शुरू हुई देश की पहली सीएनजी बस सर्विस


      महिंद्रा कंपनी की यह सीएनजी बस दिल्ली से देहरादून के बीच चलेगी। उत्तराखंड ने इस बस सर्विस के लिए आईजीएल के साथ करार किया है। इसके तहत शुरुआती चरण में पांच सीएनजी बसों को चलाया जाएगा। इसके बाद इनकी संख्या में बढ़ोत्तरी की जाएगी।



      बस की खासियत : बस की खासियत इसका माइलेज है। दावा है कि बस एक बार रीफिल करने पर 1000 किमी से ज्यादा दूरी तय करेगी। बस में कंपोजिट इंजन का इस्तेमाल किया गया है। इसका भार मौजूदा सीएनजी सिलिंडर के मुकाबले करीब 70 फीसदी कम है। इस नए सिलिंडर में 225 से 275 किलोग्राम सीएनजी भरी जा सकेगी। अभी जो सीएनजी बसें मौजूद हैं, उनके सिलिंडर में 80 से 100 किलोग्राम तक ही सीएनजी भरी जा सकती है।


      प्रदुषण रोकने के साथ साथ फ्यूल की भी होगी बचत : यह बस न सिर्फ प्रदूषण रोकेगी, बल्कि फ्यूल पर होने वाले खर्च को भी बचाएगी। बस सर्विस के लिए महिंद्रा एंड महिंद्रा और अमेरिका की एगिलिटी सॉल्यूशन के साथ समझौता हुआ है। सुप्रीम कोर्ट की ओर से साल 2001 में ही डीजल आधारित इंटरस्टेट बसों का मुद्दा उठाया गया था। तब दिल्ली को छोड़कर बाकी राज्यों में सीएनजी की मौजूदगी न होने पर इस इंटरस्टेट बसों की एंट्री पर रोक को हटा दिया गया था।




Comments