उज्जैन पुलिस द्वारा इनामी गुंडों का एनकाउंटर

       उज्जैन। शहर में 60 हजार रुपये के इनामी गुंडे मितेश उर्फ काऊ, सोहन पटेल और कर्ण का जवासिया रोड़ उज्जैन पर पुलिस द्वारा एनकाउंटर कर दिया गया। एसपी सचिन अतुलकर व एएसपी क्राइम प्रमोद सोनकर आदि पुलिस फोर्स जिला चिकित्सालय पहुंचे।     



      प्राप्त जानकारी के अनुसार रविवार देर रात उज्जैन पुलिस अधीक्षक सचिन कुमार अतुलकर को सूचना मिली थी कि काऊ, कालू और पटेल तीनो इनामी बदमाश इंदौर से उज्जैन आ रहे है। पुलिस ने चिंतामन जवासिया के समीप जाल बिछाकर 60 हजार इनाम के तीनों बदमाशों को पकड़ने की कोशिश की। इस दौरान कुख्यात बदमाश सोहन पटेल, मितेश उर्फ काऊ और कालू सूर्यवंशी ने पुलिस पर गोलियां चला दी। पुलिस की जवाबी फायरिंग में तीनों बदमाश गंभीर रूप से घायल हो गए। बदमाशों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से उन्हें इंदौर रेफर कर दिया गया। तीनों बदमाशों पर उज्जैन शहर के अलग-अलग थानों में कई अपराधीक प्रकरण दर्ज थे। पूर्व में पुलिस ने कुछ आरोपियों को रासुका के तहत गिरफ्तार भी किया था। बदमाशों ने जेल से छूटने के बाद फिर आतंक मचाना शुरू कर दिया। यही वजह है कि उज्जैन पुलिस ने तीनों बदमाशों पर रुपये 60 हजार के इनाम की घोषणा की थी। एसपी सचिन अतुलकर के नेतृत्व में उज्जैन में पुलिस का यह दूसरा एनकाउंटर है। प्रदेश सरकार द्वारा माफियाओं के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत उज्जैन में एनकाउंटर जैसी कार्रवाई हो रही है। इस एनकाउंटर में कुछ पुलिसकर्मियों को भी मामूली चोटें आई है।




      पूर्व में भी हो चुका एक एनकाउंटर : उज्जैन में पूर्व में भी एक एनकाउंटर हो चुका है, जिसमें बदमाशों को पुलिस ने गोली मार कर गिरफ्तार किया था।


      बदमाशों में मचा हड़कंप : उज्जैन में एसएसपी सचिन अतुलकर के नेतृत्व में हुए एनकाउंटर से बदमाशों में हड़कंप मच गया है। एनकाउंटर की खबर मिलते ही अस्पताल में लोगों की भीड़ लग गई। बताया जाता है कि तीनों बदमाश सोमवार को न्यायालय में पेश होने वाले थे पुलिस को इसकी भनक पहले ही लग गई थी।




      गैंग के अन्य साथियों की तलाश : पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से कुछ हथियार भी बरामद किए हैं। आरोपियों की अस्पताल से छुट्टी होने के बाद पुलिस उनसे कड़ी पूछताछ करेगी। अब पुलिस काऊ , पटेल और कालू की गैंग के अन्य सदस्यों की भी तलाश कर रही है।