 
आवेदन पत्र जमा करने की प्रारंभिक तिथि अंतिम तिथि : 27 दिसंबर, 2019
आवेदन पत्र जमा करने की अंतिम तिथि : 16 जनवरी, 2020
💐#🎂💐@🎂💐🎂@💐🎂💐@🎂💐🎂


    💐(A/4)बॉलीवुड के सिंघम स्टार अजय देवगन 'तानाजी: द अनसंग वॉरियर' के बाद राजा सुहेलदेव पर आधारित फिल्म बनाने जा रहे💐


बॉलीवुड के सिंघम स्टार अजय देवगन 'तानाजी: द अनसंग वॉरियर' के बाद राजा सुहेलदेव पर आधारित फिल्म बनाने जा रहे हैं। अजय देवगन की हिस्टॉरिकल ड्रामा फिल्म 'तानाजी: द अनसंग वॉरियर' रिलीज होने जा रही है। इस फिल्म में वह मराठी योद्धा तानाजी मालसुरे के किरदार में नजर आएंगे। 
हालांकि यह इकलौती ऐसी फिल्म नहीं होगी जिसमें अजय ऐतिहासिक किरदार निभा रहे हैं। उन्होंने बताया कि इसके बाद वह एक अन्य फिल्म भी किसी ऐतिहासिक किरदार पर बनाने जा रहे हैं।
अजय देवगन ने बताया कि वह 'तानाजी' के मेकर्स के साथ अन्य ऐसे योद्धाओं पर फिल्म बनाने की योजना तैयार कर रहे हैं जिनका इतिहास में कहीं जिक्र नहीं किया गया है। उन्होंने कहा, 'हम अपने इतिहास के गुमनाम वीर योद्धाओं पर फ्रैंचाइज तैयार करेंगे। निर्देशक ओम राउत मेरे पास तानाजी मालसुरे की स्टोरी लेकर आए थे। इस फ्रैंचाइज को तैयार करने के लिए यह एक बेहतरीन कहानी है। ये कहानियां इन गुमनाम वीर योद्धाओं के राज्यों के बारे में होंगी। और ये राज्य केवल भारत के नहीं बल्कि पूरी दुनिया के होंगे।D
अजय देवगन ने इस बारे में बात करते हुए कुछ किरदारों के भी नाम लिए जिनपर उन्होंने भविष्य में फिल्म बनाने का फैसला लिया है। उन्होंने कहा, 'हमने कुछ नाम शॉर्टलिस्ट किए हैं लेकिन सबसे पहले हम अगली फिल्म राजा सुहेलदेव के ऊपर बनाएंगे। सुहेलदेव ने 11वीं सदी में मौहम्मद गजनी की सेना को बहराइच (उत्तर प्रदेश) में हराया था। गजनी ने सोमनाथ मंदिर को लूटकर उसे तोड़ दिया था। उसकी सेना को हराने के बाद सुहेलदेव ने मंदिर का दोबारा निर्माण कराया था। यह फिल्म अमीश त्रिपाठी की किताब पर आधारित होगी।
गपड  💐🎂💐🎂💐🎂💐🎂💐0💐🎂💐🎂💐


 💐(B/01) आज के दिन जन्मे हिंदी बॉलीवुड फिल्मों के  प्रसिद्ध अभिनेता सुपर स्टार स्व.राजेश खन्ना का जीवन परिचय 💐
    
                 💐  राजेश खन्ना💐


भारतीय फिल्म अभिनेता, निर्माता और निर्देशक
नाम:-राजेश खन्ना
जन्म: 29 दिसम्बर 1942
मृत्यु: 18 जुलाई 2012); भारतीय बॉलीवुड अभिनेता, निर्देशक व निर्माता थे।आपने कई हिन्दी फ़िल्में बनायीं और राजनीति में भी प्रवेश किया। वे नई दिल्ली लोक सभा सीट से पाँच वर्ष 1991-96 तक कांग्रेस पार्टी के सांसद रहे। बाद में उन्होंने राजनीति से सन्यास ले लिया।
प्रचलित नाम:-राजेश खन्ना
जन्मनाम:-     जतिन खन्ना
‛जन्मदिनांक;- 29 दिसम्बर 1942
जन्म स्थान :-   अमृतसर, ब्रिटिश 
भारतमृत्यु;-18 जुलाई 2012 :-मुंबई, भारत
:-व्यवसाय;-फिल्म अभिनेता व नि$र्माता ''राजनैतिक पार्टीभारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
जीवनसाथी;-डिम्पल कपाड़िया
बच्चे:-ट्विंकल , रिंकी


उन्होंने कुल 180 फ़िल्मों और 163 फीचर फ़िल्मों में काम किया, 128 फ़िल्मों में मुख्य भूमिका निभायी, 22 में दोहरी भूमिका के अतिरिक्त 17 छोटी फ़िल्मों में भी काम किया।व तीन साल 1969-71 के अंदर 15 सोलो  हिट फ़िल्मों में अभिनय करके बॉलीवुड का सुपरस्टार कहे जाने लगे। उन्हें फ़िल्मों में सर्वश्रेष्ठ अभिनय के लिये तीन बार फिल्म फेयर पुरस्कार मिला और 14 बार मनोनीत किया गया। बंगाल फ़िल्म जर्नलिस्ट एसोसिएशन द्वारा हिन्दी फ़िल्मों के सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार भी अधिकतम चार बार उनके ही नाम रहा और 25 बार मनोनीत किया गया।  2005 में उन्हें फ़िल्मफेयर का लाइफटाइम अचीवमेण्ट अवार्ड दिया गया। राजेश खन्ना हिन्दी सिनेमा के पहले सुपर स्टार थे।1966 में उन्होंने आखिरी खत नामक फ़िल्म से अपने अभिनय की शुरुआत की। राज़, बहारों के सपने, आखिरी खत - उनकी लगातार तीन कामयाब फ़िल्में रहीं और बहारों के सपने पूर्णतः असफल हुई। उन्होंने 1966-1991 में 74 स्वर्ण जयंती फ़िल्में की।  उन्होंने 1966-1991 में 22 रजत जयंती फ़िल्में किया। उन्होंने 1966-1996 में 9 सामान्य हिट फ़िल्म की। उन्होंने 1966-2013 में 163 फ़िल्म की और 105 हिट रही।
            💐 व्यक्तिगत जीवन💐
29 दिसम्बर 1942 को जतिन अरोरा नाम से जन्में बच्चे का पालन पोषण लीलावती चुन्नीलाल खन्ना ने किया था। जतिन के माता पिता भारत विभाजन के पश्चात पाकिस्तान से आकर अमृतसर में बस गये थे। खन्ना दम्पत्ति जो जतिन के वास्तविक माता-पिता के रिश्तेदार थे इस बच्चे को गोद ले लिया और पढ़ाया लिखाया। जतिन ने तब के बम्बई स्थित गिरगाँव के सेण्ट सेबेस्टियन हाई स्कूल में दाखिला लिया। उनके सहपाठी थे रवि कपूर जो आगे चलकर जितेन्द्र के नाम से फ़िल्म जगत में मशहूर हुए।
स्कूली शिक्षा के साथ साथ जतिन की रुचि नाटकों में अभिनय करने की भी थी अत: वे स्वाभाविक रूप से थियेटर की ओर उन्मुख हो गये। स्कूल में रहते हुए उन्होंने कुछ नाटक भी खेले। केवल इतना ही नहीं, कॉलेज के दिनों उन्होंने नाटक प्रतियोगिता में कई पुरस्कार भी जीते। थियेटर व फ़िल्मों के लिये काम खोजने वे उस समय भी अपनी स्पोर्टस कार में जाया करते थे। यह उन्नीस सौ साठ के आस पास का वाकया है।दोनों दोस्तों ने बाद में तत्कालीन बम्बई के के०सी० कॉलेज में भी एक साथ तालीम हासिल की। .[जतिन को राजेश खन्ना नाम उनके चाचा ने दिया था यही नाम बाद में उन्होंने फ़िल्मों में भी अपना लिया। यह भी एक हकीकत है कि जितेन्द्र को उनकी पहली फ़िल्म में ऑडीशन देने के लिये कैमरे के सामने बोलना राजेश ने ही सिखाया था। जितेन्द्र और उनकी पत्नी राजेश खन्ना को "काका" कहकर बुलाते थे।
राजेश खन्ना ने 1966 में पहली बार 23 साल की उम्र में "आखिरी खत"नामकफ़िल्म में काम कियाथा। इसके बाद राज़,बहारों के सपने,आखिरीखत -उनकी लगातार
 तीन कामयाब फ़िल्म किया। तब फिर बहारों के सपने पूर्णतःअसफल हुईलेकिनउन्हें असली कामयाबी1969 में आराधना से मिली जो उनकी पहली प्लेटिनम जयंती सुपरहिट फ़िल्म थी। आराधना के बाद हिन्दी फ़िल्मों के पहले सुपरस्टार का खिताब अपने नाम किया।फिर उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और लगातार 15 सोलो सुपरहिट फ़िल्में दी -आराधना,इत्त्फ़ाक़, दो रास्ते, बंधन, डोली, सफ़र, खामोशी, कटी पतंग, आन मिलो सजना, ट्रैन, आनन्द, सच्चा झूठा, दुश्मन, महबूब की मेंहदी, हाथीमेरे साथी।बहु कलाकार फ़िल्में 1969-72 की अंदाज़, मर्यादा सुपरहिट रही। मालिक पूर्णतः असफल रही।
              💐  पारिवारिक जीवन💐
1966-72 के दशक में एक फैशन डिजाइनर व अभिनेत्री अंजू महेन्द्रू से राजेश खन्ना का प्रेम प्रसंग चर्चा में रहा। बाद में उन्होंने डिम्पल कपाड़िया से मार्च 1973 में विधिवत विवाह कर लिया।विवाह के 8महीने 
बाद डिम्पल की फ़िल्म बॉबी रिलीज हुई। डिम्पल से उनको दो बेटियाँ हुईं। बॉबी की अपार लोकप्रियता ने डिम्पल को फ़िल्मों में अभिनय की ओर प्रेरित किया। बस यहीं से उनके वैवाहिक जीवन में दरार पैदा हुई जिसके चलते दोनों पति-पत्नी 1984 में अलग हो गये। फ़िल्मी कैरियर की दीवानगी ने उनके पारिवारिक जीवन को ध्वस्त कर दिया। कुछ दिनों तक अलग रहने के बाद दोनों में सम्बन्ध विच्छेद हो गया। 1984-1987 में एक अन्य अभिनेत्री टीना मुनीम के साथ राजेश खन्ना का रोमांस उसके विदेश चले जाने तक चलता रहा।काफी दिनों तक अलहदा रहने के बाद, 1990 में डिम्पल और राजेश में एक साथ रहने की पारस्परिक सहमति बनती दिखायी दी। रिपोर्टर दिनेश रहेजा के अनुसार उन दोनों में कटुता समाप्त होने लगी थी और दोनों एक साथ पार्टियों में शरीक होने लगे। यही नहीं, डिम्पल ने लोक सभा चुनाव में राजेश खन्ना के लिये वोट माँगे और उनकी एक फ़िल्म जय शिवशंकर में काम भी किया।1990 से 2012 तक साथ मे दोनों त्यौहार मनाते थे| दोनों की पहली बेटी ट्विंकल खन्ना एक फ़िल्म अभिनेत्री है। उसका विवाह फ़िल्म अभिनेता अक्षय कुमार से हुआ। दूसरी बेटी रिंकी खन्ना भी हिन्दी फ़िल्मों की अदाकारा है। उसका विवाह लन्दन के एक बैंकर समीर शरण से हुआ।
                 💐   फिल्मी सफ़र💐
उन्होंने 1969-72 में लगातार 15 solo सुपरहिट फ़िल्में दी - आराधना, इत्त्फ़ाक़, दो रास्ते, बंधन, डोली, सफ़र, खामोशी, कटी पतंग, आन मिलो सजना, ट्रैन, आनन्द, सच्चा झूठा, दुश्मन, महबूब की मेंहदी, हाथी मेरे साथी। बहुकलाकार फ़िल्में 1969-72 की अंदाज़, मर्यादा सुपरहिट रही। मालिक पूर्णतः असफल रही। बाद के दिनों में 1972-1975 तक अमर प्रेम, दिल दौलत दुनिया, जोरू का गुलाम, शहज़ादा, बावर्ची, मेरे जीवन साथी, अपना देश, अनुराग, दाग, नमक हराम, अविष्कार, अज़नबी, प्रेम नगर, रोटी, आप की कसम और प्रेम कहानी जैसी फ़िल्में भी कामयाब रहीं। मगर उन के लिए 1976-78 खराब काल रहा क्योँकि 7 critically acclaimed (साधुवाद) फ़िल्में- महबूबा, त्याग, पलकों की छाँव में, नौकरी, जनता हवलदार, चक्रव्यूह, bundalbaaz असफल रही। 1976-78 में महा चोर, छलिया बाबू, अनुरोध, भोला भाला, कर्म कामयाब रही। उन्होंने 1979 में वापसी की अमर दीप के साथ। उन्होंने 1980-1991 तक बहुत सारे सफल फ़िल्में दि। 1979-1991 के सफल सिनेमा के नाम - अमर दीप, प्रेम बंधन, थोड़ी सी बेवफाई, आँचल, फ़िर वही रात, बंदिश, कुदरत, दर्द, धनवान, अशान्ति, पचास-पचास, जानवर, धर्म काँटा, सुराग, राजपूत, दिल-e-नादान, जानवर, निशान, सौतन, अगर तुम ना होते, अवतार, नया कदम, आज का एम एल ए राम अवतार, मकसद, धर्म और कानून, आवाज़, आशा ज्योति, पापी पेट का सवाल, मास्टर जी, बेवफ़ाई, बाबू, हम दोनों, ज़माना, आखिर क्यों?, शत्रु, अधिकार, नसीहत, अंगारे, अनोखा रिश्ता, अमृत, आवाम, नज़राना, पाप का अंत, घर का चिराग, स्वर्ग, घर-परिवार। 1991 के बाद राजेश खन्ना का दौर खत्म होने लगा। बाद में वे राजनीति में आये और 1991 वे नई दिल्ली से कांग्रेस की टिकट पर संसद सदस्य चुने गये। 1994 में उन्होंने एक बार फिर खुदाई फ़िल्म से परदे पर वापसी की कोशिश की। 1996 में उन्होंने सफ़ल फ़िल्म सौतेला भाई कि। आ अब लौट चलें, क्या दिल ने कहा, प्यार ज़िन्दगी है, वफा जैसी फ़िल्मों में उन्होंने अभिनय किया लेकिन इन फ़िल्मों को कोई खास सफलता नहीं मिली। कुल उन्होंने 1966-2013 में 117 स्रावित फ़िल्म as a lead hero कि और 117 में 91 हिट रही। कुल उन्होंने 1966-2013 में 163 फ़िल्म कि और 105 हिट रही।
                    💐 मुमताज़ का साथ💐
राजेश खन्ना ने मुमताज़ के साथ आठ फ़िल्मों में काम किया और ये सभी फ़िल्में सुपरहिट हुईं। राजेश और मुमताज़ दोनों के बँगले मुम्बई में पास पास थे अत: चित्रपट के रुपहले पर्दे पर साथ साथ काम करने में दोनों की अच्छी पटरी बैठी। जब राजेश ने डिम्पल के साथ शादी कर ली तब कहीं जाकर मुमताज़ ने भी उस जमाने के अरबपति मयूर माधवानी के साथ विवाह करने का निश्चय किया। 1974 में मुमताज़ ने अपनी शादी के बाद भी राजेश के साथ आप की कसम, रोटी और प्रेम कहानी जैसी तीन फ़िल्में पूरी कीं और उसके बाद फ़िल्मों से हमेशा हमेशा के लिये सन्यास ले लिया। यही नहीं मुमताज़ ने बम्बई को भी अलविदा कह दिया और अपने पति के साथ विदेश में जाकर बस गयी। इससे राजेश खन्ना को जबर्दस्त आघात लगा।
        💐अन्तिम दिनों में ख़राब स्वास्थ्य💐
जून 2012 में यह सूचना आयी कि राजेश खन्ना पिछले कुछ दिनों से काफी अस्वस्थ चल रहे हैं। 23 जून 2012 को उन्हें स्वास्थ्य सम्बन्धी जटिल रोगों के उपचार हेतु लीलावती अस्पताल ले जाया गया जहाँ सघन चिकित्सा कक्ष में उनका उपचार चला और वे वहाँ से 8 जुलाई 2012 को डिस्चार्ज हो गये। उस समय "वे पूर्ण स्वस्थ हैं", ऐसी रिपोर्ट दी गयी थी। 14 जुलाई 2012 को उन्हें मुम्बई के लीलावती अस्पताल में पुन: भर्ती कराया गया। उनकी पत्नी डिम्पल ने मीडिया को बतलाया कि उन्हें निम्न रक्तचाप है और वे अत्यधिक कमजोरी महसूस कर रहे हैं।
अन्तत: 18 जुलाई 2012 को यह खबर प्रसारित हुई कि सुपरस्टार राजेश खन्ना नहीं रहे।
     💐💐 शव यात्रा व दाह संस्कार💐💐
     राजेश खन्ना के पार्थिव शरीर की अन्तिम यात्रा
जैसे ही मीडिया पर देश के पहले सुपरस्टार के निधन का समाचार आया उनके बान्द्रा स्थित आशीर्वाद बँगले के बाहर प्रशंसकों की भीड़ जुटनी शुरू हो गयी। उसे नियन्त्रित करने के लिये पुलिस व सुरक्षा गार्डों की सहायता ली गयी। अगले दिन 19 जुलाई को विले पार्ले के पवन हंस शवदाह गृह में उनका अन्तिम संस्कार किया गया। भारी वर्षा व ट्रेफिक जाम होने के बावजूद लोग पैदल चलकर श्मशान घाट तक पहुँचे। पचहत्तर वर्षीय फ़िल्म अभिनेता निर्देशक मनोज कुमार, फ़िल्मस्टार अमिताभ बच्चन तथा उनके पुत्र अभिषेक बच्चन काका की अन्तिम यात्रा में शरीक होने वालों में प्रमुख थे। उनकी चिता को मुखाग्नि अक्षय कुमार की सहायता से उनके नौ वर्षीय नाती आरव ने दी।
                💐  संवेदना व श्रद्धांजलियाँ💐
राजेश खन्ना की मृत्यु पर वालीवुड अभिनेत्री हेमा मालिनी ने कहा-"हम सोच रहे थे कि वे अस्पताल से स्वस्थ होकर लौटेंगे लेकिन उनकी मृत्यु की खबर से हमें जबर्दस्त धक्का लगा।" उनके दामाद अक्षय कुमार ने कहा कि उन्हें स्वर्ग में शान्तिपूर्ण व सम्मानजनक स्थान मिले इसके लिये आप सब प्रार्थना कीजिये। उनके घर जाकर शोक व्यक्त करने वालों में ऋषि कपूर, प्रेम चोपड़ा व साजिद खान भी शामिल थे।[शाहरुख खान ने ट्वीटर पर लिखा-"जीना क्या होता है कोई काका से सीखे जिन्होंने फिल्म जगत के एक युग का प्रतिनिधित्व किया। अपने जमाने की मशहूर अदाकारा मुमताज़, फिल्म अभिनेता शाहिद कपूर, फिल्म निर्माता सुभाष घई, नृत्यांगना व अभिनेत्री वैजयन्ती माला एवं माधुरी दीक्षित ने भी उन्हें शब्द सुमन अर्पित किये। पार्श्वगायक मन्ना डे ने कहा-"इसमें कोई शक नहीं कि वे सुपर स्टार थे मुझे इस बात का गौरव है कि मैंने उनकी फिल्मों में अपना स्वर दिया।"[ मृणाल सेन ने इस बात पर दुख व्यक्त किया कि वे राजेश खन्ना को लेकर उनकी व्यस्तता के चलते कोई फ़िल्म नहीं बना सके। बुद्धदेव दास गुप्त ने कहा-"राजेश खन्ना अमिताभ बच्चन से भी दो कदम आगे थे क्योंकि अमिताभ ने उनसे बहुत कुछ सीखा। आने वाली युवा नस्लें उनसे प्रेरणा लेंगी।" ऋतुपर्ण घोष ने आनन्द फ़िल्म में बोले गये "बाबू मोशाय" को शिद्दत से याद किया। फ़िल्म इतिहासकार एसएमएम औसजा ने कहा-"साठ व सत्तर के दशक में उन्होंने अपने समय के चोटी के निर्माता निर्देशकों के साथ काम किया और उन सबके ऊपर अपने अभिनय की छाप छोड़ी। यद्यपि उन्होंने किसी भी बँगला फिल्म में काम नहीं किया फिर भी धोती कुर्ते में उनकी छवि देखकर कोई भी बंगाली उनसे प्रभावित हुए बगैर नहीं रह सकता।"
राजनीतिक हलकों से भी उन्हें अपार श्रद्धांजलियाँ दी गयीं जिनमें प्रधान मन्त्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गान्धी, पश्चिम बंगाल की मुख्य मन्त्री ममता बनर्जी, बिहार के मुख्य मन्त्री नीतीश कुमार, गुजरात के मुख्य मन्त्री नरेन्द्र मोदी आदि के नाम प्रमुख हैं।इतना ही नहीं पाकिस्तान के प्रधान मन्त्री रजा परवेज़ अशरफ़ सहित अन्य हस्तियों जैसे अली जफर व सैयद नूर ने भी उन्हें अपनी शाब्दिक श्रद्धांजलि अर्पित की।
                    💐   प्रमुख फिल्में💐
                💐 सम्मान एवं पुरस्कार💐
राजेश खन्ना को फ़िल्मफेयर पुरस्कार के लिये चौदह बार तथा बंगाल फ़िल्म जर्नलिस्ट अवार्ड के लिये पच्चीस बार नामांकित किया गया। दोनों पुरस्कारों के लिये कुल उन्तालिस बार के नामांकन में उन्हें तीन बार फ़िल्मफेयर पुरस्कार एवं चार बार बंगाल फ़िल्म जर्नलिस्ट अवार्ड मिला। राजेश खन्ना को दस बार ऑल India critics पुरस्कार के लिये नामांकित किया गया और उन्हें सात बार अवार्ड मिला।
             💐  फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार💐
1975 - फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार - अविष्कार
1972 - फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार - आनन्द
1971 - फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार - सच्चा झूठा
💐🎂💐🎂💐🎂💐🎂@#💐🎂💐🎂@#


   (C)💐आज के दिन 29 दिसंबर की महत्त्वपूर्ण ऐतिहासिक घटनाएँ💐
1530 - मुग़ल शासक बाबर का बेटा हुमायूं उसका उत्तराधिकारी बना।
1778 - ब्रिटेन की सेना ने अमेरिकी राज्य जॉर्जिया पर कब्जा किया।
1845 - टेक्सास अमेरिका का 28वां राज्य बना।
1911 - सुन यात सेन को नए चीन गणतंत्र का राष्ट्रपति
 घोषित किया गया।
    मंगोलिया किंग वंश के शासन से आजाद हुआ।
1922 - नीदरलैंड ने संविधान अंगीकार किया।
1949 - यूरोपीय देश हंगरी में उद्योगों का राष्ट्रीयकरण किया गया।
1972 - अमेरिका में फ्लोरिडा राज्य के एवरग्लैड्स के समीप इस्टर्न त्रिस्टार जम्बो जेट विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने से 101 लोगों की मौत हुई।
  कलकत्ता मे मेट्रो रेल का काम शुरू हुआ।
क1975 - ब्रिटेन में महिलाओं और पुरुषों के समान अधिकारों से जुड़ा क़ानून लागू।
1977 - विश्व का सबसे बड़ा ओपन एयर थियेटर 'ड्राइव' बंबई (अब मुम्बई) में खुला।
1978 - स्पेन में संविधान प्रभाव में आया।
1980 - सोवियत संघ के पूर्व प्रधानमंत्री कोसिगिन का देहान्त।
1983 - भारतीय क्रिकेटर सुनील गावास्कर ने टेस्ट क्रिकेट में अधिकतम 236 रन वेस्टइंडीज के खिलाफ बनाये।
1984 - कांग्रेस ने स्वतंत्र भारत के इतिहास में सबसे भारी बहुमत से संसदीय चुनाव जीता था। इस चुनाव में 28 सीटें जीतकर तेलुगु देश में सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी के तौर पर उभरी।
1985 - श्रीलंका ने 43,000 भारतीयों को नागरिकता प्रदान की।
1988 - ऑस्ट्रेलिया में विक्टोरियाई पोस्ट ऑफिस संग्रहालय बंद हुआ।
1989!सिद्धार्थनगर ज़िला का निर्माण बस्ती ज़िले में किया गया था। नए ज़िले में बस्ती का उत्तरी भाग शामिल है।
1989 - वाक्लाव हाबेल 1948 के बाद पहली बार चेकोस्लोवाकिया के ग़ैर-साम्यवादी राष्ट्रपति चुने गये।
1996 - नाटो के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए एकत्र होकर कार्य करने के मुद्दे पर रूस एवं चीन में सहमति।
1998 - विश्व के पहले परमाणु बम बनाने वाले अमेरिकी वैज्ञानिक रेगर सक्रेबर का निधन।
2002 - पाकिस्तान पर्यटकों को भारत के तीन शहरों में घूमने की अनुमति।
2004 - सुनामी लहरों के कारण इंडोनेशिया में मरने वालों की संख्या 60,000 पहुँची।
2006 - चीन ने वर्ष 2006 में राष्ट्रीय रक्षा पर श्वेत पत्र जारी किया।
2008 - प्रसिद्ध चित्रकार मंजीत बाबा का निधन हो
गया।
2012 - पाकिस्तान में पेशावर के समीप आतंकवादियों के हमले में 21 सुरक्षाकर्मी मारे गये
💐🎂💐🎂@#💐🎂@#💐🎂@#💐@💐


 💐(D)आज के दिन जन्मे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व💐
        
 1844 - वोमेश चन्‍द्र बनर्जी, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रथम अध्यक्ष 
1881 - गिरिधर शर्मा चतुर्वेदी - प्रसिद्ध साहित्यकार थे।
1884 - डब्ल्यू सी बनर्जी - भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रथम अध्यक्ष का कलकत्ता(अब कोलकाता) के किदरपोर।
1904 - कुप्पाली वेंकटप्पा पुटप्पा - कन्नड़ भाषा के कवि व लेखक थे।
 1917 - रामानन्द सागर - प्रसिद्ध भारतीय फ़िल्म निर्देशक तथा ख्यातिप्राप्त धारावाहिक 'रामायण' के निर्माता।
1922- विलियम गैडेस, अमेरिकी लेखक (मृत्यु 1998)
1942- भारतीय बालीवुड सुपरस्टार  हिन्दी फ़िल्मों के प्रसिद्ध अभिनेता  राजेश खन्ना, 
1944 - वीरेन्द्र वीर विक्रम शाह - नेपाल के राजा और दक्षिण एशियाई नेता थे।
1948 - सुधीश पचौरी - प्रसिद्ध आलोचक, प्रमुख मीडिया विश्लेषक, साहित्यकार, स्तंभकार और वरिष्ठ मीडिया समीक्षक।
💐#🎂💐🎂💐🎂@#@#@💐🎂💐🎂💐


💐(E)आज के दिन निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व💐


1927 - हकीम अजमल ख़ाँ, राष्ट्रीय विचारधारा के समर्थक और यूनानी पद्धति के प्रसिद्ध चिकित्सक।
1967 - ओंकारनाथ ठाकुर- प्रसिद्ध शिक्षाशास्त्री, संगीतज्ञ एवं हिन्दुस्तानी शास्त्रीय गायक।
2008 - मंजीत बावा- प्रसिद्ध चित्रकार 
💐#🎂💐🎂💐🎂💐@#@#@💐🎂💐🎂


        💐(F) आज के दिवस का नाम💐


  ( F/1)  अमेरिकन क्रांतिकारी युद्ध प्रारम्भ दिवस 
   (F/2)   मंगोलिया देश का स्वतंत्रता दिवस
   (F/3)  प्रसिद्ध अभिनेता राजेश खन्ना जयंती दिवस
   (F/4). ओमकारनाथ ठाकुर पुण्यतिथि दिवस


 💐🎂#💐🎂💐🎂@#@#💐🎂#💐🎂💐    


    आज की बात -आपके साथ" मे आज इतना ही।कल पुन:मुलाकात होगी तब तक के लिये इजाजत दिजीये।
      आज जन्म लिये  सभी  व्यक्तियोंको आज के दिन की बधाई। आज जिनका परिणय दिवस हो उनको भी हार्दिक बधाई।  बाबा महाकाल से निवेदन है की बाबा आप सभी को स्वस्थ्य,व्यस्त मस्त रखे।


💐।जय चित्रांश।💐
💐जय महाकाल,बोले सो निहाल।💐
💐जय हिंद जय भारत💐


 💐 निवेदक;-💐


 💐  चित्रांश ;-विजय निगम।💐


Popular posts
ऑटो पार्ट रिटेलर्स और वर्कशाप की दिक्कतें अब दूर हुईं; ऑटोमोबाइल सर्विस प्रोवाइडर गोमैकेनिक ने वापी में नया स्पेयर पार्ट्स फ्रैंचाइज़ी आउटलेट शुरू किया
Image
“कॉमेडी मेरे लिए एक नया क्षेत्र है” : मनोज बाजपेयी
Image
पियाजियो व्ही।कल्सऔ ने जयपुर में राजस्था न के अपनी तरह के पहले इलेक्ट्रिक व्हीजकल (ईवी) एक्सेपीरियेंस सेंटर का उद्घघाटन किया
Image
महाकाल दर्शन हेतु महाकाल एप्प की लिंक एवं वेब साइट
Image
देश की एम्प्लॉयी फ्रेंडली कंपनी में शुमार हुआ पीआर 24x7; फीमेल स्टाफ के मासिक धर्म के लिए उठाया सार्थक कदम
Image