आज की बात आपके साथ - विजय निगम

 


प्रिय साथियो। 
🌹राम-राम🌹 
🌻 नमस्ते।🌻


आज की बात आपके साथ मे आप सभी साथीयों का दिनांक 06 अप्रैल 2020  सोमवार  की प्रातः की बेला में हार्दिक वंदन है अभिनन्दन है।
🌻💐🌹🌲🌱🌸🌻💐🌸💮🌸🌻


आज की बात आपके साथ  अंक मे है 


A कुछ रोचक समाचार
B आज के दिन जन्मी प्रसिद्ध भारतीय फिल्म अभिनेत्री सुचित्रा सेन का जीवन परिचय लेख. 
C आज के दिन   की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ
D आज के दिन जन्म लिए महत्त्वपूर्ण    
    व्यक्तित्व
E आज के निधन हुवे महत्वपूर्ण व्यक्तित्व।
F आज का दिवस का नाम ।
🌻🥀🌲💐🌱🍁🔆⚘💮🔆🌲🌻
 
🌻(A)कुछ रोचक समाचार(संक्षिप्त)🌻
 (A/1)कोरोना संकट के बीच मनी ‘दिवाली’, PM मोदी की अपील पर देश भर में 9 मिनट को जले दीया-बत्ती, बजे शंख और फूटे पटाखे🌻।
🌻(A/3)  कोरोना के सम्बंध मे 450 साल पहले ही  की भविष्यवाणी हो चुकी थी,इस किताब में लिखा है 2020 में होगी बर्बादी🌻।
🌻(A/4)A/4)Ramayan: अब इस दुनिया में नहीं हैं रामायण के 'भरत' संजय जोग, पहले मिला था लक्ष्मण का रोल🌻    
🌻💐🌸💮🏵🌹🥀🌴🌱⚘🌷🌻
 
🌻(A) कुछ रोचक समाचार(विस्तृत)🌻


🌻(A/1)कोरोना संकट के बीच मनी ‘दिवाली’, PM मोदी की अपील पर देश भर में 9 मिनट को जले दीया-बत्ती, बजे शंख और फूटे पटाखे🌻।
राजधानी दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी ने भी अपने आवास पर बत्तियां बुझाकर रात नौ बजे दीया जलाए। उनके अलावा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उनके परिवार के सदस्यों ने भी रात नौ बजे एकजुटता और सकारात्मकता दर्शाने के लिए मोमबत्तियां जलाईं।
कोरोना के खिलाफ भारतवासियों की जंग को लेकर रविवार रात नौ बजे खुद प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी दीया और मोमबत्ती जलाए।
COVID-19 संकट और Lockdown के बीच रविवार (पांच अप्रैल, 2020) को देश के विभिन्न हिस्सों में दिवाली जैसा माहौल रहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर लोगों ने दीया-बाती जलाए। नौ मिनट तक घर की बत्तियां बुझाकर टॉर्च और मोबाइल की फ्लैशलाइट ऑन कर एकजुटता, सकारात्मकता और दृढ़ संकल्प का संदेश दिया।
वैसे, कुछ इलाकों में लोगों ने शंख बजाए, जबकि कई जगहों पर लोगों ने पटाखे भी फोड़े। हालांकि, पीएम ने ऐसा करने के लिए नहीं कहा था। कुछ जगह तो साढ़े आठ बजे से ही लोग बत्तियां बुझाकर दीप और मोमबत्तियां जलाने के इंतजार में थे, जबकि कई जगह रात नौ बजे से पहले ही लोगों ने घर की बाल्कनियों, छज्जों, खिड़कियों और गेट के बाहर दीप जलाए।
इसी बीच, राजधानी दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी ने भी अपने आवास पर बत्तियां बुझाकर रात नौ बजे दीया जलाया। उनके अलावा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उनके परिवार के सदस्यों ने भी रात नौ बजे एकजुटता और सकारात्मकता दर्शाने के लिए मोमबत्तियां जलाईं।
पीएम और राष्ट्रपति के अलावा उप राष्ट्रपति एम वैंकेया नायडू, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, स्वास्थ्य मंत्री डॉ.हर्षवर्धन, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, पीएम मोदी की मां हीराबेन, लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, बीजेपी चीफ जेपी नड्डा, प.बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनगड़, तेलंगाना सीएम के.चंद्रशेखर राव,  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, असम के सीएम सर्बानंद सोनेवाल और जाने-माने कारोबारी मुकेश अंबानी व उनकी पत्नी नीता अंबानी ने भी दीया और मोमबत्तियां जलाईं।
🌻🥀🌾💐🌲🌴🌱🍁🔆⚘💮🌻
🌻(A/2)कोरोना का अंधकार मिटाने के लिए आज दीप जलाएगा देश, PM मोदी ने की थी अपील🌻
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश वीडियो संदेश में कहा था कि कोरोना के अंधकार को प्रकाश की ताकत से हराने की जरूरत है. इसके लिए प्रधानमंत्री ने लोगों से रविवार को रात नौ बजे नौ मिनट तक दीया जलाने की अपील की.
देशमें कोरोना वायरस का संकट बढ़ता जा 
रहा है.संकट के इस वक्त में प्रधानमंत्रीनरेंद्र
मोदी ने देशवासियों से एकजुटता कासंदेश
देने के लिए 5 अप्रैल को लाइटें बंद रखने का आह्वानकिया.ऐसे में देश की जनताभी आज रात दीया,मोमबत्तीऔर मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाकर एकजुटतादिखाने को तैयार है।.
कोरोना संकट के चलते देश में 21 दिनों तक लागू किए गए लॉकडाउन के दौरान शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को वीडियो संदेश दिया था. प्रधानमंत्री ने देशवासियों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना के अंधकार को प्रकाश की ताकत से हराने की जरूरत है.इसके लिएPM ने  लोगों से रविवार को रात नौ बजे नौ मिनट तक दीया जलाने की अपील की, इसका मकसद एकजुटता का संदेश देने से है.
कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपील की थी कि 5 अप्रैल रविवार को रात नौ बजे नौ मिनट के लिए लोग अपने घरों की लाइटें बंद करें औरदरवाजे-खिड़की पर खड़े होकर दीया, मोमबत्तीजलाएं या फिर मोबाइल कीफ्लैश
लाइट-टॉर्च से रोशनी करेंइस शक्तिकेजरिए हम ये संदेश देना चाहते हैं किदेशवासीएक
जुट हैं. पीएम ने कहा कि एकजुटता केदम
पर ही इस महामारी को मात दी जा सकती है.
🌻ग्रिडकेसंतुलन के लिए पर्याप्तउपाय🌻
हालांकि ऐसी आशंका जताई जा रही थी कि एक ही समय में एक साथ लाइटें बंद होने और 9 मिनट बाद फिर से चालू होने से बिजली ग्रिड में परेशानी आ सकती है. इस मामले पर केंद्रीय ऊर्जा मंत्रालय का कहना है कि ग्रिड के संतुलन के लिए पर्याप्त उपाय किए गए हैं.
साथ ही ऊर्जा मंत्रालय ने स्पष्ट किया है कि स्ट्रीट लाइट बंद नहीं की जाएंगी. घरों के अन्य उपकरण बंद करने की जरूरत नहीं है. एसी, टीवी, फ्रिज इन सब को बंद करने की आवश्यकता नहीं है. केवल लाइट ही बंद करनी हैअस्पतालोंऔर अन्यआवश्यक
जगहों पर लाइटें जलती रहेंगी.


जनता कर्फ्यू पर थाली बजाने का किया था आह्वानइससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता कर्फ्यू का आह्वान किया था.। पीएम मोदी ने अपील की थी कि 22 मार्च कोजनता कर्फ्यू के दिन शाम कोपांच
बजे कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ रहे कोरोना कमांडोज के लिए थाली जरूर बजाएं.उस दौरान भी पूरे देश ने एकजुटता
 दिखाई थी और कोरोना कमांडोज के लिए ताली-थाली बजाई।
🌻🥀🌾💐🌲🌴🌱🍁🔆⚘💮🌻
🌻(A/3)450 साल पहले ही कोरोना की भविष्यवाणी हो चुकी थी,इस किताब में लिखा है 2020 में होगी बर्बादी🌻।
चीन से निकला जानलेवा कोरोनानेअबपूरी
दुनिया कोजकड़ लिया हैऔरअब तक 
5 लाख से ज्यादा इसके पॉजिटिव केस आ चुके है।.वहीं इस खतरनाक बीमारी के कारण लगभग 20,000 लोग अपनी जान गवां चुके है।.लेकिन आज हम आपको एक ऐसी जानकारी के बारे में बताने जा रहे है जिसके बारे में शायद ही आप जानते होंगे।दरअसल फ़्राँस के महान
ज्योतिषी औरभविष्यवाणी के वक्ता नास्त्रे
दमस ने कहा था की साल 2020 में एक महामारी दुनिया को अपने चपेट में ले लेगी।.इसके साथ ही उन्होंने इस बात का भी खुलासा किया था की साल 2020 के अंत तक तृतीय विश्व युद्ध हो सकता है। और दुनियाभर के देश आपस में लड़कर अपनी बर्बादी का कारण बनेंगे।.इस प्रकार
नास्त्रेदमस ने साल 2020 को बर्बादी का साल बताया था जिसकी शुरूआत अब हो चुकी है।.इसके अलावा एक और जानकार डीन कोंटज़ ने भी अपनी किताब में इस बात का उल्लेख किया था की समुद्रकिनारे
बसे शहर से एक वायरस फैलेगा।.हालांकि
चीन का वुहान शहरभी एक नदी केकिनारे
 ही बसा है जहां से कोरोना की शुरूआत हुई है.।कई रिसर्च भी ऐसा बताते है की नास्त्रेदमस द्वारा किये गए अब तक की ज्यादातर भविष्यवाणी सच हो चुकी है.।बीते सालऑस्ट्रेलियाऔरअमेज़न केजंगलों
में जो आग लगी और उससे तबाही हुई थी ।उसके भी कई सूत्र किताब में मिले थे जो सच हुए।यानि की कोरोना पर नास्त्रेदमस कीकिताबसच साबित हुई है जोअबदुनिया में तबाही मचा रही है।.हालां कि  इसके उपाय और इससे लड़ने की कोई तरकीब नहीं बताई गई है,लेकिन ऐसा जरूर कहा गया है की ये सभी आपदाएं कुछ ही दिनों में समाप्तभीहोजाएगीऔर लोगों का जन
जीवन सहज हो जाएगा.लेकिन इसकेलिए 
कई लाख लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ेगा और ऐसा ही देखने को मिला 
🌻🥀🌾💐🌲🌴🌱🍁🔆⚘💮🌻
🌻(A/4)Ramayan: अब इस दुनिया में नहीं हैं रामायण के 'भरत' संजय जोग, पहले मिला था लक्ष्मण का रोल🌻
रामानंद सागर का धारावाहिक रामायण एक बार फिर दूरदर्शन पर टेलिकास्ट हो रहा है। इस सीरियल में भरत का किरदार संजय जोग ने निभाया था। जानिए संजय के बारे में खास बातें...
रामानंद सागर का रामायण एक बार फिर दूरदर्शन पर टेलिकास्ट हो रहा है।
रामायण में भरत का किरदार एक्टर संजय जोग ने निभाया था।
संजय जोग अब इस दुनिया में नहीं हैं।
मुंबई रामानंद सागर का एतिहासिक शो रामायण दूरदर्शन पर एक बार फिर प्रसारित हो गया है। साल 1987 में प्रसारित हुए इस शो ने अरुण गोविल को भगवान राम, दीपिका चिखलाखिया को मां सीता और सुनील लहारी को लक्ष्मण के किरादार से अमर बना दिया था। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि रामायण में भरत का किरदार निभाने वाले एक्टर इस दुनिया  में नहीं हैं।  
🌻भरत का किरदार मे संजय जोग🌻
संजय जोग ने भारत का किरदार निभाया था। संजय जोग की मृत्यु 27 नवंबर1995 को लीवर फेल होने के कारण हुई थी। संजय रामायण के अलावा मराठी फिल्मों के भी पॉपुलर एक्टर थे। संजय एक्टर नहीं एयरफोर्स में पायलट बनना चाहते थे। हालांकि, 1971 भारत-पाक युद्ध में एक रिश्तेदार की मौत के बाद उन्हें घरवालों ने रोक दिया। 
संजय जोग ने मुंबई के एलफिस्टन कॉलेज से ग्रेजुएशन किया है। इसके बाद उन्होंने फिल्माया स्टूडियो से एक्टिंग का कोर्स किया था। इस दौरान उन्हें मराठी फिल्म सापला में लीड रोल मिल गया था।  संजय ने एक इंटरव्यू में बताया था कि वह मुंबई हीरो बनने के लिए नहीं आए थे। 
    🌻ऐसे मिला था भरत का रोल🌻
संजय ने एक इंटरव्यू में संजय जोग ने बताया था कि उन्होंने गुजराती फिल्म माया बाजार में अभिमन्यु का रोल निभाया था। इस फिल्म के मेकअप मैन गोपाल दादा थे। गोपाल दादा रामायण के भी मेकअप डिपार्टमेंट को देख रहे थे। 
गोपाल दादा ने संजय जोग को रामानंद सागर से मिलने के लिए कहा। रामानंद सागर ने पहले उन्हें लक्ष्मण का किरदार ऑफर किया। हालांकि, बिजी शेड्यूल के कारण उन्होंने मना कर दिया था। इसके बाद भरत का किरदार निभाया था।
🌻🥀🌾💐🌲🌴🌱🍁🔆⚘💮🌻


🌻(B)प्रसिद्ध भारतीय फिल्म अभिनेत्री सुचित्रा सेन का जीवन परिचय लेख🌻
सुचित्रा सेन (जन्म: 6 अप्रैल 1931मृत्यू - 17जनवरी2014) 
सुचित्रा सेन हिन्दी एवं बांग्ला फिल्मों की एक अभिनेत्री थीं। वह मुनमुन सेन की माँ थी।
 बिमल रॉय की फ़िल्म देवदास (1955) में पारो की भूमिका में सुचित्रा सेन ने भुमिका निभाई थी।
जन्मनाम :-    रामादासगुप्ता
जन्मतिथि:-6 अप्रैल 1931 (आयु 88)
जन्मस्थान:-पबना, बंगाल प्रान्त, ब्रितानी भारत 
मृत्यु:- 17 जनवरी  2014
मृत्यूस्थल:-कोलकाता
राष्ट्रीयता:-भारतीय 
जाती:-बंगालीधार्मिक मान्यता:-हिन्दू
जीवनसाथी:-दिबानाथ सेन
पुरस्कार:-1963-मास्को फ़िल्म महोत्सव में सप्तपदी के लिए सर्वश्रेष्ठ
विशेषकर:- उत्तम कुमार के साथ अभिनय करने के कारण वे सारे बंगाल में अत्यन्त जनप्रिय हुईं। उत्तम-सुचित्रा की जोड़ी आज भी बांग्ला चलचित्र की सर्वश्रेष्ठ जोड़ी मानी जाती है।
वे प्रथम भारतीय अभिनेत्री हैं जिनको किसी अन्तर्राष्ट्रीय चलचित्र महोत्सव में पुरस्कार प्रदान किया गया (श्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार - 'सात पाके बाँधा' 1963 के लिए, मास्को चलचित्र उत्सव)।
               🌻प्रमुख फिल्में🌻
सुचित्रा सेन ने केवल चार हिन्दी फ़िल्मों में अभिनय किया है जो नीचे दी गयी हैं:-
वर्ष       फ़िल्म           चरित्र         टिप्पणी 1955 देवदास     पारो     1 हिन्दी फ़िल्म
1960 बम्बई का             2  हिन्दी फिल्म 
         बाबू          माया 
1966 ममतादेव पन्नाबाई/सुपर्णा 
                                     3 हिन्दी फिल्म


1975  आँधी  आरती देवी 4 हिन्दी फ़िल्म


साड़े चुयात्तर (1953)
ओरा थाके ओधारे (1954)
अग्निपरीक्षा 1954)
शापमोचन (1955)
सबार उपरे (1955)
सागरिका (1956)
पथे हल देरि (1957)
हारानो सुर (1957)
दीप ज्बेले याइ (1959)
सप्तपदी (1961)
बिपाशा (1962)
चाओया-पाओया(1962)
सात-पाके बाँधा (1963),
 
इस फिल्म के लिए मास्को अन्तरराष्ट्रीय चलचित्र उत्सव में उनकोसर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री 
का पुरस्कार प्रदान किया गया था।


हस्पिटल(1962)
शिल्पी(1965)
इन्द्राणी (1958)
राजलक्षी ओ श्रीकान्त (1958)
सूर्य तोरण (1958)
उत्तर फाल्गुनि (1963)
 (हिन्दी में पुनः ममता नाम से निर्मित)


गृहदाह (1967)


फरियाद (1968)


देबी चौधुरानी (1974)


दत्ता (1976)


प्रणय पाशा (1976)


प्रिय बान्धबी (1977)


               🌻  निधन🌻
23 दिसम्बर 2013 को उन्हें श्वसन तंत्र में संक्रमण की वजह से कोलकाता के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 17 जनवरी 2014 को दिल का दौरा पड़ने से 82 वर्ष की आयु में उनकी मृत्यू हो गयी।


🌻💐🥀🌲🌸🌱⚘💮🏵🌷🔆🌻


🌻(C)आज के दिन की प्रमुख घटनाएँ🌻


1606 राजकुमार खुसरो ने अपने पिता मुगल शासक जहांगीर के खिलाफ बगावत की।
1672- फ्रांस ने नीदरलैंड के खिलाफ युद्ध की घोषणा की।
1896 - यूनान के एथेंस में पहलेआधुनिक
 ओलंपिक खेलों की शुरूआत हुई।
1909 - अमेरिकी नागरिक राबर्ट पियरी और मैथ्यू हैंसन ने पहली बार उत्तरी ध्रुव पर पहुंचने का दावा किया।
1917- प्रथम विश्व युद्ध के दौरानअमेरिका
ने जर्मनी के खिलाफ़ युद्ध की घोषणा की।W
1919- गांधी जी ने रॉलेट एक्ट कानून के खिलाफ अखिल भारतीय हड़ताल का आह्वान किया।
1924 इटली में फासिस्टों ने चुनाव मेंभारी
जीत दर्ज किया।
1942 जापानी लड़ाकू विमानों ने पहली बार भारतीय क्षेत्रों पर बमबारी की।
1955- अमेरिका नेपरमाणुपरीक्षणकिया।
1957- सोवियत संघ ने परमाणु परीक्षण किया।
1966 भारतीय तैराक मिहिर सेन ने पाक जलडमरूमध्य तैर कर पार किया।
1980-भारत की राज नीतिक पार्टी भार
-तीय जनता पार्टी की स्थापना हुई।
2009- इटली में 6.3 तीव्रता वाले भूकंप के कारण 253 लोगों की मौत हो गई।
2010-यूनिवर्सिटी ऑफ टोरंटो में कनाडा तथा अमेरिकी शोधकर्ताओं ने अपनी नयी रिपोर्ट 'शैडो इन दीक्लाउडस' में दावाकिया 
किचीन के एक जासूसी ऑपरेशन केतहत चीनी हैकरों ने विभिन्न देशों के दूतावासों सहित भारतीय रक्षा मंत्रालय के कई अति
गोपनीय दस्तावेजों में सेंध लगाया। इससे
भारत के प्रमुख मिसाइलों तथा हथियार प्रणालियों के प्रभावित होने कीआशंकाहै।
2010- इराक़ की राजधानी बगदाद के विभिन्न हिस्सों में 4 रिहाइशी इमारतों में हुए बम धमाकों में 28 लोग मारे गये और 60 से अधिक घायल हो गये।
2010- भारत के वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी और भारत दौरे पर आए अमेरिकी वित्त मंत्री टिमोथी गेथनर ने आर्थिक साझेदारी के समझौते पर हस्ताक्षर किए।
2010 -इस्लामी शिक्षण संस्था दारुल उलूम देवबंद ने एक फतवा जारी कर मुस्लिम लड़कियों का मॉडलिंग करना हराम और शरियत कानून के खिलाफ करार दिया।
🌻💐🌸💮⚘🌱🌲🥀🏵🌹🌺🌻


  🌻(D)आज के दिन जन्मे प्रमुख 
                 व्यक्तित्व 🌻


1931- सुचित्रा सेन, फिल्म अभिनेत्री 
1956- दिलीप वेंगसरकर, भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी।
🌻💐🌸💮🏵🌹🌺🌳🌱🌲🥀🌻
 
🌻आज के दिन निधन हुवे महत्वपुर्ण  
                  व्यक्तित्व 🌻


2001- चौधरी देवी लाल ,भारत के पूर्व उप प्रधानमंत्री तथा हरियाणा के पूर्व मुख्य मन्त्री
🌻🥀🌾💐🌲🌴🌱🍁🔆⚘💮🌻


🌻(F)आज के दिन/उत्सव काप नाम🌻
1.  प्रसिद्ध हिंदी एवम बंगाली फ़िल्म अभिनेत्री  
     सुचित्रा सेन का जयन्ति दिवस।
2. प्रसिद्ध भारतीय क्रिकेटर  दिलीप वेंगसरकर का     
    जन्मदिवस।
3  भारत के भूतपूर्व उपमुख्यमंत्री व हरिHयाणा के 
    पूर्व मुख्यमंत्री चौधरी देवीलाल का पुण्यतिथि दिवस
4 भारत एवम अमेरिका के मध्य आर्थिक समझौते  पर
  हुवे  हस्ताक्षर का दिवस।
5 प्रथम विश्व युद्ध के दौरानअमेरिका ने जर्मनी के        
  खिलाफ़ युद्ध की घोषणा की। अतः इसे युद्ध घोषणा। दिवस के रूपमे मनाया जाता है।


🌻💐🌹🌲🌱🌸🌸🌲🌹💐💐🌻


       आज की बात -आपके साथ" मे आज इतना ही।कल पुन:मुलाकात होगी तब तक के लिये इजाजत दिजीये।
      आज जन्म लिये  सभी  व्यक्तियोंको आज के दिन की बधाई। आज जिनका परिणय दिवस हो उनको भी हार्दिक बधाई।  बाबा महाकाल से निवेदन है की बाबा आप सभी को स्वस्थ्य,व्यस्त मस्त रखे।
💐।जय चित्रांश।💐
💐जय महाकाल,बोले सो निहाल💐
💐।जय हिंद जय भारत💐


Comments